कोरोना: इंटरनेट पर ऑनलाइन ठगी की बाढ़
Prabhat Khabar Kolkata|March 18, 2020
-कोरोना व कोविड के नाम से उपलब्ध है एक से बढ़ कर एक ऐप -इस तरह का एप डाउनलोड करते ही हैक हो जा रहा मोबाइल -कई ऑनलाइन शॉपिंग साइटों पर बिक रहे नकली सैनिटाइजर

कोरोना वायरस से दहशत का फायदा उठाकर इंटरनेट में ऑनलाइन ठगी की बाढ़-सी आ गयी है. ऑनलाइन शातिर ठग लोगों की इस मजबूरी का फायदा उठाकर उन्हें ठगने के कई तरीके अपना रहे हैं. साइबर एक्सपर्ट लोगों को ठगी का शिकार होने के पहले ही उन्हें सतर्क रहने की सलाह दे रहे हैं.

इस तरह से बिछाया गया ठगी का जाल: साइबर एक्सपर्ट संजीव सेनगुप्ता का कहना है कि एनरॉयड मोबाइल के प्ले स्टोर में कई ऐसे एप्स आ गये हैं, जो कोरोना व कोविड (वायरस का नाम) के नाम से उपलब्ध हैं. इन एप्स में कोरोना वायरस से निपटने के लिए आवश्यक टिप्स देने का दावा किया गया है.

असलियत तो यह है कि अनजाने में वायरस से निपटने की जानकारी के लिए जैसे ही लोग इन एप्स को मोबाइल में डाउनलोड करेंगे, तुरंत मोबाइल हैक हो जायेगा. मोबाइल सामान्य करने के लिए ग्राहकों से मोटी रकम की मांग की जायेगी.

धोखाधड़ी से बचने के लिए साइबर एक्सपर्ट की सलाह

• किसी भी मैसेज में भेजे गये लिंक पर क्लिक ना करें

Continue reading your story on the app

Continue reading your story in the newspaper