रेलवे खरीद की जांच करेगी जीएसटी जांच एजेंसी
Business Standard - Hindi|April 19, 2021
कर बचाने के लिए बोलीदाताओं की आपूर्ति के गलत वर्गीकरण से संबंधित है मामला
निकुंज ओहरी

• बोलीदाताओं ने रेलवे के ठेके हासिल करने के लिए जीएसटी की कम दर रखी

• जीएसटी लागू होने के बाद रेलवे को आपूर्ति होने वाले माल का बड़े पैमाने पर गलत वर्गीकरण

• सीबीआईसी, डीपीआईआईटी ने रेलवे को निविदा जारी करते समय उचित जीएसटी दर का उल्लेख करने को कहा

• रेलवे का कहना है कि उसके पास बोलीदाताओं द्वारा अपनाए जाए जाने वाले माल के वर्गीकरण को बदलने का अधिकार नहीं

Continue reading your story on the app

Continue reading your story in the newspaper

MORE STORIES FROM BUSINESS STANDARD - HINDIView All

पहली बार ठीक हुए लोगों की तादाद बढ़ी

मंत्रालय ने कहा है कि दो महीने बाद एक दिन में पहली बार ज्यादा लोग स्वस्थ हुए जबकि संक्रमण के रुझान भी घटे

1 min read
Business Standard - Hindi
May 12, 2021

5जी पर कोरोना की तोहमत, कंपनियों पर आई आफत

देश भर की दूरसंचार कंपनियां आजकल एक अजीब समस्या से जूझ रही हैं। तमाम कस्बों और ग्रामीण इलाकों में लोग 5जी परीक्षण रुकवाने और मोबाइल टावर उखड़वाने की कोशिश में जुटे हुए हैं। क्यों रुकवा रहे हैं ? क्योंकि उन्हें यकीन है कि इजी तकनीक और उसका परीक्षण कोरोनावायरस महामारी फैलने की अहम वजह है!

1 min read
Business Standard - Hindi
May 12, 2021

फ्लिपकार्ट ने मजबूत किया बुनियादी ढांचा

फ्लिपकार्ट ग्रॉसरी 200 से अधिक श्रेणियों में 7,000 से अधिक उत्पादों की पेशकश करती है

1 min read
Business Standard - Hindi
May 12, 2021

चेक बाउंस नहीं होगा अपराध की श्रेणी से बाहर!

सरकार चेक बाउंस को फौजदारी अपराध की श्रेणी से बाहर करने की अपनी पहले की योजना को ठंडे बस्ते में डाल सकती है। सरकार से अनुरोध किया गया है कि चेक बाउंस को अपराध मानने की व्यवस्था जारी रखी जाए ताकि कार्रवाई के डर से लोग अपने वित्तीय वायदे पूरे करते रहें ।

1 min read
Business Standard - Hindi
May 12, 2021

सेलफोन उत्पादन 50 फीसदी घटा

आईडीसी ने कहा कि फरवरी के अंत से विनिर्माण में नरमी के दिरवने लगे थे संकेत

1 min read
Business Standard - Hindi
May 12, 2021

निजी अस्पतालों पर टेढ़ी नजर

कर विभाग कोविड मरीजों से बेहिसाब नकदी लेने वाले अस्पतालों पर करेगा सख्ती

1 min read
Business Standard - Hindi
May 11, 2021

संक्रमित कर्मियों की मदद में कंपनियां

एचसीएल टेक, एचयूएल सहित कई कंपनियां संक्रमित कर्मचारियों की मदद के लिए आगे आईं

1 min read
Business Standard - Hindi
May 11, 2021

इलाई लिली ने कोविड दवा के लिए दिए लाइसेंस

गिलियड की रेमडेसिविर के बाद अमेरिका की एक अन्य दिग्गज दवा कंपनी इलाई लिली ने भारत में बैरीसाइटिनिब दवा बनाने और वितरित करने के लिए तीन भारतीय दवा कंपनियोंसिप्ला, सन फार्मास्यूटिकल्स और ल्यूपिन को रॉयल्टी मुक्त, गैरविशेष स्वैच्छिक लाइसेंस दिया है।

1 min read
Business Standard - Hindi
May 11, 2021

अमित मित्रा तीसरी बार वित्त मंत्री बने

पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली नई सरकार के मंत्रिमंडल के कम से कम 43 सदस्यों को सोमवार को राजभवन में एक संक्षिप्त समारोह में मंत्री पद की शपथ दिलाई गई। कोविड-19 महामारी के प्रकोप के बीच राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने एक संक्षिप्त समारोह में मंत्रियों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। अमित मित्रा, सुब्रत मुखर्जी, फरहाद हकीम और पार्थ चटर्जी समेत पिछली ममता बनर्जी सरकार के सभी वरिष्ठ मंत्रियों को फिर से मंत्रिमंडल में जगह मिली है।

1 min read
Business Standard - Hindi
May 11, 2021

स्टार्टअप की टीकाकरण योजना में टीके की कमी रोड़ा

भारत दुनिया का सबसे बड़ा कोविड19 टीकाकरण अभियान चला रहा है, लेकिन 1एमजी, प्रैक्टो और फार्मईजी जैसे स्वास्थ्य क्षेत्र के स्टार्टअप का लाखों लोगों के टीकाकरण का प्रयास खटाई में पड़ता दिख रहा है। ये स्टार्टअप विभिन्न कंपनियों के लाखों कर्मचारियों को टीका लगाना चाहते हैं मगर उसके लिए टीके ही नहीं मिल पा रहे हैं।

1 min read
Business Standard - Hindi
May 11, 2021
RELATED STORIES

The GST Fiasco

Small businesses which could not file their returns as they had no income due to the pandemic are now facing closure as the GST department is demanding back-breaking penalties.

3 mins read
India Legal
December 14, 2020

सब बरी

एक ऐसी घटना, जो घटी. देश-दुनिया ने देखा लेकिन उस घटना के लिए जिम्मेदार कौन?

1 min read
Gambhir Samachar
October 16, 2020

'कोई सबूत नहीं, सब बरी'

28 साल बाद आए फैसले में ढांचा गिराने में किसी साजिश के सबूत नहीं

1 min read
Outlook Hindi
October 19, 2020

बाबरी विध्वंस:आडवाणी,जोशी समेत 32 बरी

सीबीआई कानूनी विमर्श के बाद करेगी फैसले को चुनौती देने का निर्णय

1 min read
Samagya
October 01, 2020

बहसः 13 न्यायाधीशों ने पूरी की सुनवाई

वर्ष 1993 में आरोप पत्र दाखिल होने के बाद करीब दर्जन भर जज इस मामले की सुनवाई कर चुके थे। 19 अप्रैल 2017 को सुप्रीम कोर्ट ने एक आदेश जारी कर कहा कि वर्तमान में जो जज इस मामले की सुनवाई कर रहे हैं, वही अगले दो साल में रोजाना सुनवाई कर इसका निस्तारण करेंगे। इस दौरान उनका किसी दूसरी अदालत में स्थानांतरण नहीं होगा। मुकदमे की सुनवाई तब तक स्थगित नहीं की जाएगी जब तक कोर्ट को ये न लगे कि किसी खास तारीख को सुनवाई करना मुमकिन नहीं रह गया है। इस सूरत में अगले दिन सुनवाई की जा सकती है।

1 min read
Hindustan Times Hindi
October 01, 2020

अयोध्या ने फैसले को खुले मन से स्वीकारा

सीबीआई कोर्ट ने विवादित ढांचा विध्वंस मामले में बुधवार को बहुप्रतीक्षित फैसला सुना दिया। अयोध्या में आमतौर पर इस निर्णय का खुले मन से स्वागत हुआ। राम की नगरी में जगह-जगह मिठाइयां बांटी गईं और देर शाम दीपोत्सव के आयोजन से दिवाली जैसा उल्लास नजर आया।

1 min read
Hindustan Times Hindi
October 01, 2020

एक सितंबर से शुद्ध कर देनदारी पर लगेगा ब्याज

जीएसटी भुगतान में देरी की स्थिति में लिया जाएगा ब्याज

1 min read
Haribhoomi Delhi
August 27, 2020

GST registration after physical verification of biz place: CBIC

‘A taxpayer can opt for Aadhaar authentication, in which case registration is deemed to be granted within three days without physical inspection of the premises’

1 min read
Millennium Post Delhi
August 22, 2020

GST: ALLOW DUE ‘CREDIT' OF THIS ‘NOTE'

Abstract It is normal trade practice to refund the money in case of dispute in a transaction entered into by two parties and raise the credit note as a documentary requirement. Sometimes the settlement may take substantial time and even years. By that time, the GST would already have been discharged by the supplier and ITC must have been claimed by the recipient on the same. However, when the amount is refunded upon settlement of dispute, GST law may not allow to adjust the liability paid earlier by simple reason of not raising credit note within time limit prescribed under the law. This may cause hardship to the payers as tax component returned becomes cost to them. This may be avoided by bringing about a small change in GST law and making it in line with erstwhile Service tax regime. Let’s explore further.

8 mins read
The Management Accountant
July 2020

Time for ‘Make in India' to go stronger

The lockdown is a challenge, but it is also an opportunity to strengthen mobile phone manufacturing and making the country a global supply chain hub for electronics

7 mins read
Voice and Data
May, 2020