“मैं सिर्फ जीवन जीता हूं" नमित दास
Sarita|September First 2020
अभिनेता नमित दास ने बौलीवुड ही नहीं, बल्कि छोटे परदे और कुछ वैब सीरीज में भी हाथ आजमाया है. साथ ही, वे संगीत का भी शौक रखते हैं और म्यूजिकल नाटक कर चुके हैं. ऐसी ही और भी अनसुनी बातें हैं जिन पर नमित ने खुल कर बात की.
शांतिस्वरूप त्रिपाठी

वर्ष 2009 में प्रदर्शित फिल्म 'वेक अप सिड' से ऋषि अतुल रहेजा के किरदार में एक नए अभिनेता नमित दास का उदय हुआ था. लोगों ने इस फिल्म को देखने के बाद नमित दास को भविष्य का सुपरस्टार कहा था. संगीतज्ञ परिवार में जन्मे और संगीत के माहौल में परवरिश पाने वाले नमित दास भले ही सुपरस्टार न बने हों, मगर बौलीवुड में उन की गिनती उत्कृष्ट कलाकार के रूप में होती है. वे संगीत के क्षेत्र में भी कुछ न कुछ करते आ रहे हैं. 18 वर्षों के कैरियर में वे 'वेक अप सिड', 'लफंगे परिंदे', 'सुई धागा', 'पताका' जैसी फिल्में, 'सुमित संभाल लेगा' सहित कई सीरियलों और 'आर्या' व 'माफिया' जैसी दर्जनभर वैब सीरीज में अपने अभिनय का लोहा मनवा चुके हैं. वे मीरा नायर निर्देशित वैब सीरीज 'अ सूटेबल बौय' को ले कर उत्साहित हैं, जोकि विक्रम चंद्रा के इसी नाम के उपन्यास पर आधारित है. प्रस्तुत हैं नमित दास से हुई एक्सक्लूसिव बातचीत के खास अंश...

आप के पिता महान गायक हैं. आप ने भी संगीत की शिक्षा ली पर अभिनय में अपना कैरियर बनाया. इस पर नमित बताते हैं, अभिनय को कैरियर बनाने के पीछे मेरी कोई सोच नहीं थी. इंसान वह जिंदगी जीता है जिसे वह चुनता है. लेकिन होता यह है कि जिंदगी खुद जीने के अपने रास्ते चुनती जाती है. इंसान इन्हीं चयनित चरित्रों को अपने हिसाब से जीना चाहता है. तकलीफ इसी में आती है. लेकिन मुझे लगता है कि मैं ऐसा इंसान हूं जो जिंदगी जीता है और उस के सामने जो चीजें आती हैं उन्हें समाहित करता जाता है और सफल होने की कोशिश करता है.

Continue reading your story on the app

Continue reading your story in the magazine

MORE STORIES FROM SARITAView All

कोरोना का कहर- घरघर में मौतें हो रही हैं जबकि सरकार महल व मंदिर बनाने की जिद पर अड़ी है

अब हर घर कोरोना का शिकार है क्योंकि लाखों के अपने छिन गए हैं. जिस मुश्किल दौर में देश है, उस की कभी किसी ने कल्पना नहीं की थी, यह कोरोना का इलाज न मिलने की दहशत है. अफरातफरी और बुनियादी सहूलियतों का अभाव है, जिस ने सरकार की बेरहमी की कलई उधेड़ कर रख दी है. सत्ता का सुख भोगने के लिए सरकार चुनाव भी कराए जा रही है, संसद भवन बनाने में लगी है और मंदिर की ओर जा रही है.

1 min read
Sarita
May Second 2021

पैसे नहीं तो धर्म नहीं

कोरोना ने एक झटके में धार्मिक मान्यताओं की धज्जियां उड़ा दी हैं. कोरोना ने समझा दिया है कि घरपरिवारों में होने वाले सुखदुख के किसी भी अवसर को धर्म के साथ जोड़ने या हजारोंलाखों रुपए खर्च कर के धर्म के ठेकेदारों के हाथों कुछ करवाने की जरूरत नहीं है. यह बात जितनी जल्दी आम आदमी की समझ में आ जाए, एक बेहतर समाज व बेहतर देश बनाने के लिए उतना अच्छा होगा.

1 min read
Sarita
May Second 2021

भारतीय नारी और डेली सोप

क्या आप जानते हैं जिन सीरियलों को आप रोजाना टीवी पर देख रहे हैं वे कैसे महिलाओं के खिलाफ षड्यंत्र रच रहे हैं, कैसे हर समय महिलाओं के चालचलन, उठनेबैठने और चितचरित्र को पुरुषवादी एंगल से गढ़ने की कोशिश कर रहे हैं? नहीं न, तो पढ़ें यह लेख.

1 min read
Sarita
May Second 2021

नीरव मोदी- हीरा किंग से घोटालेबाज तक

नीरव मोदी कभी 'हीरा किंग' के नाम से मशहूर था, आज घोटालेबाज और भगोड़े के नाम से जाना जाता है. शानोशौकत और ऐशोआराम की जिंदगी गुजारने वाला नीरव आज लंदन की कालकोठरी के अंधेरे कोने में बैठा अपनी आजादी की भीख मांग रहा है और लंदन कोर्ट के हालिया फैसले के बाद अब उस के पास बच निकलने के मौके बहुत कम हैं.

1 min read
Sarita
May Second 2021

राजनीति के केंद्र में अब 'ममता फैक्टर'

पश्चिम बंगाल में भाजपा को मिली करारी हार ने मानो विपक्ष को संजीवनी ला कर दे दी हो. इस चुनाव ने यह दिखा दिया कि यदि सही रणनीति, कौशलता, सूझबूझ व कड़ी मेहनत से चुनाव लड़ा जाए तो भाजपा के धनबल, दमखम, मीडिया और सांप्रदायिक ध्रुवीकरण जैसी चालों को बुरी तरह मात दी जा सकती है. यही कारण है कि विपक्ष के पास अगले चुनावों में ममता फैक्टर ही सब से अधिक काम आने वाला है जिस की शुरुआत यूपी फतह से संभव है.

1 min read
Sarita
May Second 2021

तलाक हर औरत का अधिकार

तलाक हर औरत का मौलिक अधिकार होना चाहिए. आखिर वह धर्म और समाज के इशारे पर गुलामी, हिंसा और प्रताड़ना क्यों झेले? उसे किन परिस्थितियों में और कब तक पति के साथ रहना है, यह उस का अपना फैसला होना चाहिए और यह केरल हाईकोर्ट के हालिया फैसले से भी साफ हो गया है.

1 min read
Sarita
May Second 2021

किस पर निकाल रहे हैं सलमान अपना गुस्सा

ऐसे ही नहीं सलमान खान को सभी बौलीवुड का भाईजान कहते हैं. वे मौजूदा मुश्किल घड़ी में अपनी हर संभव मदद लोगों तक पहुंचाने की कोशिश में लगे हैं, साथ ही दोटूक नसीहत उन्हें दे रहे हैं जो इस आपदा को अवसर बना रहे हैं.

1 min read
Sarita
May Second 2021

घरेलू महिला कामगारों पर कोरोना की डबल आफत

आज देश में स्थिति इतनी गंभीर है कि लोगों के सामने आगे कुआं पीछे खाई वाली बात है. अगर वे बाहर काम के लिए निकलते हैं तो कोरोना का खतरा और घर पर रुकते हैं तो भूख से मरने का खतरा. इस मार के बीच घरेलू महिला कामगार कैसे जीवन निर्वाह कर रही हैं, जानें.

1 min read
Sarita
May Second 2021

अंधभक्तों की नई नस्ल

डिजिटल युग में नए तरह के भक्तों की नस्ल पैदा हुई है. सुबहशाम आंख मलते ये भक्त ट्विटर, फेसबुक पर गालीगलौज करते दिख जाते हैं. थोकभाव में मिलने वाले ये भक्त ऐसेवैसे नहीं, बल्कि राजनीतिकभक्त हैं.

1 min read
Sarita
May Second 2021

सरकार,जज और साख खोती न्यायव्यवस्था

कानून के कई जानकार मोदीकाल में भारत की न्यायिक स्वतंत्रता को ले कर चिंता जता चुके हैं. यह बात तथ्यों से सामने भी आई है कि न्यायिक प्रणाली में केंद्र सरकार का हस्तक्षेप दिनोंदिन बढ़ता जा रहा है. मोदी प्रशंसक जजों की नियुक्तियां प्रश्नचिह्न खड़ा कर रही हैं जबकि हालिया न्यायिक फैसले व अदालती टिप्पणियां की राजनीति को सूट करती हैं.

1 min read
Sarita
May Second 2021
RELATED STORIES

Born For One Thing

Joe Duplantier details the themes, tones and influences that led to Fortitude, GOJIRA’s cinematic, hard-hitting and uplifting new album (plus songcraft, Death, Whammy pedals and that fine-looking mahogany Charvel...)

10+ mins read
Guitar World
June 2021

Tetrarch – Addictively Unstable

Tetrarch’s Diamond rowe and Josh Fore are more than willing to take you back to the golden era of Nu-metal

7 mins read
Guitar World
June 2021

Fleshgod Apocalypse

Francesco Paoli lifts the lid on the symphonic death metal masters’ most vicious and vivacious cycle of songs thus far

3 mins read
Guitar World
April 2021

Meet Me @ The Altar

Guitarist Téa Campbell marries her pop-punk and emo influences

2 mins read
Guitar World
April 2021

Jan Akkerman – “Hocus Pocus”

Focus | Moving Waves, 1971 | Guitarist: Jan Akkerman

3 mins read
Guitar World
April 2021

Plini – Voices in The Sky

PLINI — the guy Steve Vai once called “the future of exceptional guitar playing” — discusses the perils of “guitar fame,” the challenges of a modern prog-rocker and his breathtaking new album, Impulse Voices

9 mins read
Guitar World
April 2021

Lost In Translation

Hey Siri, why don’t digital assistants understand people who don’t sound like white Americans?

8 mins read
Mother Jones
March/April 2021

2021: A Guitar Odyssey

Six successful guitarists from completely different backgrounds tackle the state of guitar in 2021, the repercussions of the digital universe, the future of guitar heroes, how to maintain one’s passion and unique voice amid the cacophony, living in the past, magic knobs and more

10+ mins read
Guitar World
February 2021

Black Magic Woman

A conversation with ORIANTHI: Her new album, “the biggest guitar gig in the world,” trading licks with ROBBY KRIEGER, marvelling at JEFF BECK — and, oh yeah, gear galore!

10+ mins read
Guitar World
February 2021

…And Now For Something Completely Different

Tired of the same old guitar colors, shapes and sizes? While you’re busy social distancing, go online and discover a completely new universe of six-string delights ready to be delivered to your door...

7 mins read
Guitar World
February 2021