बच्चों को बनाया जा रहा है हिंदू मुसलिम ईसाई
Sarita|November Second 2020
बचपन में हम सभी ऐसी मान्यताओं का शिकार थे जिन का कोई वैज्ञानिक आधार नहीं हुआ करता था. जो चीजें हम अपने घर, अपने दोस्तों से सीखा करते थे, बड़े होने के बाद कहीं न कहीं वही हमारी पहचान बन गईं. व्यक्तित्व निर्माण में धार्मिक अंधविश्वास, रूढिबद्ध धारणाएं आदि का बड़ा रोल होता है. बड़े हो कर क्या हम उन्हें त्याग देते हैं या फिर अपने बच्चों में उन्हीं अवैज्ञानिक मूल्यों को इंजैक्ट करते हैं?
शाहनवाज

लंबे समय बाद मैं कुछ दिनों पहले ही घर वालों के साथ गांव गया. हमारा गांव स्टेशन से बहुत दूर है, इसलिए स्टेशन के नजदीक बड़ी बहन के घर पर हम लोग रुके. बहन के 2 बच्चे हैं जिन की उम्र में 10 वर्षों का गैप है. छोटे बेटे की उम्र करीब 3 साल है.

घर पहुंचते ही मेरे छोटे भांजे ने तुतलाती जबान में हम सब को सलाम किया. यह देख कर पिताजी और मां बेहद खुश हुए और उस के सलाम का जवाब देते हुए उसे गोद में उठा कर प्यार करने लगे. मुझे यह देख कर थोड़ा सा अजीब लगा. उस समय मेरे दिमाग में आया कि इतना छोटा बच्चा, जो अभी तक, शायद, अपने मांबाप का नाम तक न जानता होगा, और शायद, अपने नाम से भी अच्छे से परिचित न होगा, उसे यह पता है कि कोई घर पर आता है तो उसे क्या बोलना है.

हम नहाधो कर खाना खाने बैठे थे और मेरे मुंह तक पहला निवाला पहुंचा ही था कि छोटे भांजे ने मुझे टोक दिया, बोला, 'मामा, खाने से पहले दुआ नहीं पालोगे क्या?' मैं कुछ बोलता, इस से पहले दीदी ने भांजे को डपटते हुए कहा कि 'इतनी दूर से आए हैं, चुपचाप शांति से खाने दो. और तुम बाहर जा कर खेलो.'

यहां तक तो ठीक था, लेकिन शाम को नमाज के वक्त मैं ने देखा कि वही भांजा अपने पिता के साथ नमाज पढ़ने के लिए बैठा है. यह तो मुझे पता ही था कि इतना छोटा बच्चा है, उसे क्या ही पढ़ना आता होगा. वह, बस, अपने पिता की नकल कर रहा था. लेकिन उस का अपने पिता के साथ नमाज पढ़ने के लिए बैठना देख कर मेरे दिमाग में सवालों का बवंडर सा बनने लगा. इतने छोटे बच्चे को इतना सबकुछ करता देख मेरे मन में उत्सुकता की बाढ़ आ गई थी.

मेरी बहन ने बातों ही बातों में बताया कि वे अपने छोटे बेटे को बड़ा हो कर मौलवी के रूप में देखना चाहती हैं, इसीलिए वे अभी से ही उसे बेसिक चीजें घर पर सिखा रही हैं. लोगों के घर आने पर क्या बोलना है, खेलखेल में या फिर यों ही किसी के पैर लग जाए तो क्या बोलना है, खाना खाने से पहले क्या पढ़ना है और भी कई चीजों के बारे में घर वाले उस छोटे से बच्चे को पहले से ही ट्रेनिंग दे रहे हैं.

बच्चे को परिवार बनाते हैं धार्मिक

17वीं सदी के मशहूर दार्शनिक जौन लौक ने एक आर्टिकल में लिखा था कि जब बच्चा पैदा होता है तो उस का दिमाग 'टेबुला रासा' होता है. टेबुला रासा का अर्थ खाली ब्लैकबोर्ड होता है. बड़ा होने के दौरान वह अपने परिवार, उस के बाद समाज से चीजें सीखता है और उसी अनुसार व्यक्ति का निर्माण होता है.

बच्चे का दिमाग क्योंकि कागज के खाली पन्ने समान होता है इसलिए बचपन में सिखाई हुई हरेक चीज वह अपनी पहचान के साथ जोड़ लेता है. कुछ ऐसा ही काम हमारा समाज घर के बच्चों के साथ करता है.

Continue reading your story on the app

Continue reading your story in the magazine

MORE STORIES FROM SARITAView All

रोडरेज की समस्या

बढ़ते सड़क हादसों के साथ रोडरेज यानी रास्ते चलते झगड़ा, गालीगलौज और मारपीट करने की घटनाएं भी तेजी से बढ़ रही हैं. रोड पर लोग छोटीछोटी बातों पर भी हिंसक होने लगे हैं. आखिर ऐसा क्यों?

1 min read
Sarita
January First 2021

ममता से बंगाल छीनने की ललक

ममता बनर्जी के राजनीतिक सफर की कामयाबी पर उन के प्रतिद्वंदियों को रश्क होता है. आज ममता और बंगाल एकदूसरे के पर्याय हैं, जिस में सेंध लगाने की कोशिश हर राजनीतिक पार्टी कर रही है. फिर चाहे वह कांग्रेस हो, वाम पार्टियां या भाजपा हों.

1 min read
Sarita
January First 2021

लव जिहाद पौराणिकवाद थोपने की साजिश

पौराणिकवादी विचारधारा का पोषक राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ हिंदू लड़कियों को आजाद नहीं छोड़ना चाहता. वह उन्हें अपनी पसंद का जीवन जीने या जीवनसाथी चुनने का अधिकार नहीं देना चाहता. मनुवादी व्यवस्था का समर्थक संघ पितृसत्ता को प्रभावशाली बनाना चाहता है ताकि ब्राह्मणों की दुकान चलती रहे. लव जिहाद का नाम ले कर बनाए गए धर्मांतरण कानून के जरिए हिंदू स्त्री को दहलीज के भीतर धकेले रखने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है, लेकिन यह 'सरकारी हिंदुत्व' लव जिहाद की आड़ में और भी बहुतकुछ करना चाहता है.

1 min read
Sarita
January First 2021

डाक्टरों के लिए मरीज का मनोविज्ञान जरूरी

मरीज शारीरिक रूप से ही नहीं, मानसिक रूप से भी बीमार होता है. डाक्टर और दवा के साथसाथ उसे मानसिक रूप से संतुष्ट कर दिया जाए तो उपचार के और बेहतर परिणाम सामने आएंगे.

1 min read
Sarita
January First 2021

नया साल कुछ नया करें

नया साल आता है और एक बार फिर मन करता है कुछ नया करने का. वैसे भी आने वाला साल पिछले सालों से कुछ अलग होगा. सुखदुख को अपने में समेटे आइए आगे बढ़ कर नए साल के लिए कुछ नया सोचें और नया करें.

1 min read
Sarita
January First 2021

नया साल नया फोन

नए साल की शुरुआत करें एक नए फोन के साथ. लेकिन अपने बजट का भी रखें पूरा ध्यान. यहां आप को स्मार्टफोन की दुनिया के सब से बेहतर फीचर्स के साथ बेहतरीन फोन की जानकारी प्राप्त होगी.

1 min read
Sarita
January First 2021

औनलाइन फास्टिंग

वर्क फ्रोम होम यानी तकरीबन पूरा काम औनलाइन. जो भी नैट के जरिए ड्यूटी कर रहे हैं उन की ड्यूटी का समय तय नहीं है. वे 24x7 ड्यूटी पर रहते हैं. ऐसे में वे तमाम प्रोब्लम्स के शिकार हो रहे हैं. सो, उन्हें चाहिए कि वे औनलाइन फास्टिंग करें.

1 min read
Sarita
January First 2021

किसान आंदोलन उलट आरोपों से बदनाम कर राज की तरकीब

सरकार ने अपने पुराने हथियार को निकाल कर किसान आंदोलन में माओवादियों, देशद्रोहियों के शामिल होने का हल्ला मचाना शुरू किया तो कितने ही हिंदी, अंगरेजी चैनलों व अखबारों ने इस हल्ले को सरकार की फेंकी हड्डी समझ कर लपकने में देर न लगाई रातदिन एक कर दिए.

1 min read
Sarita
January First 2021

हवेली चाहे जाए मुजरा होगा ही

निजीकरण के फायदे वही गिना रहे हैं जिन की जेब में मोटा पैसा है. इन में से 90 फीसदी वे ऊंची जातियों के अंधभक्त हैं जो सरकार के लच्छेदार जुमलों के झांसे में आ जाते हैं. इन में से कई लोग शौक तो सरकारी नौकरी का पालते हैं लेकिन सरकारी कंपनियां बिक जाएं, तो उन पर कोई फर्क नहीं पड़ता. ऐसे में युवाओं को सोचना है कि बिन सरकारी कंपनी के सरकारी नौकरी कैसे संभव है.

1 min read
Sarita
January First 2021

लक्ष्मी पूजन फिर भी जेब खाली की खाली

कोरोना के नाम पर पूरे देश में केंद्र सरकार द्वारा असफल तालाबंदी लागू की गई. परिणाम इतना भयावह है कि तालाबंदी थोपे जाने के 8 माह बाद भी देश किसी भी स्तर पर संभल नहीं पाया है. मजबूरीवश देशवासियों ने इस साल तमाम त्योहारों पर हाथ भींच लिए और अब दीवाली, शादियों की धूमधाम भी तालाबंदी की भेंट चढ़ रही है.

1 min read
Sarita
December First 2020
RELATED STORIES

KEEP ON TRUCKING

NOT EVEN A PANDEMIC CAN STOP AMERICA'S LOVE AFFAIR WITH THE PICKUP TRUCK

10+ mins read
Motor Trend
February 2021

Classic Car Rust Prevention: How to Seal the Floor Pan of Your Ride with POR-15

So, you bought a “new to you” project car and want to start the build right. That means tearing out the interior and making sure the floor pans are sealed and rust free. If you find Swiss cheese, check out “How to Fabricate and Install Replacement Floor Pans” on hotrod.com on how to replace your floor pans. If you find minor surface rust and the occasional pinhole, keep reading and we’ll show you everything you need to know about classic car rust prevention.

1 min read
Hot Rod
February 2021

Children's literature – Six-Pack

Scott Hobbs Bourne Proposes An Act Of Imagination

3 mins read
JUXTAPOZ
Winter 2021

coach SPEAK

Head coach Brian Flores offers his thoughts on a wide variety of topics, including blocking outside noise, a breakdown of Emmanuel Ogbah’s skill set, Christian Wilkins’ athletic ability, the old-school uniforms, and more

5 mins read
Dolphin Digest
December 2020

Entrevista a Anahí – #RBDPORSIEMPRE

El reencuentro más esperado, la banda que cantará luego de 12 años y un concierto virtual que busca romper récord de ventas a nivel mundial. De todo esto, nos habla Anahí en entrevista exclusiva.

8 mins read
Caras México
Diciembre 2020

ULTIMATE ADVENTURE

PART 1: INTO AMERICA’S WILDERNESS

10 mins read
Four Wheeler
January 2021

RAISING HELL OVER ‘BIG BROTHER' BIBLE!

Julie’s going-away gift sparks complaints

1 min read
National Enquirer
November 23, 2020

GAGA FREEZES EGGS AS MATERNAL INSTINCT THAWS

BABY-CRAZY Lady Gaga said if she doesn’t have a ring on her finger by her 35th birthday in March, she plans to freeze her eggs to make sure she doesn’t miss her chance to become a mom, sources dished.

1 min read
National Enquirer
November 23, 2020

An Epic Phone-a-Thon

India’s smartphone shoppers will be spoiled for choice this festive season

4 mins read
Bloomberg Businessweek
November 09, 2020

A Chicago Press for the People

On September 24, 2009, sixteen-year-old student Derrion Albert was beaten to death outside of Christian Fenger Academy High School, on the South Side of Chicago, in broad daylight. Though there were many witnesses, one of whom captured the attack on cell-phone video, no one stepped in to help. The footage of the murder went viral, highlighting the severity of the city’s youth violence epidemic, as Albert was the third teenager killed in Chicago that month.

4 mins read
Poets & Writers Magazine
November - December 2020