बच्चों की इम्यूनिटी को बढ़ाएं ऐसे
Sarita|April First 2021
छोटे बच्चों में इम्यूनिटी कम होने के चलते अधिक इन्फैक्शन होने का खतरा बना रहता है. इस कारण आजकल पेरेंट्स के सामने सब से बड़ा प्रश्न बच्चों की हैल्दी डाइट को ले कर रहता है. सो यहां जानते हैं कि बच्चों की इम्यूनिटी कैसे बढ़ाएं.
सोमा घोष

4 साल का रोहन बहुत ही दुबला है क्योंकि वह खाना ठीक से नहीं खाता. उस की मां कोमल उसे 2 से 3 घंटे घूमघूम कर हर रोज उसे खाना खिलाती है. वह बेटे को बहुत बार डाक्टर के पास भी ले गई पर डाक्टर की दवाई का कुछ खास फायदा नहीं हुआ. उसे चिप्स, बिस्कुट, चौकलेट और बाजार के जंकफूड पसंद हैं. उसे दाल, चावल, सब्जी खाना पसंद नहीं है. परेशान हो कर मां ने डाक्टर के पास जाना बंद कर दिया और वह जो भी खाता है उसी में संतुष्ट रहने लगी.

यह सही है कि आज छोटा बच्चा हो या शिशु, उसे सही पोषण के लिए सही मात्रा में खाना खिलाना बहुत मुश्किल है. घरेलू मां घंटों बैठ कर खाना खिलाती है जबकि वर्किंग वूमन को केयरटेकर के ऊपर निर्भर रहना पड़ता है. अगर बच्चा खाना न खाए तो खुद खा लेती है या फिर फेंक देती है. इस का सही इलाज न तो पेरेंट्स के पास है और न ही डाक्टर के.ऐसे बच्चे हमेशा बीमार रहते हैं और उन की इम्यूनिटी कम होती जाती है.

इस बारे में एंड्रौयड बायोमेड लिमिटेड की प्रमुख डा. सुनैना आनंद कहती हैं, "पिछले कुछ सालों में चेचक, पोलियो और स्पैनिश फ्लू जैसी कई महामारियों से इम्यूनिटी बढ़ा कर ही नजात पाई गई है. यही बात कोरोना वायरस के साथ भी लागू होती है. हालांकि यह नया वायरस है और मानव में इस की इम्यूनिटी नहीं है. इसलिए यह सब के लिए घातक सिद्ध हो रहा है. रोग प्रतिरोधक क्षमता ही शरीर को किसी संक्रमण से बचाती है.

Continue reading your story on the app

Continue reading your story in the magazine

MORE STORIES FROM SARITAView All

स्वास्थ्य बीमा लिया क्या

आम कोरोना की दूसरी लहर ने तो आम, खासे खातेपीते लोगों की भी कमर तोड़ दी है. इलाज के खर्च का भार कम करने के लिए स्वास्थ्य बीमा एक बेहतर विकल्प है.

1 min read
Sarita
June First 2021

अनाथ बच्चे गोद लेने में भी जातीयता

'2 साल की बेटी और 2 माह के बेटे के मातापिता कोविड के कारण नहीं रहे. इन बच्चों को अगर कोई गोद लेना चाहता है तो दिए गए मोबाइल नंबर पर संपर्क करें. ये ब्राह्मण बच्चे हैं. सभी ग्रुपों में इस पोस्ट को भेजें ताकि बच्चों को जल्दी से जल्दी मदद मिल सके.' ऐसे मैसेज सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं.

1 min read
Sarita
June First 2021

"भारत में हर चीज पौलिटिकल नजरिए से देवी जाती है" मनोज मौर्य

प्रतिभाशाली मनोज मौर्य लेखन, पेंटिंग, निर्देशन कुछ भी कह लो, हर काम में माहिर हैं. वे लघु फिल्मों के रचयिता के तौर पर भी जाने जाते हैं. उन की ख्याति विदेशों तक फैली है. बतौर निर्देशक, वे एक जरमन फिल्म बना कर अब फीचर फिल्म की तरफ मुड़े हैं.

1 min read
Sarita
June First 2021

इम्यूनिटी बढ़ाएं जीवन बचाएं

शरीर में इम्यूनिटी का होना वैसे तो हैल्थ के लिए हर समय जरूरी है लेकिन कोरोनाकाल में इस बात का विशेष ध्यान रखने की जरूरत है कि इसे संतुलन में लगातार कैसे रखा जाए.

1 min read
Sarita
June First 2021

गर्भवती महिलाएं अपना और नवजात का जीवन बचाएं

कोविड संकट के दौर में गर्भवती महिलाओं को संक्रमण का अधिक जोखिम होता है. ऐसा इसलिए, क्योंकि इस समय ऐसी महिलाओं की प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर होती है, जिस से खतरा अधिक बना रहता है. ऐसे में गर्भवती महिलाएं कैसे खुद को सुरक्षित रख सकती हैं.आइए जानें?

1 min read
Sarita
June First 2021

धर्म और भ्रम में डूबा रामदेव का कोरोना इलाज

लड़ाई चिकित्सा पद्धतियों के साथसाथ पैसों और हिंदुत्व की भी है. बाबा रामदेव ने कोई निरर्थक विवाद खड़ा नहीं किया है, इस के पीछे पूरा भगवा गैंग है जिसे मरते लोगों की कोई परवा नहीं. एलोपैथी पर उंगली उठाने वाले इस बाबा की धूर्तता पर पेश है यह खास रिपोर्ट.

1 min read
Sarita
June First 2021

पत्रकारिता के लिए खतरनाक भारत

वर्ल्ड प्रैस फ्रीडम इंडैक्स के अनुसार पत्रकारिता के मामले में भारत से बेहतर नेपाल और श्रीलंका जैसे पड़ोसी मुल्क हैं. भारत में सरकार निष्पक्ष पत्रकारों की आवाज दबाने के लिए उन पर राजद्रोह जैसे गंभीर मामले लगा कर उन्हें शांत करने का काम कर रही है.

1 min read
Sarita
June First 2021

नताशा नरवाल- क्रूर, बेरहम और तानाशाह सरकार की शिकार

इस समय जितनी असंवेदनशील कोरोना महामारी है उतनी ही शासन व्यवस्था हो चली है. ऐसे समय में शासन द्वारा राजनीतिक कैदियों को अपने प्रियजनों से दूर करना, यातना देने से कम नहीं है. जबकि, कई तो सिर्फ और सिर्फ इसलिए बिना अपराध साबित हुए जेलों में हैं क्योंकि वे सरकार की गलत नीतियों के खिलाफ आवाज उठा रहे थे.

1 min read
Sarita
June First 2021

ब्लैक फंगस रंग बदलती मौत

ब्लैक फंगस इन्फैक्शन या म्यूकरमाइकोसिस कोई रहस्यमय बीमारी नहीं है, लेकिन यह अभी तक दुर्लभ बीमारियों की श्रेणी में गिनी जाती थी. भारतीय चिकित्सा विज्ञान परिषद के मुताबिक म्यूकरमाइकोसिस ऐसा दुर्लभ फंगस इन्फैक्शन है जो शरीर में बहुत तेजी से फैलता है. इस बीमारी से साइनस, दिमाग, आंख और फेफड़ों पर बुरा असर पड़ता है.

1 min read
Sarita
June First 2021

सर्वे और ट्विटर पर खुल रही है पोल प्रधानमंत्री की हवाहवाई छवि

कल तक जो लोग नरेंद्र मोदी के बारे में सच सुनने से ही भड़क जाया करते थे वे आज खामोश रहने पर मजबूर हैं और खुद को दिमागी तौर पर सच स्वीकारने व उस का सामना करने को तैयार कर रहे हैं. लोगों में हो रहा यह बदलाव प्रधानमंत्री की हवाहवाई राजनीति का नतीजा है जिस में 'काम कम नाम ज्यादा' चमक रहा था और अब इस का हवाई गुब्बारा फूट रहा है.

1 min read
Sarita
June First 2021
RELATED STORIES

The Pandemic Will Make Kids Or Break Them

The COVID-19 era has worked as a stress test for parents and kids alike, breaking some while bringing out reserves of strength and resilience in others.

3 mins read
Reason magazine
June 2021

Follow Your Nose

When it comes to avoiding viruses and other contagions, keeping your nose clean may be just as important as washing your hands.

3 mins read
Better Nutrition
March 2021

The Second Career of Martellus Bennett

The former NFL tight end writes the kind of children’s books he would have loved as a kid.

10+ mins read
The Atlantic
January - February 2021

Children's literature – Six-Pack

Scott Hobbs Bourne Proposes An Act Of Imagination

3 mins read
JUXTAPOZ
Winter 2021

The Power of Family

This year, we asked readers a question: "When you think of 'family', what's the image you see?" The winning submissions, and the stories behind them, were all universal and remarkably moving.

4 mins read
Reader's Digest US
July - August 2020

The Ultimate Immunity Biohack

Improving your body’s leptin function is a little-known—and powerful—way to enhance your immune function

4 mins read
Better Nutrition
May 2020

Childhood in an anxious age and the crisis of modern parenting

Imagine for a moment that the future is going to be even more stressful than the present. Maybe we don’t need to imagine this. You probably believe it. According to a survey from the Pew Research Center last year, 60 percent of American adults think that three decades from now, the U.S. will be less powerful than it is today. Almost two-thirds say it will be even more divided politically. Fifty-nine percent think the environment will be degraded. Nearly three-quarters say that the gap between the haves and have-nots will be wider. A plurality expect the average family’s standard of living to have declined. Most of us, presumably, have recently become acutely aware of the danger of global plagues.

10+ mins read
The Atlantic
May 2020

Best Friends in the end

You can be friends with your child…just not yet

4 mins read
Charlotte Parent
April 2020

Four fun things to experience with your kids this month

Four fun things to experience with your kids this month

1 min read
Charlotte Parent
April 2020

Coronavirus Cures At Your Fingertips!

Remedies found at home or pharmacy can boost immunity against new plague

3 mins read
National Enquirer
March 23, 2020