जब कोई आप को इस्तेमाल करे
Grihshobha - Hindi|September First 2021
भावनाओं का फायदा उठा कर कई बार लोग उस का बेजा इस्तेमाल करते हैं. ऐसे लोगों से खुद को से किस तरह बचा कर रखें, जरूर जानिए...

भले ही सदियों से यही कहा जाता रहा हो कि रिश्तों को निभाओ, रिश्तों को रोजाना प्यार के जल से सींचते रहें. पर क्या हमारी जिंदगी के सभी रिश्ते इतनी अटैंशन के लायक होते हैं? ऐसे रिश्तों को पहचानना बहुत जरूरी है जो आप को खुशियां नहीं बल्कि टैंशन देते हैं और जिस रिश्ते में आप का केवल इस्तेमाल किया जाता है, ऐसे रिश्ते को अलविदा कहना ही अच्छा होता है.

अपनी किताब 'सिंगल वूमन लाइफ, लव ऐंड अडैश औफ सैंस' में रिलेशनशिप ऐक्सपर्ट मैंडी हेल इस सचाई की ओर इशारा करती लिखती हैं, "हम वाकई क्या चाहते हैं बनाम हम किस चीज के लिए सैटल होने के लिए तैयार हैं, इस बात को समझने का एक मौका है ब्रेकअप.

जीवन और प्यार में चीजों को सैटल करने की सोच से ऊपर उठिए और अगली बार जब कोई आप से यह कहे कि आप का स्टैंडर्ड बहुत ऊंचा है तो माफी मत मांगिए क्योंकि यह स्टैंडर्ड ही तो तय करता है कि हमें कैसा जीवन मिलेगा."

कई महिलाओं की आदत होती है कि वे यह देखना ही नहीं चाहती कि इस रिश्ते से उन्हें मिल क्या रहा है?

मगर जीवन और रिश्तों के प्रति यह नजरिया उचित नहीं. आप के पास हक है कि आप खुद को इस्तेमाल होने देने से इनकार करें और वह पाएं जिस की आप हकदार हैं.

उस रिश्ते को तोड़ने में जरा भी संकोच न करें जहां आप को जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल किया जा रहा हो. किसी को इस्तेमाल कई तरह से किया जा सकता है:

रुतबे और ओहदे का इस्तेमाल

नीता आईएएस अफसर थी जबकि उस का भाई एक साधारण क्लर्क था. पिता की आकस्मिक मौत के बाद अपने छोटे भाईबहन को पढ़ाने के लिए नीता ने शादी नहीं की. नीता का भाई प्रेम शुरू से मेहनत करने में विश्वास नहीं रखता था. उसे सब पकापकाया खाने की आदत हो गई थी.

प्रेम अपनी बहन के रुतबे का जी भर कर इस्तेमाल करता था. बहन की गाड़ी में घूमता और बहन के ही आलिशान बंगले में रहता. किसी से कोई काम होता तो झट बहन के नाम की मदद ले लेता.

नीता कई साल चुप रही और भाई को हर तरह से फायदे देती रही. मगर फिर उसे भाई के स्वार्थी स्वभाव का एहसास हुआ और उस ने अपना घर बसाने की सोची, इस से पहले उस ने भाई से संबंध तोड़ते हुए उस को अपना घर अलग लेने और अपने बल पर जीने की सलाह दे डाली. भाई का चेहरा उतर गया क्योंकि उसे पता था कि बहन के रुतबे की उसे कैसी आदत हो गई है. वह बहुत गिड़गिड़ाया मगर नीता फैसला ले चुकी थी.

कई दफा लोग हम से रिश्ता बना कर इसलिए रखना चाहते हैं ताकि वे हमारे रुतबे और ओहदे का इस्तेमाल करते हुए अपना भला कर सकें. ऐसे में हम से रिश्ता बना कर रखने के पीछे उन की मंशा यह होती है कि वे हमारे नाम का इस्तेमाल कर अपने लिए सुविधाएं या फिर फेवर पा सकें.

अकसर आप ने भी गौर किया होगा कि ऐसे लोग परिचय होते ही सब से पहले आप का ओहदा जानना चाहते हैं. यदि आप किसी अच्छी पोस्ट पर हैं या ऊंचे खानदान से ताल्लुक रखते हैं तो उन का रवैया ही बदल जाता है. दुनिया ऐसी ही है पर ऐसे लोग आप का खराब समय आते ही अपना रास्ता बदलने से गुरेज नहीं करते. इसलिए इन से बच कर रहना बहुत जरूरी है.

धनसंपत्ति का इस्तेमाल

Continue reading your story on the app

Continue reading your story in the magazine

MORE STORIES FROM GRIHSHOBHA - HINDIView All

गर्ल्स पीजी में रहने से पहले

होस्टल या पीजी में रहने से पहले यह बेहद जरूरी है कि आप अपनी ओर से पूरी सावधानी बरतें...

1 min read
Grihshobha - Hindi
October First 2021

पोस्ट कोविड तनाव को कहें गुडबाय

अगर आप भी पोस्ट कोविड तनाव से पीड़ित हैं, तो यह जानकारी आप के लिए ही है...

1 min read
Grihshobha - Hindi
October First 2021

बजट में ब्यूटी शौपिंग टिप्स

त्योहारों में ब्यूटी प्रोडक्ट्स की खरीदारी करने से पहले यह जानना आप के लिए बेहद जरूरी है...

1 min read
Grihshobha - Hindi
October First 2021

फैस्टिव मेकअप लुक

इस त्योहार अपनी खूबसूरती से लोगों की तारीफ बटोरना चाहती हैं, तो यह जानकारी आप के लिए ही है....

1 min read
Grihshobha - Hindi
October First 2021

बॉडी लोशन से पाएं ग्लोइंग स्किन

बदलते मौसम त्वचा की नमी बनाए रखना कितना जरूरी है जानिए जरूर...

1 min read
Grihshobha - Hindi
October First 2021

कामसूत्र टैबू नहीं

अपनी यौन इच्छाओं को खुल कर बताने में भारतीय महिलाएं आज भी हिचकती हैं. आखिर कामसूत्र के देश में सैक्स टैबू क्यों...

1 min read
Grihshobha - Hindi
October First 2021

उत्सवी स्वाद

हमारा संतुलित आहार ही स्वस्थ जीवन का आधार है, क्योंकि खान-पान में गड़बड़ी होगी तो हमारे जीवन में उसका विपरीत प्रभाव पड़ेगा । पौष्टिक भोजन जीवन दान देता है , स्वस्थ शरीर प्रदान करता है ।

1 min read
Grihshobha - Hindi
October First 2021

महिलाओं के खिलाफ नया हथियार रिवेंज पोर्न

पितृसत्ता और महिलाओं पर नियंत्रण की घटिया सोच ने एक ऐसे अपराध को जन्म दिया है, जिस के बारे में जान कर रौंगटे खड़े हो जाएंगे...

1 min read
Grihshobha - Hindi
September Second 2021

फैस्टिव ब्यूटी ट्रिक्स

फैस्टिव सीजन में अपनी बेइंतिहा खूबसूरती से लोगों को दीवाना बनाना चाहती हैं, तो जरा यह भी जान लीजिए...

1 min read
Grihshobha - Hindi
September Second 2021

तो आसान होगी तलाक के बाद दूसरी शादी

तलाक के बाद आप अपनी खुशी फिर से चुन सकती हैं, बशर्ते यह एक ऐसा निर्णय हो जिस में प्यार भी हो और सम्मान भी...

1 min read
Grihshobha - Hindi
September Second 2021