श्रीकृष्ण के जीवन से सीखें कृष्ण-तत्त्व उभारने की कला
Rishi Prasad Hindi|August 2021
जो सच्चे प्रेमरस (भगवत्प्रेम-रस) को समझे बिना संसार में प्रेम खोजते हैं वे दुःखी हो जाते हैं।
पूज्य बापूजी

जन्माष्टमी : ३० अगस्त

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की बधाइयाँ !

जन्माष्टमी महापर्व है। परात्पर ब्रह्म, निर्गुणनिराकार, पूर्णकाम, सर्वव्यापक, सर्वेश्वर, परमेश्वर, देवेश्वर, विश्वेश्वर... क्या-क्या कहें...

वही निराकार ब्रह्म नन्हा-मुन्ना होकर मानवीय लीला करते हुए मानवीय आनंद, माधुर्य, चेतना को ब्रह्मरस से सम्पन्न करने के लिए अवतरित हुआ जिस दिन, वह जन्माष्टमी का दिन।

श्रीकृष्ण मध्यरात्रि को और श्रीराम मध्याह्न को अवतरित हुए । तप्त मध्याह्न में धर्म की मर्यादा का प्रसाद बाँटकर चित्त में शीतलता, शांति और 'स्व' का साम्राज्य देने के लिए जो अवतार हुआ वह रामावतार है और अंधाधुंध कालिमा को अपने प्रेम-प्रकाश से प्रकाशित करने के लिए जो अवतार हुआ वह श्रीकृष्णावतार है। श्रीकृष्णावतार की बधाइयाँ हों!

ये अवतार नहीं होते तो...

सर्वेश्वर, परमेश्वर आप्तकाम (पूर्णकाम, इच्छारहित) होते हुए भी हजारों-लाखों के दिलों की पुकार से प्रसन्न होकर उस-उस समय के अनुरूप नर-तन धारण कर लेता है तो उसे 'अवतार' कहते हैं।

अवतरति इति अवतारः ।

Continue reading your story on the app

Continue reading your story in the magazine

MORE STORIES FROM RISHI PRASAD HINDIView All

बापू आशारामजी को जल्द-से-जल्द छोड़ा जाना चाहिए

ब्रह्मवेत्ता संत के दैवी कार्य में सच्चे हृदय से लग जाना ही उनकी सेवा है।

1 min read
Rishi Prasad Hindi
September 2021

कर्जदार से बना दिया २ फैक्ट्रियों का मालिक

समदर्शी संतों के दैवी कार्य में भागीदार होने से ईश्वर के वैभव में भी आप लोग भागीदार हो जायेंगे।

1 min read
Rishi Prasad Hindi
September 2021

श्राद्धकर्म व उसके पीछे के सूक्ष्म रहस्य

जिसने दूसरों के हृदय में छिपे हुए उस मालिक को संतुष्ट किया है, उसके मन में पवित्र विचार उत्पन्न होते हैं।

1 min read
Rishi Prasad Hindi
September 2021

श्रीकृष्ण के जीवन से सीखें कृष्ण-तत्त्व उभारने की कला

जो सच्चे प्रेमरस (भगवत्प्रेम-रस) को समझे बिना संसार में प्रेम खोजते हैं वे दुःखी हो जाते हैं।

1 min read
Rishi Prasad Hindi
August 2021

इस प्रकार से रक्षाबंधन मनाना है कल्याणकारी

परमात्मा के सिवाय कोई भी चीज मिलती है तो वह छूट जाती है।

1 min read
Rishi Prasad Hindi
August 2021

कष्ट-मुसीबतों को पैरों तले कुचलने की कला

दुःख उससे दुःखी होकर मरने की चीज नहीं है, दुःख तो पैरों तले कुचलने की चीज है।

1 min read
Rishi Prasad Hindi
August 2021

स्वास्थ्यवर्धक एवं उत्तम पथ्यकर ‘परवल'

ज्ञान की भूख लगे तो ब्रह्मज्ञानी के टूटे-फूटे शब्द भी ज्ञान बन जाते हैं।

1 min read
Rishi Prasad Hindi
August 2021

खून की कमी (रक्ताल्पता) कैसे दूर करें?

आत्मलाभ की बराबरी ब्रह्मांड में और कोई लाभ नहीं कर सकता है।

1 min read
Rishi Prasad Hindi
July 2021

ऋषि प्रसाद सेवाधारियों को पूज्य बापूजी का अनमोल प्रसाद- इस प्रसाद के आगे करोड़ रुपये की भी कीमत नहीं

ईश्वर ने हमको क्रियाशक्ति दी है तो ऐसे कर्म करें कि कर्म के बंधनों से छूट जायें।

1 min read
Rishi Prasad Hindi
July 2021

आशारामजी बापू के साथ अन्याय कब तक ? संत-समाज

महान आत्मा तो वे हैं जो महान परमात्मा में ही शांत व आनंदित रहते हैं, परितृप्त रहते हैं।

1 min read
Rishi Prasad Hindi
July 2021
RELATED STORIES

In ‘Saint Maud,' is a Visceral Psychological Horror

Religion and horror are hardly novel bedfellows, but writer-director Rose Glass crafts something fresh of the construct in her promising debut “ Saint Maud.” The film follows the psychological undoing of a devout hospice nurse who becomes obsessed with saving the soul of her terminally ill patient.

3 mins read
AppleMagazine
Feburary 12, 2021

Iran's Islamic Evolution

Both conservatives and reformists consider the ballot box an essential instrument

5 mins read
Bloomberg Businessweek
May 29 - June 4, 2017

Why Audiences Flock to Faith-Based Films

Audiences flock to faith-based films.

8 mins read
Bloomberg Businessweek
April 4 - April 10, 2016

The Higher Power of Russell Wilson

How Russell Wilson kept the faith during the Seahawks’ darkest hours.

10+ mins read
ESPN The Magazine
January 04,2016

The Bipartisan Pontiff

Pope Francis likes to keep them guessing.

10 mins read
New York magazine
Sep 7–20, 2015

The Confession of Arian Foster

The Pro Bowl running back doesnt believe in God. Now, for the first time publicly, he's ready to share why.

10+ mins read
ESPN The Magazine
August 17,2015

बांग्लादेश में हिंदुओं पर हमला विरोध में उतरे इस्कॉन-भाजपा

प्रतिवाद.इस्कॉन ने बांग्लादेशी उप-उच्चायोग घेरा, भाजपा का राज्यभर में प्रदर्शन

1 min read
Prabhat Khabar Kolkata
October 18, 2021

कैसे मिलेगी मुझे मां लक्ष्मी की कृपा?

रतलाम की सविताजी की तरह आपके मन में भी यह सवाल उठता तो जरूर होगा?

1 min read
Grihshobha - Hindi
September First 2021

शारदीय नवरात्रि में मां दुर्गा करेंगी हर मनोकामना पूरी

दो ऋतुओं का मिलन वर्षा ऋतु का जाना और शीत ऋतु का आगमन पर मनाई जाने वाली शारदीय नवरात्रि का अपना अलग ही महत्व शास्त्रों में बताया गया है। 9 दिनों तक देवी माँ दुर्गा के 9 स्वरूपों की पूजा आराधना की जाती है।

1 min read
Aaj Samaaj
October 07, 2021

आध्यात्मिक मार्गदर्शक

धर्म और आध्यात्मिक काम भले ही खुशी के साथ सहज रूप से न जुड़े हों-और इससे कोई इनकार नहीं है कि इनसान हर तरह की धार्मिक पहचान का इस्तेमाल हिंसा और दूसरे का दमन करने के लिए करता रहा है. फिर भी, आध्यात्मिक प्रयासों के लंबे और विविधतापूर्ण इतिहास में यह ऐसा माध्यम रहा है जो दुनियाभर के लोगों को खुशी और यहां तक कि परमानंद की तलाश कर उसे साझा करने के लिए प्रेरित करता रहा है. इन पन्नों पर पांच मुस्कुराते धार्मिक लोग उस सामान्य खोज और अलग समझ की झलकियां पेश कर रहे हैं, जिनके चलते वे हजारों लोगों के लिए प्रेरणा-और खुशी-का स्रोत बन गए हैं.

1 min read
India Today Hindi
October 06,2021