मुंबई का ऑक्सीजन मैन
Gambhir Samachar|May 01, 2021
देश में कोरोना की दूसरी लहर के दौरान अस्पताल में बेड से लेकर ऑक्सीजन तक की कमी के चलते लोगों की जान जा रही है. ऐसे में मुंबई के मलाड स्थित मालवणी के 32 वर्षीय शाहनवाज शेख कुछ जिंदगियाँ बचाने के लिए मैदान में हैं.पैसों की कमी हुई, तो उन्होंने अपनी महंगी एसयूवी कार बेच दी और ऑक्सीजन सिलेंडर खरीद कर लोगों को मुफ्त ऑक्सीजन देना शुरू कर दिया. सिलेंडर कम पड़े, तो अपनी सोने की चेन के साथ कुछ और जरूरी चीजें बेच दी. शाहनवाज शेख ने बताया, 'ऑक्सीजन की कमी से लोगों की जान जा रही है. ऐसे में हमारा प्रयास है कि जितना संभव हो, हम लोगों तक मुफ्त ऑक्सीजन पहुँचाएँ और लोगों की जान बचाएँ. इसके लिए हमने अपनी एसयूवी कार सहित कुछ कीमती सामान बेच दिया.'
गंभीर समाचार ब्यूरो

शाहनवाज से ऑक्सीजन सिलेंडर ले चुके गणेश त्रिवेदी कहते हैं, 'इस महामारी के समय में शाहनवाज भाई जो कर रहे हैं, वो सराहनीय है. बहुत सारे ट्रस्ट नाम के हैं, लेकिन असल में शाहनवाज भाई लोगों की सेवा कर रहे हैं और बिना किसी डॉक्यूमेंट या सिक्योरिटी डिपाजिट के वो सिलेंडर दे रहे हैं.' दरअसल, शाहनवाज ने कोरोना पीड़ितों की मदद पिछले साल ही शुरू कर दी थी, जब कोरोना की पहली लहर देश में पहुंची थी. अचानक सब कुछ बंद होने के बाद रोज कमाने खाने वालों के सामने दो वक्त की रोटी जुटाना मुश्किल हो गया था. मुंबई के मलाड स्थित मालवणी में ज्यादातर गरीब लोग झोपड़पट्टियों में रहते हैं. घरों की मरम्मत और इंटीरियर डिजाइनिंग का काम करने वाले शाहनवाज ने जब मालवणी में लोगों को परेशान देखा, तब अपनी जमा कमाई से पैसे निकाले और गरीबों के घरों तक राशन पहुँचाने का काम शुरू किया. प्रवासी मजदूर, जो गाँव जाने के लिए जद्दोजहद कर रहे थे, उन्हें खाना खिलाया. शाहनवाज कहते हैं, जब पहली बार लॉकडाउन लगा, तब मालवणी इलाके में रोज कमाने खाने वालों के लिए रोजी रोटी का रास्ता बंद हो गया था. हमारे पास जो भी पैसे थे उनसे लोगों की मदद करनी शुरू की. राशन देना शुरू किया. इसी बीच मालवणी के एक मैदान में प्रवासी मजदूरों को बैठे देखा. उन दिनों मजदूर अपने गाँव जाने के लिए संघर्ष कर रहे थे. उन्हें रजिस्ट्रेशन कराना पड़ता था और इस प्रक्रिया में वो खुले आसमान के नीचे अपनी औरतों और बच्चों के साथ गर्मी में बैठ कर भूखे प्यासे इंतजार करते थे. उस समय मुझे बहुत तकलीफ हुई और हमने उन मजदूरों के लिए नाश्ते और खाने का प्रबंध किया. उसी दौर में उनके दोस्त अब्बास रिजवी की 27 वर्षीय बहन आसमां बानो माँ बनने वाली थी. लेकिन मुंबई से सटे मुंब्रा में उनकी तबीयत खराब हुई और साँस लेने में तकलीफ शुरू हुई और अस्पताल के चक्कर लगाते लगाते आसमां ने मुंब्रा स्थित कलसेकर अस्पताल के बाहर दम तोड़ दिया.

Continue reading your story on the app

Continue reading your story in the magazine

MORE STORIES FROM GAMBHIR SAMACHARView All

भारत में क्यों सफल नहीं होते अलक़ायदा जैसे संगठन?

भारत के बारे में यह कहा जाता रहा है कि यह दुनिया का एक ऐसा मुल्क है जहां दुनिया भर से लोग आए, अपने चिंतन साथ लाए, साथ ही वे अपने देवता को भी लेकर आए. जहां से वे आए थे, आज वहां उनका चिंतन और देवता दोनों खत्म हो चुके हैं, कोई नाम लेने वाला नहीं है लेकिन भारत में वह जिंदा है. भारत में जब इस्लाम आया तो भारत की जनता ने उसका भरपूर स्वागत किया. इस्लामी देश में कोई महिला शासन कर सकती है, ऐसा उदाहरण नहीं के बराबर मिलता है लेकिन भारत में रजिया सुल्तान ने न केवल दिल्ली पर शासन किया अपितु उसका शासन पूरे सल्तनत काल का सबसे बढ़िया शासन माना जाता है.

1 min read
Gambhir Samachar
June 1, 2021

ब्लैक फंगस संक्रमण

आंखों से ब्रेन तक तेजी से फैल रहा है

1 min read
Gambhir Samachar
June 1, 2021

देश के खिलाफ एक बड़ा षड्यंत्र?

कांग्रेस सत्ता में रहते हुए सत्ता में बने रहने के लिए और सत्ता से बाहर होने पर सत्ता में वापसी के लिए हमेशा से ही षड्यंत्र करती आयी हैइस षड्यंत्र को कांग्रेस पूरी ईमानदारी के साथ एक लिखित पुस्तिका का रूप देती है-जिसे बोलचाल की भाषा में टूलकिट कहा जाता है.

1 min read
Gambhir Samachar
June 1, 2021

भारत-चीन व्यापार की शर्ते बेहतर होनी चाहिए

व्यापार के शास्त्रीय सिद्धांत यह मानते हैं कि देशों को ऐसे उत्पादों के निर्माण में विशेषज्ञता हासिल करनी चाहिए, जिनमें उन्हें तुलनात्मक (लागत) लाभ हो और मांग को पूरा करने, खपत और कल्याण में सुधार के लिए अन्य उत्पादों की खरीद करना चाहिए.

1 min read
Gambhir Samachar
June 1, 2021

कोरोना वैक्सीन लेने में अब भी किन्तु-परन्तु क्यों?

कोरोना की काट वैक्सीन को लेकर अब भी देश में बहुत से खास और आम लोगों में डर का भाव दिखता है. वे इसे लगवाने से बच रहे हैं. आप यह भी कह सकते हैं कि उनकी वैक्सीन लगवाने में कोई दिलचस्पी ही नहीं है. इस तरह तो देश में कोरोना को मात देना कठिन होगा.

1 min read
Gambhir Samachar
June 1, 2021

अनूठा उदाहरण है इजराइल

इस दुनिया में मात्र दो ही देश धर्म के नाम पर अलग हुए हैं. या यूं कहे, धर्म के नाम पर नए बने हैं, वे हैं पाकिस्तान और इजरायल. दोनों के बीच महज कुछ ही महीनों का अंतर हैं. पाकिस्तान बना 14 अगस्त, 1947 के दिन और इसके ठीक नौ महीने के बाद, अर्थात 14 मई, 1948 को इजरायल की राष्ट्र के रूप में घोषणा हुई.

1 min read
Gambhir Samachar
June 1, 2021

केंद्र और राज्य के बिगड़ते संबंध

पश्चिम बंगाल में चुनाव के पहले से सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और सत्ता पर आने की महत्वाकांक्षी भाजपा के बीच हिंसक टकराव चल रहे थे. दस बरस से मुख्यमंत्री चली आ रहीं ममता बनर्जी सरकार के खिलाफ जनता के बीच स्वाभाविक रूप से पनपने वाले असंतोष की शिकार भी हो सकती थीं, और सत्ता से बाहर जा सकती थीं, और ऐसी ही उम्मीद में भाजपा ने वहां पर सरकार बनाने के दावे भी किए थे.

1 min read
Gambhir Samachar
June 1, 2021

कोरोना का काम तमाम करेगी 2-डीजी

डीजीसीआई के मुताबिक 2-डीजी दवा के प्रयोग से कोरोना वायरस के ग्रोथ पर प्रभावी नियंत्रण से अस्पताल में भर्ती कोरोना मरीजों के स्वास्थ्य में तेजी से रिकवरी हुई और इसके अलावा यह मेडिकल ऑक्सीजन की जरूरत को भी कम करती है.

1 min read
Gambhir Samachar
June 1, 2021

एक म्यान...और तीन तलवार

मध्यप्रदेश में 14 महीने पहले महाराज ज्योतिरादित्य सिंधिया की मदद से मुख्यमंत्री बने शिवराज सिंह चौहान और उनके निकट साथी केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर की तिकड़ी में टकराव की खबरें छन-छनकर आने लगी हैं. कॉरोनकाल में ये टकराव अब तक सतह के नीचे था किन्तु अब ये टकराव सतह के ऊपर दिखाई देने लगा है.

1 min read
Gambhir Samachar
June 1, 2021

शांति कब तक?

पश्चिम एशिया में युद्ध विराम हो जाने से दुनिया ने चैन की सांस ली है. लेकिन यह युद्ध विराम स्थाई होगा इसकी संभावना कम है. यह शांति कब तक रहेगी, इसे लेकर संशय बरकरार है. इसका कारण यह है कि फिलिस्तीन के साथ ही इस्लामिक दुनिया में कुछ लोग हैं जो न स्वयं शांति से रहते हैं न दूसरे को रहने देते हैं. वे किसी अन्य के स्वरूप और अस्तित्व को स्वीकार नहीं करते. सबको अपने रंग में रंगना चाहते हैं.

1 min read
Gambhir Samachar
June 1, 2021
RELATED STORIES

The Cosmic Chaos of India

Just like the cosmos, when you see India for the first time everything seems chaotic and yet every Indian person finds his/ her own order in that hustle which all goes in tandem. Pavan Rajurkar a freelance illustrator based out of Mumbai, capture this Indianness perfectly in his artworks for many different brands and studios. Some of his recent illustrations have been displayed here.

2 mins read
Creative Gaga
Issue 49

Doctor of Happiness: An Art Essay

SUKRITI VADHERA KOHLI is the founder of Doctor of Happiness, helping young people with depression and other mental conditions through her art and online platform. Here she speaks with VANESSA PATEL about what inspired her to open up this forum, and what a difference art can make to our well-being.

9 mins read
Heartfulness eMagazine
March 2020

Dynamic Mumbai

Meet with clients amid the city’s kaleidoscopic sights and sounds.

3 mins read
Global Traveler
March 2020

Discover The Remnants Of Empires And The Seeds Of Independence In Mumbai

Discover the remnants of empires and the seeds of independence in India’s most populous city.

3 mins read
Business Traveler
December 2018/January 2019

Building A Sporting Nation

Marathons are changing the shape of the nation. We ask the brains behind the Delhi and Mumbai Half Marathons, how exactly.

2 mins read
FHM India
October 2018

An Expat Learns the Key to Authentic Indian Cooking

Cooking lessons at home in Mumbai.

8 mins read
Saveur
April 2016

The 12 Best Rooftop Bars Around The World

The world looks different when viewed from these stunning rooftop destinations.

7 mins read
Business Traveler
October 2015

मुंबई समेत पूरे कोंकण क्षेत्र में अगले 4-5 दिन तक भारी बारिश का रेड अलर्ट, NDRF ने तैनाती बढ़ाई

मुंबई और उसके आसपास के इलाकों में दक्षिणपश्चिम मानसून ने दस्तक दे दी है. पहले ही दिन भारी बारिश से देश की आर्थिक राजधानी और उसके उपनगरों में कई स्थानों पर पानी भर गया, जिससे सामान्य जनजीवन प्रभावित हुआ और सड़क यातायात के साथ ही लोकल ट्रेन सेवाएं भी बाधित हुयी.

1 min read
Rokthok Lekhani
June 11, 2021

मुंबई हुई पानी पानी...!

अगले 3 दिनों तक भारी बारिश का अलर्ट जारी

1 min read
Rokthok Lekhani
June 10, 2021

उद्धव ठाकरे ने लिया बारिश का जायजा

प्रशासन को दिए हालात सामान्य करने के निर्देश

1 min read
Rokthok Lekhani
June 10, 2021