लक्ष्मी पूजन फिर भी जेब खाली की खाली
Sarita|December First 2020
कोरोना के नाम पर पूरे देश में केंद्र सरकार द्वारा असफल तालाबंदी लागू की गई. परिणाम इतना भयावह है कि तालाबंदी थोपे जाने के 8 माह बाद भी देश किसी भी स्तर पर संभल नहीं पाया है. मजबूरीवश देशवासियों ने इस साल तमाम त्योहारों पर हाथ भींच लिए और अब दीवाली, शादियों की धूमधाम भी तालाबंदी की भेंट चढ़ रही है.
शैलेंद्र सिंह

तालाबंदी और कोरोना संक्रमण काल के 8 माह के बाद दीवाली पर लोगों को बाजार में तेजी की उम्मीद थी. कारोबारियों को उम्मीद थी कि दीवाली में लक्ष्मीपूजन से उन की तिजोरी भर जाएगी. तालाबंदी के बाद मंदी में डूबे कारोबार के बीच दीवाली तो आई पर लक्ष्मी नहीं लाई. इस से यह साफ हो गया कि लक्ष्मी दीवाली के पूजन से नहीं आती. लक्ष्मी मेहनतकश लोगों के खूनपसीने से आती है.

तालाबंदी से फैली मंदी और बेरोजगारी दीवाली की रौनक वापस नहीं ला सकी. लक्ष्मीगणेश के पूजन से तिजोरी भरने की आशा निराशा में बदल गई. दीवाली पूजन में पहले लोग पीतल, चांदी और सोने तक की मूर्तियों की खरीदारी करते थे. इस साल ज्यादातर लोग मिट्टी से बनी मूर्तियों के सहारे ही पूजा करने को मजबूर थे. सस्ते होने के कारण चाइनीज प्रोडक्ट्स की खरीदारी भी हुई. बाजार में चाइनीज विरोध नजर नहीं आया. तमाम तरह के औफर और छूट के बाद भी ग्राहकों ने कम ही खरीदारी की.

तालाबंदी के बाद बाजार के बिगड़े हालात दीवाली के लक्ष्मीपूजन के बाद भी नहीं बदले. कारोबारियों ने अपनी तरफ से कोई कसर नहीं छोड़ी थी. कारोबारियों को उम्मीद थी कि दीवाली के थोड़ा पहले से अगर खुशनुमा माहौल बनाने का काम किया जाए तो नवरात्र से ले कर दशहरा और दीवाली के साथ ही साथ वैडिंग सीजन में बाजार में उछाल आ जाएगा. माहौल को खुशनुमा बनाने के लिए कारोबारियों ने स्थानीय अखबारों में अपने बिजनैस के प्रचारप्रसार के लिए विज्ञापन भी दिए.

तालाबंदी और कोरोना के प्रभाव में 24 पेज के अखबार 12 और 16 पेज पर सिमट कर रह गए थे. खुशनुमा माहौल बनाने के लिए अखबारों में सब से अधिक खबरें बाजार की तैयारियों की छपने लगी.

विज्ञापनों से भी अधिक, अखबारों ने अपने लेखों व समाचारों के जरिए खुशनुमा माहौल बना कर ग्राहकों को बाजार की तरफ लाने का काम किया. दीवाली और धनतेरस में बाजार में तेजी आए, इस के लिए उन दिनों होने वाली बाजारों की साप्ताहिक बंदी को भी कैंसिल कर के दुकानें खोली गईं. इस के बाद भी बाजार मंदी में डूबे रहे. बाजारों में बिजली की चमक जरूर थी पर कारोबारियों के चेहरों की चमक गायब ही रही.

दीवाली आई लेकिन बाजारों की फीकी रौनक से साफ जाहिर था कि लोगों की जेब खाली है.

दीवाली पर छाई रही तालाबंदी

दीवाली तो आई पर पहले की तरह लक्ष्मी नहीं आई. 2019 की दीवाली के मुकाबले इस साल की दीवाली बेहद फीकी रही. लौकडाउन और कोरोना के दौरान छाई मंदी कारोबार को उबरने नहीं दे रही है. पिछले साल के मुकाबले इस साल दीवाली के कारोबार में 40 फीसदी कारोबार कम रहा. दीवाली के समय में सोनेचांदी, वाहन, मिठाई, ब्यूटी सैलून, रिटेल और कपड़ों के कारोबार में तेजी आती थी. फैस्टिवल सीजन के साथसाथ विंटर के वैडिंग सीजन होने से भी कारोबार में उछाल रहता था.

विनोद माहेश्वरी

सर्राफा एसोसिएशन के महामंत्री विनोद माहेश्वरी कहते हैं, "दीवाली के पहले धनतेरस वाले दिन सामान्यतौर पर से सब अधिक खरीदारी होती थी. हमारी दुकान कई पीढ़ियों से लखनऊ के चौक बाजार की सर्राफा गली में खुली है. 30 साल से मैं खुद दुकान पर बैठ रहा हूं.

'सब से बड़ी मंदी इस साल की दीवाली में देखने को मिली है. चांदी के सिक्कों की खरीदारी में भी पहले जैसी तेजी नहीं थी. लोगों ने असली चांदी के सिक्कों की जगह लक्ष्मी, गणेश वाले सस्ते चांदी के सिक्कों की खरीदारी की. केवल हमारी दुकान में ही नहीं, पूरे सर्राफा कारोबार का यही हाल रहा है.

Continue reading your story on the app

Continue reading your story in the magazine

MORE STORIES FROM SARITAView All

बिगड़ती अर्थव्यवस्था का जिम्मेदार कौन कोरोना या सरकार की नीतियां

देश की अर्थव्यवस्था इस समय नाजुक दौर से गुजर रही है. लोगों के पास खर्च करने को पैसा नहीं है जबकि महंगाई चरम पर है. सरकार इस स्थिति का जिम्मेदार कोरोना को बता रही है. लेकिन क्या सिर्फ कोरोना ही जिम्मेदार है?

1 min read
Sarita
April First 2021

बच्चों की इम्यूनिटी को बढ़ाएं ऐसे

छोटे बच्चों में इम्यूनिटी कम होने के चलते अधिक इन्फैक्शन होने का खतरा बना रहता है. इस कारण आजकल पेरेंट्स के सामने सब से बड़ा प्रश्न बच्चों की हैल्दी डाइट को ले कर रहता है. सो यहां जानते हैं कि बच्चों की इम्यूनिटी कैसे बढ़ाएं.

1 min read
Sarita
April First 2021

धर्म बेचता ओटीटी

हिंदी के ओटीटी प्लेटफौर्स पर अब धर्म और सैक्स का कारोबार फलफूल रहा है. युवाओं का ब्रेनवाश करने के लिए धर्म को सैक्स की चाशनी में डुबो कर बेचा जा रहा है. जीवन व देश के मुद्दों की बातें गायब हैं. वही हो रहा है जो सरकार व धर्म के ठेकेदार चाहते हैं. कभीकभार थोड़ा सच कोई परोस भी देता है तो धर्म के धंधेबाज व अंधभक्त इतना हल्ला मचाते हैं कि देश, धर्म तथा संस्कृति सब खतरे में पड़ते नजर आने लगते हैं. पेश है इस गोरखधंधे पर खास रिपोर्ट.

1 min read
Sarita
April First 2021

धर्म के शब्दजाल में उलझते लोग

जो मिल जाए उस से संतुष्ट हो लो और जो न मिले उस के प्रति असंतुष्टि मत जताओ यानी स्थितप्रज्ञ हो जाओ.भगवान की तरह सरकार से सवाल मत करो और न ही असहमति प्रकट करो, इसी में सार है. क्या ऐसा हो सकता में खुश और दुख में व्यथित न हो? है कि कोई सुख

1 min read
Sarita
April First 2021

आप के पीछे नौकरी भागे

सरकारी नौकरी का आकर्षण पहले भी था और आज भी पढ़ेलिखे नौजवान सरकारी नौकरी के पीछे जीतोड़ मेहनत करते हैं लेकिन अकसर निराशा हाथ लगती है. ऐसे में स्वरोजगार और प्राइवेट जौब के औप्शन बेहतर कह सकते हैं.

1 min read
Sarita
April First 2021

कांग्रेस से डरी हुई डबल इंजन सरकार

कांग्रेस पार्टी का सब से खराब समय होने के बावजूद भाजपा को आज भी उस की आहट डरा रही है. मोदी और शाह अपनी सरकार के कार्यकाल की रीतिनीति और उपलब्धियों का बखान करने की जगह कांग्रेस के 70 साल का अपना पुराना राग आलाप रहे हैं. इस डर के पीछे आखिर वजह क्या है?

1 min read
Sarita
April First 2021

"जंगल और जंगली जानवरों को नाश कर विकास किया जाना ठीक नहीं" श्रिया पिलगांवकर

'मिर्जापुर' सीरियल में स्वीटी के किरदार को कौन नहीं जानता.मस्तमौला, बिंदास, बेधड़क. अपनी अलग ही फैनबेस बना कर स्वीटी का किरदार निभाने वाली श्रिया पिलगांवकर अब फिल्म 'हाथी मेरे साथी' में क्या अलग कर रही हैं, जानते हैं.

1 min read
Sarita
April First 2021

अब राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार हुए भगवा

राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार की चयन प्रक्रिया सवालों के घेरे में है. यह महज संयोग है, प्रयोग है या एक प्रकार का लालच. जो भी है, हकीकत यह है कि जो कलाकार, फिल्मकार भाजपा सरकार की विचारधारा के पक्ष में हैं, उन का चयन तो होगा ही.

1 min read
Sarita
April First 2021

महाराष्ट्र ड्रामे का अर्धसत्य

राजनीतिक संरक्षण में फलताफूलता पुलिसिया भ्रष्टाचार कभी किसी सुबूत का मुहताज नहीं रहा.इस के लिए किसी एक दल या नेता को ही गुनाहगार नहीं ठहराया जा सकता. असल जिम्मेदार तो वह सिस्टम है जिसे लोग अकसर कोसा करते हैं. महाराष्ट्र का ड्रामा इस का अपवाद नहीं, जिस पर मुद्दे की बात कम राजनीति ज्यादा हुई.

1 min read
Sarita
April First 2021

तीरथ सिंह बने मुख्यमंत्री 'अपना पत्ता' किया फिट

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री को हटा कर भाजपा ने अपने नेताओं को संदेश देने का काम किया है कि हर विद्रोह को दबाया जाएगा. कांग्रेस की तरह अब भाजपा में भी विद्रोही स्वरों को दबाने के लिए पार्टी नेताओं पर हाईकमान के फैसले थोपे जाने की शुरुआत हो गई है.

1 min read
Sarita
March Second 2021
RELATED STORIES

A Squeeze on the Global Middle Class

An estimated 150 million people slipped down the economic ladder in 2020, the first setback in almost three decades

10 mins read
Bloomberg Businessweek
April 12, 2021

Unlocking the Mysteries of Long COVID

A growing g number of clinicians are on an urgent quest to find treatments for a frighteningly pervasive problem. They’ve had surprising early success.

10+ mins read
The Atlantic
April 2021

Our Sad Souvenirs of The Pandemic

Americans can’t go anywhere, but we’re still buying the T-shirt.

9 mins read
The Atlantic
April 2021

Spring Break Staycation

Travel plans on hold this year? No worries—home is where it’s happening. Here’s how to map out the ideal anti-getaway right in your own backyard...

3 mins read
Girls' Life magazine
April/May 2021

The Long Game: Covid Changed The Way We Play, Watch, Cheer

It’s the predictable rhythm of sports that draws us in.

8 mins read
AppleMagazine
March 12, 2021

EMPLOYEE ENGAGEMENT IN THE LAST LEG OF THE PANDEMIC AND BEYOND

The pandemic has forcibly separated teams, resulting in many employees forced to work remotely which has led them to feel isolated and disconnected.

5 mins read
Industry Leaders
March 2021

At Least There's One CovidProof Business Model in Art

Galleries are doing great. Museums? Not so much.

5 mins read
Bloomberg Businessweek
March 01, 2021

WALMART SALES STILL SURGING, BUT A CHILL MAY BE ON THE WAY

Walmart is raising wages for 425,000 of its 1.5 million U.S. workers and is investing $14 billion this year to speed up its distribution network as the nation’s largest retailer navigates vast industry changes that were accelerated by the pandemic.

2 mins read
Techlife News
Techlife News #486

Facebook Steps Up Vaccine Misinfo Efforts. Will It Work?

As inoculation efforts for the coronavirus ramp up around the world, Facebook says it’s going all in to block the spread of bogus vaccine claims.

1 min read
AppleMagazine
Feburary 12, 2021

As Virus Cuts Class Time, Teachers Have To Leave Out Lessons

English teachers are deciding which books to skip. History teachers are condensing units. Science teachers are often doing without experiments entirely

5 mins read
AppleMagazine
AppleMagazine #484