उत्सवी खानपान यों रखें सेहत का ध्यान
Grihshobha - Hindi|October Second 2021
खानपान के इन तरीकों से न सिर्फ त्योहार अच्छे से मना सकेंगे, आप की सेहत भी अच्छी रहेगी.
दीप्ति खटूजा

भारत अपनी विविधता और पूरे सालभर अलग अलग आस्थाओं तथा जातियोंधर्मों के लोगों द्वारा मनाए जाने वाले विभिन्न त्योहारों की वजह से जाना जाता है. साल में अपने त्योहारों को मनाने के लिए परिवार और दोस्त अकसर भोजन के इर्दगिर्द जमा होते हैं और साथ मिल कर खातेपीते, मौज करते हैं. ऐसा घर पर, रैस्टोरैंट में या बारबेक्यू में हो सकता है. साथ मिलजुल कर खानेपीने के बहुत फायदे हैं. सब से बड़ा फायदा तो सामाजिक मेलमिलाप है जोकि मानसिक स्वास्थ्य तथा खुशहाली के लिए बेहद महत्त्वपूर्ण है.

त्योहारों के अवसर पर हम सिर्फ अच्छे और खास व्यंजनों के बारे में सोचते हैं. लेकिन त्योहार और छुट्टियों के मौसम में ही हम सभी से कई बार चूक भी हो जाती है. हम सेहतमंद खानपान के बजाय ज्यादा मात्रा में भोजन, मिठाई, प्रोसैस्ड फूड वगैरह का सेवन करते हैं यानी हमारे शरीर में कैलोरी की अधिक मात्रा पहुंचती है.

अधिक कैलोरीयुक्त भोजन का मतलब है अधिक मात्रा में फैट, शुगर, अत्यधिक कंसंट्रेटेड ड्रिंक्स तथा अधिक नमकयुक्त यानी सोडियम से भरपूर भोजन का सेवन. ऐसे में जो आम समस्याएं सामने आती हैं, उन में प्रमुख हैं: वजन बढ़ना या पाचन संबंधी समस्याएं जैसेकि ऐसिडिटी, गैस्ट्राइटिस, कब्ज, शरीर में पानी की कमी होना आदि.

त्योहारों के बीतने के बाद वजन कम करने को ले कर बढ़ता तनाव वास्तव में ज्यादा वजन बढ़ाता है क्योंकि तनाव की वजह से भूख का एहसास बढ़ाने वाले हारमोन ज्यादा बनते हैं. इसलिए त्योहारी सीजन में कुछ सावधानियों के साथ उन खास पलों का आनंद उठाएं, आगामी त्योहारों के मद्देनजर आप के लिए कुछ आसान उपायों की जानकारी दी जा रही है.

खाली पेट रहने से बचे

दिन की सेहतमंद और संतुलित शुरुआत के के लिए ब्रेकफास्ट में साबूत अनाज, लो फैट प्रोटीन तथा फलों का सेवन करें. कहीं किसी से मिलनेजुलने के लिए खाली पेट न जा कर भरे पेट जाएंगे तो फैस्टिव ट्रीट्स के नाम पर अनापशनाप खाने से बचेंगे.

Continue reading your story on the app

Continue reading your story in the magazine

MORE STORIES FROM GRIHSHOBHA - HINDIView All

सोशल मीडिया आधी हकीकत आधा फसाना

क्या आप जानते हैं कि सोशल मीडिया पर असली जीवन के रिश्तों की अनदेखी कर नकली रिश्ते बनाना कितना खतरनाक साबित हो सकता है...

1 min read
Grihshobha - Hindi
April Second 2022

सास कमाऊ बहू घरेलू कैसे निभाएं

जब सास कमाऊ हो और बहू घरेलू तो अकसर दोनों के अहम टकराते हैं. ऐसे में कुछ बातों का खयाल रख कर घर की शांति बरकरार रखी जा सकती है ...

1 min read
Grihshobha - Hindi
April Second 2022

रोमांच से भरपूर ओडिशा

प्रकृति की गोद में बसा ओडिशा न सिर्फ इतिहास न को समेटे हुए है, खूबसूरत समुद्री तटों, दर्शनीय स्थलों के लिए पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र भी है...

1 min read
Grihshobha - Hindi
April Second 2022

जंग की कीमत चुकाती है औरत

जंग के हालात औरतों के मान और सम्मान को न सिर्फ बदल कर रख देते है, उन्हें एक ऐसी अंधेरी सुरंग में धकेल दिया जाता है जहां से निकल पाना लगभग नामुमकिन ही होता है...

1 min read
Grihshobha - Hindi
April Second 2022

चटपटी समर रैसिपीज

रैसिपीज

1 min read
Grihshobha - Hindi
April Second 2022

औस्कर अवार्ड 2022 थप्पड कांड ने रंग में डाला भंग

इस बार के औस्कर समारोह में हाई वोल्टेज ड्रामा तो चला ही, एक थप्पड़ कांड के बाद रंगभेद को भी हवा देने की कोशिश की गई...

1 min read
Grihshobha - Hindi
April Second 2022

ऐलोपेसिया का क्या है इलाज

यों तो महिलाओं में बालों का झड़ना आम है मगर जब यह समस्या गंजेपन की अवस्था में आ जाए तो फिर क्या करें और क्या नहीं, जरूर जानिए...

1 min read
Grihshobha - Hindi
April Second 2022

ऐडवेंचर स्पोर्ट्स जिंदगी में भरें जोश

अगर लाइफ में बोरियत महसूस करने लगे हैं तो रोमांच के ये पल आप को जोश और उत्साह से भर देंगी....

1 min read
Grihshobha - Hindi
April Second 2022

5 रोमांटिक हनीमून डैस्टिनेशन

अगर आप भी शादी के बाद किसी रोमांटिक जगह पर हनीमून सैलिब्रेट करने के बारे में सोच रहे हैं, तो एक , बार इन जगहों के बारे में जरूर जानिए...

1 min read
Grihshobha - Hindi
April Second 2022

11 बैस्ट समर फैशन टिप्स

गरमियों में स्टाइलिश लुक से लोगों की तारीफ बटोरना चाहती हैं, तो जरा इन टिप्स को अपना कर देखिए...

1 min read
Grihshobha - Hindi
April Second 2022
RELATED STORIES

An Epic Phone-a-Thon

India’s smartphone shoppers will be spoiled for choice this festive season

4 mins read
Bloomberg Businessweek
November 09, 2020

दीवाली आधी मीठी आधी फीकी

इस दीवाली लोगों का हाथ तंग है और अनापशनाप बढ़ती महंगाई ने त्योहार के उत्साह पर पानी फेर दिया है. इस के बाद भी मन में कहीं शुभलाभ की दबी इच्छा है जो हर हाल में खुश रहने का संदेश देती है. दीवाली का अपना एक आर्थिक व सामाजिक महत्त्व है लेकिन इस साल सबकुछ ठीकठाक नहीं है.

1 min read
Sarita
November First 2021

'लंदन में पहली दीवाली'

कादम्बरी मेहरा की अतीत की अनुगूंज से.....

1 min read
DASTAKTIMES
November 2021

मुश्किल नहीं धन की देवी को खुश करना

दीपावली में मां लक्ष्मी आपके घर आए इसके लिए सही तरीके से पूजा-पाठ के साथ-साथ वास्तु से जुड़ी कुछ और चीजों को ध्यान में रखना जरूरी होता है। मां लक्ष्मी की आराधना के दौरान किन चीजों को ध्यान में रखें

1 min read
Anokhi
October 30, 2021

कर लीजिए तैयारी लक्ष्मी हैं आने वाली

लक्ष्मी मां आने वाली हैं। उन्हें रिझाने, अपने घर बुलाने और प्रसन्न करने के लिए आपको कुछ विशेष काम करने होते हैं। जिसके लिए आपको माता की पसंद और ना पसंद का ख्याल रखना होता है। वह क्या हैं और आप उनका प्रयोग कैसे कर सकती हैं

1 min read
Anokhi
October 30, 2021

इस बार झटपट होगी सफाई

दौड़तीभागती जिंदगी में आम दिनों की सफाई ही बड़ा काम है। ऐसे में दिवाली की सफाई के कहने ही क्या! पर, थोड़ी समझदारी से इस काम को भी आसानी से किया जा सकता है।

1 min read
Anokhi
October 30, 2021

रजनीकांत ने दी लगातार 9वीं 100 करोड़ी फिल्म...

दक्षिण भारत के सुपर सितारे रजनीकांत ने 70 वर्ष की उम्र के बावजूद वहां पर अपना सुपर पॉवर जारी रखा है।

1 min read
Hari Bhoomi
November 10, 2021

होस्टल वाली दीवाली

जो लोग होस्टल में रहे हैं उन्हें पता है कि वे उन की जिंदगी के कभी न भूलने वाले पल हैं. होस्टल की जिंदगी मजेदार भी होती है और परेशानियों से भरी भी. बावजूद इस के, होस्टल में रह कर त्योहारों के समय जो खुशियां मिलती हैं, जो आजादी और मस्ती मिलती है, वह कहीं और नहीं मिलती.

1 min read
Mukta
October 2021

बौयफ्रेंड के साथ दीवाली

दीवाली में आमतौर पर सब से बड़ी दिक्कत यह सामने आती है कि करीबियों के संग इस त्योहार को कैसे मनाएं. बहुत बार गलत ग्रीट करने के चलते शर्मिंदगी का सामना करना पड़ जाता है.

1 min read
Mukta
October 2021

अपनों के साथ मनाएं दीवाली

आप त्योहार अपनों के साथ मिल कर मनाने में ही आनंद मिलता है, फिर चाहे आप कितने भी दूर क्यों न रह रहे हों. अपने करीबियों से त्योहार में मिलते हैं तो वे मीठे पुराने पल फिर से याद आते हैं जिन्हें आप ने कभी साथ में जिया था.

1 min read
Mukta
October 2021