आल राउंडर हैं डाक्टर अनीता सहगल 'वसुंधरा'
Grihshobha - Hindi|February First 2021
500 से अधिक पेटिंग्स, 35 से अधिक डिगरियां, 1000 से अधिक कार्यक्रमों का संचालन करने तथा 1000 से अधिक सम्मान हासिल करने वाली डाक्टर अनीता सहगल 'वसुंधरा' को ऑल राउंडर प्रतिभा माना जाता है...

ज़िन्दगी एक फलसफा है, इस की तह तक पहुंच पाना हर किसी के बस की बात नहीं होती है.यहां तक वही पहुंच पाते हैं, जिन में मेहनत करने का जनून होता है. कला, शिक्षा, अभिनय, साहित्य, समाजसेवा और उद्घोषणा के क्षेत्र में एकसमान पकड़ रखने वाली डाक्टर अनीता सहगल 'वसुंधरा' एक ऐसा ही नाम है. अनीता सहगल ने कला के क्षेत्र में अपनी पहचान बनाते हुए 500 से अधिक वेस्ट मैटीरियल से पेंटिंग्स बनाईं. इन की पेंटिंग प्रदर्शनियां लग चुकी हैं. उत्तर प्रदेश के राज्यपाल और मुख्यमंत्री इन की सराहना कर चुके हैं. पेंटिंग्स के साथसाथ अनीता सहगल रंगोली, कलश सज्जा, मेहंदी, थाल डैकोरेशन, मंच सज्जा, कुकिंग, बागबानी, इंटीरियर डैकोरेशन, कढ़ाई, बुनाई, ज्वैलरी डिजाइनिंग और सौफ्ट टौएज मेकिंग जैसे कई हुनर में माहिर हैं.

शिक्षा के क्षेत्र में कमाया नाम

शिक्षा के क्षेत्र में अनीता सहगल ने बनारस हिंदू विश्वविद्यालय, वाराणसी से एमएससी (औनर्स) गणित में प्रथम स्थान प्राप्त किया. इस के बाद अनीता का पढ़ाई का सिलसिला चलता गया और आज भी अनवरत चल रहा है. उन्होंने लखनऊ विश्वविद्यालय से एमएड की डिगरी प्रथम श्रेणी में प्राप्त की. इस के साथ ही उन्होंने मास्टर इन जर्नलिज्म ऐंड मास कम्युनिकेशन, इलैक्ट्रोनिक मीडिया, फिल्म प्रोडक्शन, फोटोग्राफी, एमएसडब्ल्यू सहित लगभग 35 से अधिक डिगरियां और डिप्लोमे अलगअलग विश्वविद्यालयों से हासिल किए हैं. अनीता सहगल उत्तर प्रदेश की पहली महिला होंगी, जिन्होंने शिक्षा के क्षेत्र में इतनी अधिक डिगरियां हासिल की हैं.

समाजसेवा बनी पहचान

Continue reading your story on the app

Continue reading your story in the magazine

MORE STORIES FROM GRIHSHOBHA - HINDIView All

ममता बनर्जी से दीदी तक का सफर

राजनीति में जहां आज रूतबा और पैसा है, वहीं ममता की सादगी ही उन की पहचान है. ममता से दीदी और फिर मुख्यमंत्री बनने का उन का सफर बेहद रोचक है...

1 min read
Grihshobha - Hindi
April First 2021

शादी तब तक नहीं जब तक कमाऊ नहीं

लड़कियों को भी पढ़लिख कर कमाऊ बनने की छूट देना हर मां-बाप के लिए क्यों जरूरी है हम आप को बताते हैं...

1 min read
Grihshobha - Hindi
April First 2021

त्वचा को दें फूलों सा निखार

शरीर की त्वचा को कुदरती चमक देना चाहती हैं, तो ये ब्यूटी टिप्स आजमा कर देखें...

1 min read
Grihshobha - Hindi
April First 2021

इम्यूनिटी के साथ ऐसे बढ़ाएं ब्यूटी

अगर गरमियों में भी खुद की फिटनैस से दूसरों की तारीफ बटोरना चाहती हैं, तो यह जानकारी आप के लिए ही है...

1 min read
Grihshobha - Hindi
April First 2021

हिंदी फिल्म से मेरी एक बड़ी पहचान बनेगी सयानी दत्ता

बंगला फिल्मों में शोहरत बटोरने वाली सयानी की चर्चा बौलीवुड की उन की पहली ही फिल्म से आजकल क्यों हो रही है, जानिए खुद उन्हीं से...

1 min read
Grihshobha - Hindi
April First 2021

ब्रैस्ट पंप अब मुश्किलें हुईं आसान

ब्रैस्ट पंप का सही उपयोग कैसे करें, जरूर जानिए...

1 min read
Grihshobha - Hindi
March Second 2021

ओटीटी पर महिला प्रधान फिल्मों का बोलबाला

पुरुषप्रधान इंडस्ट्री में महिलाप्रधान फिल्मों को प्राथमिकता क्यों मिल रही है, जानना नहीं चाहेंगी...

1 min read
Grihshobha - Hindi
March Second 2021

औरतों की हालत हर जगह एक सी है आहाना कुमरा

फिल्मों में बोल्डनेस की वजह से चर्चा में रहीं अहाना कुमरा ने बातचीत के दौरान कई बातों का खुलासा किया, जिन्हें जान कर आप भी चौंक जाएंगे...

1 min read
Grihshobha - Hindi
March Second 2021

नवजात की त्वचा का रखें खास खयाल

शिशु की नाजुक त्वचा की सही देखभाल करने के ये तरीके आप भी जानें...

1 min read
Grihshobha - Hindi
March Second 2021

साइकिल चलाएं सेहत पाएं

रोजाना कुछ देर साइकिल चलाने के इतने फायदे जान कर आप को हैरानी होगी...

1 min read
Grihshobha - Hindi
March Second 2021