Sadhana Path Magazine - January 2020Add to Favorites

Sadhana Path Magazine - January 2020Add to Favorites

Go Unlimited with Magzter GOLD

Read Sadhana Path along with 8,500+ other magazines & newspapers with just one subscription  View catalog

1 Month $9.99

1 Year$99.99 $49.99

$4/month

Save 50% Hurry, Offer Ends in 11 Days
(OR)

Subscribe only to Sadhana Path

1 Year $4.99

Save 58%

Buy this issue $0.99

Gift Sadhana Path

7-Day No Questions Asked Refund7-Day No Questions
Asked Refund Policy

 ⓘ

Digital Subscription.Instant Access.

Digital Subscription
Instant Access

Verified Secure Payment

Verified Secure
Payment

In this issue

धर्म - अध्यात्म,आयुर्वेद - स्वास्थ्य एवं ज्योतिष - संस्कृति की मासिक पत्रिका साधना पथ का जनवरी अंक शीत ऋतु विशेषांक है जिसमें आप पढ़ सकते हैं -
स्वास्थ्य
सर्दियों में खाएं साग, पाएं सेहत और स्वाद
सर्दियों में चिंता कैसी गुड़ है न.
सर्दी खांसी में भी अजवाइन है फायदेमंद
मेवों में छिपा है सेहत का राज
मौसमी एलर्जी को कहें अलविदा
सर्दियों में धूप संवारे रूप
फटी एड़ियों से निजात दिलाए कुछ घरेलु उपाय
सर्दियों में गर्मियों का एहसास दिलाते पकवान
ऊनी कपड़ों का हो रख-रखाव तो जरा संभलकर
सर्दियों में भी रहेगी दमकती त्वचा
सेहत के लिए सर्वोत्तम है शीत ऋतु
कुदरत की नियामत है 'आंवला'
हरा चना हरे मटर क्या है इनका सेहत पर असर
क्यों नहीं बचते बाल?
सर्दियों में कम नहीं है पेय पदार्थ के विकल्प
धर्म-अध्यात्म
इस माह के व्रत-त्योहार
भारतीय संस्कृति के कई रंग दिखाती मकर संक्रांति
झूमकर आयी लोहड़ी
प्रेम, प्रकृति और मां सरस्वती
संत और सिपाही गुरु गोबिंद सिंह
पोंगल: एक कृषि उत्सव
गुरुवाणी
धर्म और ईश्वर
रूढ़ियों से बाहर निकलें
जागरूक बनो कर्म करो
एकांत ही ईश्वरनाभूति है
हर चीज नियम से होनी चाहिए
सद्गुरु के सामान कोई नहीं
तार्किक बुद्धि से परे
जीवन में सुख के साथ दु:ख भी है जरूरी
ज्योतिष
वार्षिक भविष्यफल 2020
जानें 2020 के विवाह के शुभ मुहूर्त
तुम विधायक धर्म को अपनाओ
पंचांग
अन्य
...कि नववर्ष हो जाए खास
सच्चे सादे कर्मठ समाजसेवी को समर्पित श्री ईश्वर प्रकाश गुप्ता स्मृति वन
धर्म और संस्कृति का उन्नायक बना एक संन्यासी
स्वतंत्रता संग्राम और सविंधान और जनवरी का महत्त्व
मेरे सपनों का भारत
प्रकृति के बैंक में करें निवेश

धर्म और ईश्वर

स्वामी विवेकानन्द-यदि ईश्वर है तो हमें उसे देखना चाहिए, यदि आत्मा है तो हमें उसकी प्रत्यक्ष अनुभूति कर लेनी चाहिए, अन्यथा उन पर विश्वास न करना ही अच्छा है। टोंगी बनने की अपेक्षा स्पष्ट रूप से नास्तिक बनना अधिक अच्छा है।

धर्म और ईश्वर

1 min

सर्दियों में खाएं साग, पाएं सेहत और स्वाद

सर्दियों के मौसम में हरी पत्तेदार सब्जियां, विशेषकर इस ऋतु में होने वाले विभिन्न साग सेहत और स्वाद दोनों से भरपूर होते हैं । साग कई पोषक तत्त्वों का खजाना है । इनमें कैलोरी बहुत कम होती है और ये ठंड में हमारा रक्त संचार भी सामान्य रखते हैं । ये साग हमारी सेहत के लिए किस प्रकार फायेदमंद हैं, जानें हमारे लेख से ।

सर्दियों में खाएं साग, पाएं सेहत और स्वाद

1 min

सर्दियों में चिंता कैसी, गुड़ है न...

सर्दियों के मौसम में गुड़ कई बीमारियों से बचा सकता है । गुड़ की तासीर गर्म होती है, इस कारण ठंड के मौसम में सर्दी जुकाम, कफ से राहत प्रदान करता है और यह हर उम्र के लोगों के लिए फायदेमंद है । डालते हैं एक नजर ।

सर्दियों में चिंता कैसी, गुड़ है न...

1 min

सर्दी-खांसी में भी अजवाइन है फायदेमंद

अजवाइन का इस्तेमाल तो लगभग हर घर में होता है, इसके छोटे छोटे दाने केवल पेट की ही नहीं बल्कि पूरे शरीर की बड़ी से बड़ी समस्या भी हल कर सकते हैं ।

सर्दी-खांसी में भी अजवाइन है फायदेमंद

1 min

मेवों में छिपा है सेहत का राज

सर्दियों के आते ही खांसी, जुकाम, बुखार जैसी छोटी-मोटी बीमारियां परेशान कर देती हैं। महज गरम कपड़े पहनना और चाय-कॉफी पीना ही पर्याप्त नहीं होता। सर्दियों में सूखे मेवे आपको फ्लू, सर्दी, कफ आदि कई रोगों से बचाते हैं और रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित करते हैं। जानें सेहत से जुड़े इनके लाभ इस लेख से।

मेवों में छिपा है सेहत का राज

1 min

मौसमी एलर्जी को कहें अलविदा

सर्दियों के मौसम में कई लोग एलर्जी के शिकार हो जाते हैं । सर्द हवाओं के कारण कई बार छींक, बंद नाक की समस्या होने लगती है । ऐसे में कुछ सावधानियां और अपना खान-पान बदलकर आप एलर्जी से बच सकते हैं ।

मौसमी एलर्जी को कहें अलविदा

1 min

सर्दियों में सेहत और रूप संवारे धूप

सूर्य की ऊर्जा हमारे जीवन के विभिन्न रोगों को झट से दूर कर सकती है । धूप हमारे शरीर में गर्माहट के साथ और भी कई सकारात्मक बदलाव लाती है ।

सर्दियों में सेहत और रूप संवारे धूप

1 min

फटी एड़ियों से निजात दिलाए कुछ घरेलू उपाय

सर्दियों की सूखी हवा, अनियमित खानपान, विटामिन, कैल्सियम और आयरन की कमी से अकसर पैरों की एड़ियां फट जाती हैं । ऐसे में अगर सही से देखभाल नहीं की जाए तो, धीरे धीरे एड़ियों में दरारें आने लगती हैं । यदि आप भी इस समस्या से ग्रस्त हैं तो जानें इस लेख से इनकी देख-भाल के उपाय ।

फटी एड़ियों से निजात दिलाए कुछ घरेलू उपाय

1 min

सर्दियों में गर्मी का एहसास देते पकवान

सर्दियां दस्तक दे चुकी हैं और इस मौसम में बस यही लगता है कि कुछ गर्म-गर्म मिल जाए खाने और पीने के लिए । इसलिए हमने सोचा कि क्यों न आज उन आहारों की एक लिस्ट आपके साथ साझा की जाए, जो सर्दियों में देते हैं गर्मी का एहसास ।

सर्दियों में गर्मी का एहसास देते पकवान

1 min

ऊनी कपड़ों का हो रखरखांव, तो जरा संभलकर

सर्दियों का मौसम आता नहीं कि स्वेटर, शॉल और बाकी ऊनी कपड़े धीरे-धीरे हमारे सूटकेस से बाहर आने लगते हैं । ऊनी कपड़े महंगे हो या सस्ते उनका रखररवाव बेहद जरूरी है । तभी तो वे सालोंसाल हमें ठंड से बचा सकते हैं ।

ऊनी कपड़ों का हो रखरखांव, तो जरा संभलकर

1 min

सर्दियों में भी रहेगी दमकती त्वचा

सर्द हवाओं की मार सबसे ज्यादा आपकी चेहरे की त्वचा पर ही पड़ती है । ऐसे में त्वचा का रुखा होना, खिंचाव होना समस्या बन जाती है । लेकिन आपके पास इस समस्या का समाधान भी है । कैसे? जानें इस लेख से ।

सर्दियों में भी रहेगी दमकती त्वचा

1 min

सेहत के लिए सर्वोत्तम है शीत ऋतु

शीत ऋतु में जठराग्नि बहुत प्रबल होती है। जो भोजन या स्वाद्य पदार्थ अन्य ऋतुओं में जल्दी नहीं पचते, वे सभी शीतकाल में बड़ी आसानी से पच जाते हैंऔर शरीर को शक्ति प्रदान करते हैं। शीत ऋतु में वे कौन-कौन से रवाद्य पदार्थ हैं, जो शरीर को शक्ति प्रदान करने के साथ-साथ शरीर की रोग प्रतिकारक क्षमता भी बढ़ाते हैं, जानें इस लेख से।

सेहत के लिए सर्वोत्तम है शीत ऋतु

1 min

कुदरत की नियामत है 'आंवला'

सर्दियों के मौसम में जुकाम, खांसी, जोड़ों में दर्द जैसी कई समस्याओं से जूझना पड़ता है । शरीर कमजोर होने लगता है । ऐसे में अगर आंवले का सेवन करते हैं तो आपके शरीर की प्रतिरोधी क्षमता बढ़ती है और आप इन छोटी-मोटी बीमारियों से आसानी से पार पा सकते हैं । जानें इस लेख से ।

कुदरत की नियामत है 'आंवला'

1 min

क्यों नहीं बचते बाल?

सर्दियों का मौसम त्वचा के साथ-साथ बालों की भी प्राकृतिक खूबसूरती छीन लेता है। यदि आप भी बालों की समस्याओं से परेशान हैं तो हम आपके लिए कुछ आसान सुझाव लेकर आए हैं।

क्यों नहीं बचते बाल?

1 min

सर्दियों में भी कम नहीं हैं पेय पदार्थों के विकल्प

प्रकृति ने हर मौसम के लिए अलग आहार बनाया है, ठीक उसी प्रकार प्रकृति ने मौसम के हिसाब से अलग-अलग पेय पदार्थ भी निर्धारित किए हैं जिनका सेवन आप केवल या तो गर्मी में या फिर सर्दी में कर सकते हैं ।

सर्दियों में भी कम नहीं हैं पेय पदार्थों के विकल्प

1 min

भारतीय संस्कृति के कई रंग दिखती मकर संक्रांति

सूर्य का मकर राशि में प्रवेश मकर संक्रांति के रूप में पूरे भारत में मनाया जाता है। इस दिन स्नान, दान और सूर्य की उपासना का विशेष महत्त्व है। सूर्य ऊर्जा और ओजस्विता का प्रतीक माना जाता है।

भारतीय संस्कृति के कई रंग दिखती मकर संक्रांति

1 min

'संत और सिपाही' गुरु गोबिंद सिंह

सिखों के दसवें एवं अंतिम गुरु गुरु गोबिंद सिंह की जयंती हर्षोल्लास के साथ पूरे भारत में मनाई जाती है । बिहार के पटना साहिब में जन्में गुरु गोबिंद सिंह की स्मृति में यहां एक भव्य गुरुद्वारा भी स्थापित है, जहां सभी धर्मों के लोग दर्शन के लिए आते हैं ।

'संत और सिपाही' गुरु गोबिंद सिंह

1 min

पोंगल: एक कृषि उत्सव

धर्म में परमेश्वर से लेकर प्रकृति और प्रकृति से । लेकर पशुओं तक को पूजनीय माना जाता है और इसी संस्कृति एवं परंपरा का एक रूप है प्रसिद्ध उत्सव पोंगल ।

पोंगल: एक कृषि उत्सव

1 min

स्वतंत्रता संग्राम और संविधान में जनवरी का महत्त्व

जनवरी का महीना, नए साल की शुरूआत नई आशा, नई ऊर्जा के साथ जिंदगी में एक और पड़ाव की ओर सफर की शुरूआत । लेकिन इस अग्रसर होते जीवन में हमें अपने अतीत को नहीं भुलाना चाहिए । यहां अतीत का सन्दर्भ केवल व्यक्तिगत नहीं बल्कि राष्ट्रीय तौर पर, बतौर एक भारतवासी है। और यही जनवरी का महीना हमारे देश के इतिहास में कई उपलब्धियों का जन्मदाता है।

स्वतंत्रता संग्राम और संविधान में जनवरी का महत्त्व

1 min

जागरुक बनो, कर्म करो

आज दो तरह के योग किए जा रहे हैं-एक क्षीण होने के लिए | दूसरा तीव्र होने के लिए । सामाजिक स्तर पर तीव्र बनाने वाले को अधिक स्वीकार किया जाता है, मगर इससे कोई फर्क नहीं पड़ता । कोई तुम्हारे बारे में क्या सोचता है

जागरुक बनो, कर्म करो

1 min

एकांत ही ईश्वरानुभूति का मूल्य है

आपके लिए यह मेरे हृदय का संदेश है । इस पर अच्छी तरह से ध्यान दें । इसे पढ़ें और आंतरिक रूप से आत्मसात कर लें, और उन सत्यों को अभ्यास में लाएं जिन्हें ईश्वर ने मेरे द्वारा व्यक्त किया है।

एकांत ही ईश्वरानुभूति का मूल्य है

1 min

सद्गुरु के समान कोई नहीं

गुरु की वाणी से, गरु के आचरण से भगवान ही तो बोलता है, भगवान ही तो चलता है। ऐसा कोई संत मिल जाए तो फिर प्रभु मिलें या न मिले, वो चिंता छोड़ दो।

सद्गुरु के समान कोई नहीं

1 min

जीवन में सुख के साथ दुःख भी जरूरी

हम इतने बेईमान लोग हैं कि हमें आना तो याद रहता है लेकिन जाना भूल जाते हैं । दिन का निकलना याद रहा पर सूरज का ढलना भूल गए ।' मौत को भूलिए मत और जो मिला है उसे पाकर फूलिए मत' मेरा कहा मानो तो बस इतना ही याद रखना है' जो चला गया उसके लिए मत सोचो ।

जीवन में सुख के साथ दुःख भी जरूरी

1 min

गांधी के सपनों का भारत

30 जनवरी, 1948 को सत्य एवं अहिंसा के पुजारी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी । किंतु उन्होंने भारत के भविष्य के लिए क्या सोचा था, जानें उनकी पुस्तक' मेरे सपनों का भारत के एक अंश से ।

गांधी के सपनों का भारत

1 min

प्रकृति के बैंक में करें निवेश

हम जो कुछ भी विकास या समृद्धि जुटाने के लिए करते हैं, उसकी कीमत प्रकृति को चुकानी पड़ती है। हम आज जिसे वैभव मान रहे हैं, वे प्रकृति से लिया हुआ सीधा बड़ा कर्ज है, जिसे हम सदियों से चुकाने से कतरा रहे हैं । जीवन के लिए जल, वायु और पृथ्वी के तत्त्व ही सबसे महत्त्वपूर्ण हैं । समस्त प्राणियों का पहला कर्तव्य व धर्म हवा, पानी मिट्टी, अग्नि और सूर्य के प्रति है, क्योंकि पूरे भूमंडल की सभी गतिविधियां इन्हीं के चारों तरफ घूमती हैं ।

प्रकृति के बैंक में करें निवेश

1 min

तुम विधायक धर्म को अपनाओ

नकारात्मक धर्म का अर्थ होता है, संसार गलत है, इसे छोड़ो । विधायक धर्म का अर्थ होता है, परमात्मा सही है, उसे पाओ । नकारात्मक धर्म का अर्थ होता है, यह छोड़ो, वह छोड़ो, यह त्यागो, वह त्यागो । विधायक धर्म का अर्थ होता है, हाथ फैलाओ, हृदय खोलो, रोशनी से भरो, परमात्मा का धन बरस रहा है, तुम वंचित न रह जाओ, द्वार दरवाजा खोलो, उसे भीतर आने दो, अतिथि द्वार पर दस्तक दे रहा है ।

तुम विधायक धर्म को अपनाओ

1 min

Read all stories from Sadhana Path

Sadhana Path Magazine Description:

PublisherDiamond Magazines Pvt. Ltd

CategoryHealth

LanguageHindi

FrequencyMonthly

Sadhna Path is a health and wellness magazine which also covers spirituality and ayurveda in collaboration with Sadhna Channel. Sadhna Path is an endeavour taken under the aegis of Diamond magazines, to make discerning and callous people stop aping the West blindly and realise their country's worth. It is a monthly Hindi transformative magazine being published for the last eight years, covering religion, astrology, spirituality, vaastu and Feng Shui. It is a complete magazine for your mind, body and soul.

  • cancel anytimeCancel Anytime [ No Commitments ]
  • digital onlyDigital Only
MAGZTER IN THE PRESS:View All