ऊंची लागत की मार से महंगे हुए एफएमसीजी उत्पाद
Business Standard - Hindi|November 27, 2021
उत्पादों के दाम बढ़ने से एफएमसीजी कंपनियों की बिक्री हो सकती है प्रभावित, मगर उनके पास कोई और विकल्प नहीं
शर्लिन डिसूजा

एचयूएल, आईटीसी, पारले और ब्रिटानिया ने बढ़ाए अपने उत्पादों के दाम

कीमतों में वृद्धि 1 से 33 फीसदी के दायरे में की गई है

कम कीमत वाले पैकेट की कीमत बढ़ाने के बजाय वजन किया गया है कम

कुछ कंपनियां आगे भी दाम बढ़ाने की बना रही हैं योजना

हिंदुस्तान यूनिलीवर, आईटीसी और पारले प्रोडक्ट्स जैसी एफएमसीजी कंपनियों ने कच्चे माल की बढ़ती लागत का दबाव कुछ कम करने के लिए अक्टूबर और नवंबर में अपने उत्पादों के दाम बढ़ा दिए हैं।

देश की सबसे बड़ी उपभोक्ता वस्तु कंपनी एचयूएल ने मौजूदा तिमाही में अपने पोर्टफोलियो के सभी उत्पादों के दाम बढ़ाए हैं। कंपनी ने 1 से 33 फीसदी के दायरे में मूल्य वृद्धि की है। एचयूएल ने अपने उत्पादों के दाम में औसतन 7 फीसदी का इजाफा किया है।

कंफर्ट कंडीशनर के मिलीलीटर पैक के दाम में सबसे ज्यादा 33.33 फीसदी की बढ़ोतरी की गई है। कंपनी ने चाय, कॉफी, साबुन, डिटर्जेंट, टॉयलेट क्लीनर, फेसक्रीम, बॉडी लोशन और शैम्पू के दाम में भी इजाफा किया है।

Continue reading your story on the app

Continue reading your story in the newspaper

MORE STORIES FROM BUSINESS STANDARD - HINDIView All

हवाईअड्डों पर भीड़ घटाने की कोशिश

एक यात्री को केवल एक हैंडबैग ले जाने की अनुमति के नियम को सरती से लागू करने के निर्देश

1 min read
Business Standard - Hindi
January 22, 2022

कृषि संबंधी ड्रोन का खर्च उठाएगा केंद्र

कुछ परंपरागत ड्रोन की मिलेगी पूरी लागत

1 min read
Business Standard - Hindi
January 22, 2022

तेल में तेजी से फिसला बाजार

2 माह में सबसे बड़ी साप्ताहिक गिरावट, जोरिवम वाली संपत्तियों में निवेश घटा रहे निवेशक

1 min read
Business Standard - Hindi
January 22, 2022

जेएसडब्ल्यू स्टील का मुनाफा बढ़ा

जेएसडब्ल्यू स्टील का मुनाफा 63 फीसदी बढ़ा

1 min read
Business Standard - Hindi
January 22, 2022

5जी बैंड को अलग करना जरूरी

एयरटेल ने कहा, सुरक्षा के लिए विमानन रडार फ्रीक्वेंसी और 5जी बैंड में हो पर्याप्त अंतर

1 min read
Business Standard - Hindi
January 22, 2022

बाजार में नकदी बढ़ा रहा रिजर्व बैंक

वस्तु एवं सेवा कर के कारण नकदी हुई कम, जिसके कारण रिजर्व बैंक का विशेष रीपो ऑपरेशन

1 min read
Business Standard - Hindi
January 21, 2022

वेदांत 10 अरब डॉलर का फंड तैयार करेगी

बीपीसीएल की हिस्सेदारी एवं अन्य परिसंपत्तियों के लिए बोली लगाने की तैयारी में वेदांत

1 min read
Business Standard - Hindi
January 21, 2022

दिसंबर तिमाही में मजबूत प्रदर्शन की उम्मीद

रिलायंस इंडस्ट्रीज की नतीजे पूर्व समीक्षा

1 min read
Business Standard - Hindi
January 21, 2022

तीन दिन में 3 फीसदी टूटा बाजार

बॉन्ड प्रतिफल और कच्चे तेल में तेजी से लगातार तीसरे दिन शेयर बाजार में गिरावट

1 min read
Business Standard - Hindi
January 21, 2022

एचयूएल का शुद्ध लाभ 17 प्रतिशत बढ़ा

हिंदुस्तान यूनिलीवर ने 17 प्रतिशत की उछाल दर्ज की है

1 min read
Business Standard - Hindi
January 21, 2022