India Today Hindi Magazine - June 05, 2024Add to Favorites

India Today Hindi Magazine - June 05, 2024Add to Favorites

Go Unlimited with Magzter GOLD

Read India Today Hindi along with 9,000+ other magazines & newspapers with just one subscription  View catalog

1 Month $9.99

1 Year$99.99 $49.99

$4/month

Save 50%
Hurry, Offer Ends in 11 Days
(OR)

Subscribe only to India Today Hindi

1 Year $35.99

Save 30%

1 Month $1.99

Buy this issue $0.99

Gift India Today Hindi

7-Day No Questions Asked Refund7-Day No Questions
Asked Refund Policy

 ⓘ

Digital Subscription.Instant Access.

Digital Subscription
Instant Access

Verified Secure Payment

Verified Secure
Payment

In this issue

Highlights of India Today Hindi 5th June 2024 issue:

Siyasat Arakshan Ki
Caste quotas have become the most fractious and polarising issue in election 2024, with the potential to influence the final outcome

Upfront: AAP
Katuta Se Bhara Kissa
AAP Rajya Sabha MP Swati Maliwal lodged a case of assault against PA of Delhi CM Arvind Kejriwal, Vibhav Kumar at a crucial time when people went for voting in the national capital. The incident happened at CM house. This incident gave rival BJP a chance to attack on AAP as well as CM on the issue of women safety.

Janadesh 2024: West Bengal
Chunavi Akhade Me Sitaron Ki Bhidant
Locket and Rachana in Hooghly, Hiran and Dev in Ghatal—two pairs of actor-turned-politicians slug it out in the polls

Janadesh 2024: Haryana
To Kya Hoga JJP Ka
Future of Jannayak Janta Party of largely of outcome of Loksabha elections which indulge in triangular electoral fight with ruling BJP and Congress in the Haryana.

Janadesh 2024: Tribes
Akhir Kyon Mahatvapurn Hain Adivasi Vote
The 47 Mps from the tribal reserved seats across india form a crucial chunk of PM Modi’s ‘400 paar’ campaign. Winning their vote may not be as easy as it was in 2019.

Janadesh 2024: Himachal Pradesh
Jee Jaan Se Sukkhu Ka Abhiyan
Riding on two consecutive clean sweeps, the BJP relies on Modi magic in Himachal. A fractious Congress, led by its beleaguered CM, takes heart from its 2022 assembly polls win

Janadesh 2024: Farmers
Voton Ki Fasal Kisano Par Nazar
Amid agrarian angst in the northern states, The BJP has deployed a pragmatic approach in its outreach to farmers even as the opposition tries to woo this largest voting bloc of India.

Neighbours: India-Nepal
Sena Ki Gorkha Gutthi
The pandemic and Nepal’s opposition to the Agnipath scheme have stalled Gorkha recruitment in the Indian Army. Their falling numbers are a strategic concern for India, particularly amidst rising speculation about Chinese plans to induct the legendary soldiers.


कटुता से भरा किस्सा

राजनीति में एक हफ्ता बहुत लंबा वक्त होता है. चुनाव के मौसम में तो और भी. आम आदमी पार्टी (आप) की राज्यसभा सांसद 39 वर्षीया स्वाति मालीवाल 10 मई को तिहाड़ जेल के बाहर खड़ी होकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की जमानत पर अस्थायी रिहाई का जश्न मना रही थीं और टीवी कैमरों के सामने ऐलान कर रही थीं, \"हम जीतेंगे, हम भारी अंतर से जीतेंगे.\"

कटुता से भरा किस्सा

5 mins

चुनावी अखाड़े में सितारों की भिड़ंत

हुगली में लॉकेट और रचना, तो घाटल में हिरन और देव, अदाकारी से सियासत में उतरी दो जोड़ियां लोकसभा चुनाव में आईं आमने-सामने

चुनावी अखाड़े में सितारों की भिड़ंत

3 mins

'हमारे लिए समर्थन साफ दिखता है'

राज्य में 48 लोकसभा सीटों के लिए पांच चरण के चुनाव खत्म हो चुके हैं. मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे को भरोसा है कि मोदी शासन तथा उनकी सरकार के प्रदर्शन के बल पर सत्तारूढ़ महायुति निर्णायक बढ़त ले चुका है. सीनियर एसोसिएट एडिटर धवल एस. कुलकर्णी से उनकी बातचीत के संपादित अंशः

'हमारे लिए समर्थन साफ दिखता है'

3 mins

तो क्या होगा जजपा का

हरियाणा के हिसार के आजाद नगर में जननायक जनता पार्टी (जजपा) का कार्यालय है. हरियाणा के पूर्व उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला की पार्टी जजपा के उम्मीदवार के लिए यही केंद्रीय कार्यालय के तौर पर काम कर रहा है.

तो क्या होगा जजपा का

5 mins

दो बहुओं में विरासत को लेकर दो-दो हाथ

राजनैतिक विरासत को हासिल करने की खास परिवारों के बीच की लड़ाई देश लंबे समय से देखता, सुनता आ रहा है. एक वक्त था जब कहा जाता था कि संजय गांधी ही इंदिरा गांधी की सरकार चला रहे थे. उनकी मृत्यु के बाद राजीव गांधी प्रधानमंत्री बने और फिर मेनका दूर हुईं जिनकी राजनैतिक पारी भाजपा के साथ बढ़ चली.

दो बहुओं में विरासत को लेकर दो-दो हाथ

5 mins

आरक्षण की राजनीति

आम चुनाव 2024 में जाति आरक्षण सबसे विवादास्पद और ध्रुवीकरण का मुद्दा बना, जिससे नतीजे तय होने की बड़ी संभावना

आरक्षण की राजनीति

10+ mins

"कांग्रेस का जोर मुस्लिम लीग के एजेंडे और वामपंथी प्रोपेगैंडा पर"

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा को यकीन है कि उनकी पार्टी और सहयोगी दल 400 का निशान पार करने की राह पर हैं. ग्रुप एडिटोरियल डायरेक्टर राज चेंगप्पा और डिप्टी एडिटर अनिलेश एस. महाजन के साथ इस एक्सक्लूसिव बातचीत में उनका कहना है कि भाजपा दो साल पहले से इस चुनाव की तैयारी कर रही थी जबकि विरोधी मामूली तैयारी करके चले आए और लड़ने का संकल्प तक नहीं दिखा रहे. संपादित अंशः

"कांग्रेस का जोर मुस्लिम लीग के एजेंडे और वामपंथी प्रोपेगैंडा पर"

7 mins

आखिर क्यों महत्वपूर्ण हैं आदिवासी वोट

देशभर में आदिवासियों के लिए सुरक्षित लोकसभा की 47 सीटें पीएम मोदी के 400 पार अभियान के लिहाज से बेहद महत्वपूर्ण लेकिन 2019 के मुकाबले इस बार इन्हें जीतना शायद उतना आसान नहीं

आखिर क्यों महत्वपूर्ण हैं आदिवासी वोट

9 mins

जी जान से सुक्खू का अभियान

लगातार दो जीत के घोड़े पर सवार भाजपा को हिमाचल में मोदी मैजिक पर भरोसा है. मुश्किलें झेल रहे मुख्यमंत्री के नेतृत्व में गुटबाजी की शिकार कांग्रेस की उम्मीद 2022 के विधानसभा चुनाव की जीत पर टिकी है

जी जान से सुक्खू का अभियान

6 mins

तिलों में बाकी तेल है कितना

उत्तर प्रदेश में छठे और सातवें चरण का लोकसभा पूर्वी यूपी में पिछड़ी जाति के कई दिग्गज नेताओं का कद तय करने जा रहा

तिलों में बाकी तेल है कितना

6 mins

"बाल-बच्चा पियासल रहेगा तो पीएम-सीएम बनाने का क्या फैदा"

कैमूर जिले के अधौरा पहाड़ पर बसे 108 गांवों में महिलाएं आज भी पानी ढोकर ला रहीं. सोलर बिजली भी कुछेक घरों में चंद घंटे के लिए. मोबाइल नेटवर्क तो ईश्वर को तलाशने जैसा

"बाल-बच्चा पियासल रहेगा तो पीएम-सीएम बनाने का क्या फैदा"

5 mins

पीले बालू के लिए लाल होती सोन नदी

बिहार में आखिरी चरण के चुनाव में चार सीटों का जुड़ाव कहीं न कहीं सोन नद से है. मगर अंधाधुंध रेत खनन, बराज पर गाद का जमाव और इनकी वजह से लोगों की आजीविका, खेती और दूसरे संकटों के सवाल पर इस चुनाव में कोई चर्चा नहीं

पीले बालू के लिए लाल होती सोन नदी

5 mins

वोटों की फसल, किसानों पर नजर

उत्तरी राज्यों में पसरे कृषि संकट के बीच किसानों में अपनी पैठ बनाने के लिए भाजपा ने व्यावहारिक नजरिया अपनाया, तो विपक्ष भी भारत के इस सबसे बड़े मतदाता तबके को रिझाने की जुगत में

वोटों की फसल, किसानों पर नजर

7 mins

सेना की गोरखा गुत्थी

कोरोना महामारी और अग्निपथ योजना के नेपाली विरोध से भारतीय सेना में गोरखा भर्ती थमी, गोरखा फौजियों की घटती संख्या देश के लिए रणनीतिक चिंता का विषय, खासकर इन अटकलों से कि इन लाजवाब लड़ाकुओं पर चीन की भी नजर है

सेना की गोरखा गुत्थी

7 mins

परचम लहराती सरपंच

राजस्थान की उस सरपंच की कहानी जिसने अलग सोच, हौसले और मेहनत के बलबूते खेत से संयुक्त राष्ट्र तक लहराया परचम

परचम लहराती सरपंच

5 mins

चुनौतियों के बीच नया चेहरा

क्लासिक, म्यूजिकल, रियलिस्टिक नाटकों के नियमित शो; दूरदराज की आंचलिक जमीन से आए ताजगी से भरे कलाकार; और महत्वाकांक्षी प्लानिंग. देश के इस राष्ट्रीय रंगमंडल ने बढ़ी हलचलों से जगाई उम्मीद

चुनौतियों के बीच नया चेहरा

4 mins

Read all stories from India Today Hindi

India Today Hindi Magazine Description:

PublisherIndia Today Group

CategoryNews

LanguageHindi

FrequencyWeekly

India Today Hindi Magazine is a weekly Hindi-language magazine published by the India Today Group. The magazine covers a wide range of topics, including politics, business, economy, society, culture, and sports. It is known for its in-depth reporting, insightful analysis, and stunning photography.

India Today Hindi Magazine features a variety of content, including:

* Cover Story: The cover story of each issue of India Today Hindi Magazine is dedicated to a specific topic related to current affairs. The cover story is typically written by a leading expert in the field and provides readers with in-depth analysis and recommendations.
* Featured Articles: The featured articles in India Today Hindi Magazine cover a wide range of topics related to current affairs, including national and international news, government policies, economic trends, and social issues. The featured articles are written by experienced journalists and analysts and provide readers with valuable insights into current events.
* Editorials: The editorials in India Today Hindi Magazine provide readers with the magazine's perspective on important current events. The editorials are written by the magazine's editors and are known for their critical and independent analysis.
* Q&A: The Q&A section of India Today Hindi Magazine provides readers with the opportunity to ask questions about current affairs to the magazine's experts. The questions and answers are published in the magazine and provide readers with valuable insights into how to understand current events.

India Today Hindi Magazine is a valuable resource for anyone who wants to stay informed about the latest news and developments in India. It is also a great way to get in-depth analysis and commentary on current affairs.

  • cancel anytimeCancel Anytime [ No Commitments ]
  • digital onlyDigital Only
MAGZTER IN THE PRESS:View All