'सुख' 'धन' से ज्यादा महंगा!
Akhand Gyan - Hindi|April 2021
हेनरी फोर्ड हर पड़ाव पर सुख को तलाशते रहे। कभी अमीरी में, कभी गरीबी में, कभी भोजन में, कभी नींद में कभी मित्रता में! पर यह 'सुख' उनके जीवन से नदारद ही रहा।

विश्व में कई उद्योगपति हुए हैं, जिन्होंने अपार धन कमाया है। इन्हीं विश्व विख्यात उद्योगपतियों में से एक थे'हेनरी फोर्ड'। वही हेनरी फोर्ड, जो गाड़ियों के उत्पादन क्षेत्र में एक क्रांति लेकर आए थे। इन्होंने फोर्ड कंपनी शुरु की, जिसकी गाड़ियाँ आज विश्व भर की सड़कों पर दौड़ती हुई मिलती हैं। कहा जाता है कि एक समय पर हेनरी फोर्ड विश्व के सबसे धनी व्यक्तियों में से एक थे।

हेनरी फोर्ड की संपत्ति का मूल्यांकन करने पर पाया गया कि वे कई बिलियन डॉलर के एकल स्वामी थे। हेनरी फोर्ड की इस तरक्की और धनबल को जान कर एक अनुमान स्वाभाविक तौर पर लगा लिया जाता है। यही कि जो व्यक्ति सभी संसाधनों से परिपूर्ण था, जिसे किसी प्रकार की कोई कमी नहीं थी, वो निश्चित ही दुनिया का सबसे सुखी और संतोषी जीव रहा होगा। परन्तु हेनरी फोर्ड की ज़िन्दगी से जुड़े कुछ किस्से ऐसे हैं, जो हमारी इस सोच को गलत साबित करते हैं। आइए उनकी जीवन-कथा और डायरी से ही ऐसे दो पन्नों पलटते हैं, जो ये सिद्ध करते हैं कि 'सुख' 'धन' से भी ज्यादा महंगा और कीमती है।

Continue reading your story on the app

Continue reading your story in the magazine

MORE STORIES FROM AKHAND GYAN - HINDIView All

एका बना वैष्णव वीर!

आपने पिछले प्रकाशित अंक (मार्च 2020) में पढ़ा था, एका शयन कक्ष में अपने गुरुदेव जनार्दन स्वामी की चरण-सेवा कर रहा था। सद्गुरु स्वामी योगनिद्रा में प्रवेश कर समाधिस्थ हो गए थे। इतने में, सेवारत एका को उस कक्ष के भीतर अलौकिक दृश्य दिखाई देने लगे। श्री कृष्ण की द्वापरकालीन अद्भुत लीलाएँ उसे अनुभूति रूप में प्रत्यक्ष होती गईं। इन दिव्यानुभूतियों के प्रभाव से एका को आभास हुआ जैसे कि एक महामानव उसकी देह में प्रवेश कर गया हो। तभी एक दरोगा कक्ष के द्वार पर आया और हाँफते-हाँफते उसने सूचना दी कि 'शत्रु सेना ने देवगढ़ पर चढ़ाई कर दी है। अतः हमारी सेना मुख्य फाटक पर जनार्दन स्वामी के नेतृत्व की प्रतीक्षा में है।' एका ने सद्गुरु स्वामी की समाधिस्थ स्थिति में विघ्न डालना उचित नहीं समझा और स्वयं उनकी युद्ध की पोशाक धारण करके मुख्य फाटक पर पहुँच गया। अब आगे...

1 min read
Akhand Gyan - Hindi
April 2021

'सुख' 'धन' से ज्यादा महंगा!

हेनरी फोर्ड हर पड़ाव पर सुख को तलाशते रहे। कभी अमीरी में, कभी गरीबी में, कभी भोजन में, कभी नींद में कभी मित्रता में! पर यह 'सुख' उनके जीवन से नदारद ही रहा।

1 min read
Akhand Gyan - Hindi
April 2021

कैसा होगा तृतीय विश्व युद्ध?

विश्व इतिहास के पन्नों में दो ऐसे युद्ध दर्ज किए जा चुके हैं, जिनके बारे में सोचकर आज भी मानवता काँप उठती है। पहला था, सन् 1914 में शुरु हुआ प्रथम विश्व युद्ध। कई मिलियन शवों पर खड़े होकर इस विश्व युद्ध ने पूरे संसार में भयंकर तबाही मचाई थी। चार वर्षों तक चले इस मौत के तांडव को आगामी सब युद्धों को खत्म कर देने वाला युद्ध माना गया था।

1 min read
Akhand Gyan - Hindi
April 2021

अपने संग चला लो, हे प्रभु!

जलतरंग- शताब्दियों पूर्व भारत में ही विकसित हुआ था यह वाद्य यंत्र। संगीत जगत का अनुपम यंत्र! विश्व के प्राचीनतम वाद्य यंत्रों में से एक। भारतीय शास्त्रीय संगीत में आज भी इसका विशेष स्थान है। इतने आधुनिक और परिष्कृत यंत्र बनने के बावजूद भी जब कभी जलतरंग से मधुर व अनूठे सुर या राग छेड़े जाते हैं, तो गज़ब का समाँ बँध जाता है। सुनने वालों के हृदय तरंगमय हो उठते हैं।

1 min read
Akhand Gyan - Hindi
April 2021

चित्रकला में भगवान नीले रंग के क्यों?

अपनी साधना को इतना प्रबल करें कि अत्यंत गहरे नील वर्ण के सहस्रार चक्र तक पहुँचकर ईश्वर को पूर्ण रूप से प्राप्त कर लें।

1 min read
Akhand Gyan - Hindi
April 2021

ठक! ठक! ठक! क्या ईश्वर है?

यदि तुम नास्तिकों के सामने ईश्वर प्रत्यक्ष भी हो जाए, तुम्हें दिखाई भी दे, सुनाई मी, तुम उसे महसूस भी कर सको, अन्य लोग उसके होने की गवाही भी दें, तो भी तुम उसे नहीं मानोगे। एक भ्रम, छलावा, धोखा कहकर नकार दोगे। फिर तुमने ईश्वर को मानने का कौन-सा पैमाना तय किया है?

1 min read
Akhand Gyan - Hindi
March 2021

आइए, शपथ लें..!

एक शिष्य के जीवन में भी सबसे अधिक महत्त्व मात्र एक ही पहलू का हैवह हर साँस में गुरु की ओर उन्मुख हो। भूल से भी बागियों की ओर रुख करके गुरु से बेमुख न हो जाए। क्याकि गुरु से बेमुख होने का अर्थ है-शिष्यत्व का दागदार हो जाना! शिष्यत्व की हार हो जाना!

1 min read
Akhand Gyan - Hindi
March 2021

अंतिम इच्छा

भारत की धरा को समय-समय पर महापुरुषों, ऋषि-मुनियों व सद्गुरुओं के पावन चरणों की रज मिली है। आइए, आज उन्हीं में से एक महान तपस्वी महर्षि दधीची के त्यागमय, भक्तिमय और कल्याणकारी चरित्र को जानें।

1 min read
Akhand Gyan - Hindi
March 2021

भगवान महावीर की मानव-निर्माण कला!

मूर्तिकार ही अनगढ़ पत्थर को तराशकर उसमें से प्रतिमा को प्रकट कर सकता है। ठीक ऐसे ही, हर मनुष्य में प्रकाश स्वरूप परमात्मा विद्यमान है। पर उसे प्रकट करने के लिए परम कलाकार की आवश्यकता होती है। हर युग में इस कला को पूर्णता दी है, तत्समय के सद्गुरुओं ने!

1 min read
Akhand Gyan - Hindi
March 2021

ठंडी बयार

सर्दियों में भले ही आप थोड़े सुस्त हो गए हों, परन्तु हम आपके लिए रेपिड फायर (जल्दी-जल्दी पूछे जाने वाले) प्रश्न लेकर आए हैं। तो तैयार हो जाइए, निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर देने के लिए। उत्तर 'हाँ' या 'न' में दें।

1 min read
Akhand Gyan - Hindi
February 2021
RELATED STORIES

Coming Out Of The Chemical Closet

Neuropsychopharmacologist Carl Hart says most of what the public knows about drugs is both scary and wrong.

10+ mins read
Reason magazine
May 2021

Rules for Being the Age You Are

Whether you’re 20 or 120, the author’s surprise-filled guide can help most anyone live happily ever

4 mins read
Reader's Digest US
March 2021

Take A Shortcut To Happiness

Feel better in a matter of minutes with these all-natural, get-happy quick tricks with guaranteed results

2 mins read
Essentials
April 2020

Don't Waste Your Suffering

What knocks us down can also lead us back stronger than ever

4 mins read
The Good Life
March 2020

9 Tricks To Improve Your Life

9 tricks to improve your life*

2 mins read
Reader's Digest US
March 2020

Creating Your Life

As a Therapist, Educator and Positive Living Expert, Diane has dedicated her career to helping people turn their lives around and is now on a mission to help them develop a sustainable positive attitude that can actually turn one into an optimist, literally.

2 mins read
Diversity Rules Magazine
January 2020

Follow The Path Of Gratitude

"In ordinary life, we hardly realize that we receive a great deal more than we give, and that it is only with gratitude that life becomes rich."_Dietrich Bonhoeffer

3 mins read
Transformation Magazine
December 2019

The Joy Of Letters

I wish that joy could fill every moment of Jessie’s life, but children, like their parents, must overcome diffiulties. Two major challenges Jessie has faced in her young life come to mind.

3 mins read
Carolina Parent
December 2019

Be Your Best Yet! Start Fresh In 2020

Your “someday” is here. It’s time to make your vision of a happier, healthier future a reality.

10+ mins read
Arthritis Today
Winter 2019-2020

*This* Is How To Figure Out - The Real You

We all love new beginnings, but a head-to-toe transformation starting jan. 1 won’t help you discover who you really are. Forget the quest for an all-new you—this year is all about the *true* you. Starting now...

5 mins read
Girls' Life magazine
December 2019/January 2020