Akhand Gyan - Hindi Magazine - October 2020Add to Favorites

Akhand Gyan - Hindi Magazine - October 2020Add to Favorites

Go Unlimited with Magzter GOLD

Read Akhand Gyan - Hindi along with 9,000+ other magazines & newspapers with just one subscription  View catalog

1 Month $9.99

1 Year$99.99

$8/month

(OR)

Subscribe only to Akhand Gyan - Hindi

Subscription plans are currently unavailable for this magazine. If you are a Magzter GOLD user, you can read all the back issues with your subscription. If you are not a Magzter GOLD user, you can purchase the back issues and read them.

Gift Akhand Gyan - Hindi

In this issue

Akhand Gyan Hindi October 2020

त्रिपुण्ड- ललाट की सुसज्जा मात्र नहीं!

प्रिय पाठकगणों! आपने कई बार आसन पर विराजमान गुरुदेव श्री आशुतोष महाराज जी के भाल पर त्रिपुण्ड सुशोभित देखा होगा।

त्रिपुण्ड- ललाट की सुसज्जा मात्र नहीं!

1 min

'साधना' और 'सत्संग' का विज्ञान

ब्रह्मज्ञान का अनुभव करने पर हमें विज्ञान को भी अध्यात्म के चश्मे से देखना आ जाता है। बड़ी सहजता से हम रटने वाले सिद्धांतों में छिपे हुए गूढ़ अर्थ समझने लगते हैं।

'साधना' और 'सत्संग' का विज्ञान

1 min

भारतीय नृत्य व नाट्य कला

कई युग बीत गए... और आज भी समय-चक्र अपनी गति से घूमता हुआ नए युग की संरचना करता जा रहा है। किन्तु आगे आने वाली संतानें कहीं अपने पूर्वजों की भव्यता व दिव्यता को भूल न जाएँ, इसके लिए अत्यन्त आवश्यक है इनको आपस में बाँधे रखना। इन युगों को एक माला में पिरोए रखने का दायित्व मुझ 'कला' को भी सौंपा गया है। विभिन्न देशों के विभिन्न कालों की संस्कृति को समेटे हुए हूँ मैं 'कला'। और आज आपके समक्ष उस देश का गुणगान करने आई हूँ, जिसने मुझे अत्यंत सम्मान दिया। केवल सम्मान ही नहीं, पावनता प्रदान कर पूर्ण भी बनाया। यहाँ आकर ही मैं माध्यम बन सकी भगवान की पूजा-अर्चना की। अतः मैं सहस्रों बार नमन करती हूँ 'भारत-भूमि' को और गर्व से वर्णन करती हूँ यहाँ परिपोषित हुए मेरे आयाम'नृत्य-नाट्य कला' का!

भारतीय नृत्य व नाट्य कला

1 min

आपका निर्णय कैसा होना चाहिए?

कॉपोरेट जगत में बहुत से लोगों ने अपनी किस्मत आज़माई है। ऐसी बहुत सी हस्तियाँ हुईं, जिन्होंने सिफर से सफर शुरु किया और सफलता के ऊँचे शिखर तक जा पहुँची।

आपका निर्णय कैसा होना चाहिए?

1 min

Read all stories from Akhand Gyan - Hindi

Akhand Gyan - Hindi Magazine Description:

PublisherDivya Jyoti Foundation

CategoryReligious & Spiritual

LanguageHindi

FrequencyMonthly

Akhand Gyan is a monthly spiritual magazine of Divya Jyoti Jagrati Sansthan. With a new rainbow collection every month, it encapsulates more than 60 versatile shades of write-ups, such as: Corporate Spirituality, Personality Bytes, Healing Herbs, Vedic-o-logy, Grooming Relationships, Self-Analysis Zone, Kindergarten, and many more. It provides deep insight into the solutions of problems prevailing in life and society today, with a comprehensive outlook from spiritual, scientific and philosophical perspectives. Akhand Gyan is available in three languages: English, Hindi and Punjabi, all with unique and inspirational contents.

  • cancel anytimeCancel Anytime [ No Commitments ]
  • digital onlyDigital Only
MAGZTER IN THE PRESS:View All