लालू अब भी महत्वपूर्ण
India Today Hindi|May 12, 2021
लालू प्रसाद यादव आखिरकार चौथी बार में किस्मतवाले रहे. बिहार के इस पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के मुखिया चारा घोटाले से जुड़े कई मुकदमों में दोषी करार दिए जाने के बाद दिसंबर, 2017 से जेल में बंद थे. इससे पहले तीन दफा उनकी जमानत याचिका खारिज कर दी गई थी और शायद इसीलिए 17 अप्रैल को झारखंड हाइकोर्ट के आदेश ने पार्टी कैडर और बिहार में उनके समर्थकों के बीच उम्मीद की लहर पैदा कर दी.
अमिताभ श्रीवास्तव

फैसला आए अब एक हफ्ते से भी ज्यादा का वक्त हो चुका है लेकिन अस्वस्थ लालू का अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स), नई दिल्ली में इलाज चल रहा है. झारखंड में उनके वकील कोरोना संकट की वजह से अदालत से फैसले की प्रति हासिल नहीं कर पाए हैं, इसलिए तकनीकी रूप से वे अभी भी न्यायिक हिरासत में ही हैं. राजद सुप्रीमो इस साल जून में 73 साल के हो जाएंगे और मौजूदा हालात में ऐसा लगता है कि वे दिल्ली में कुछ समय बिताएंगे. परिवार से जुड़े सूत्रों का कहना है कि कुछ समय तक लालू एम्स में ही रहेंगे जब तक कि उन्हें अपनी बेटी और राज्यसभा सांसद मीसा भारती के राजधानी के घर में शिफ्ट न कर दिया जाए.

अपना नाम न छापने की शर्त पर बात करने वाले एक आला राजद नेता ने यह माना कि मुक्त लालू पार्टी में अधिक 'प्राणवायु फूंक सकते हैं'. वे कहते हैं, "राजनैतिक भेद से परे वे किसी भी व्यक्ति तक पहुंच सकते हैं. चाहे वह जीतनराम मांझी (हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा या हम), मुकेश सहनी (विकासशील इंसान पार्टी), असदुद्दीन ओवैसी की अगुआई वाले ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तिहादउल-मुसलमीन (एआइएमआइएम) या यहां तक कि खुद नीतीश कुमार हों, कोई भी लालू प्रसाद की सीमाओं से परे नहीं है. अगर लालू मौजूद हैं और आगे बढ़कर अगुआई करें तो उनकी स्वीकृति उतनी होगी, जितनी तेजस्वी कभी सोच भी नहीं सकते.'

Continue reading your story on the app

Continue reading your story in the magazine

MORE STORIES FROM INDIA TODAY HINDIView All

"अर्थव्यवस्था एक बड़ी चुनौती से दो-चार है पर उससे निबटने की हमारी परी तैयारी है"

कोविड की दूसरी लहर के बाद भारतीय अर्थव्यवस्था भले फिर से गहरे संकट में नजर आ रही हो लेकिन केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के आत्मविश्वास को देखकर लगता है कि स्थिति पूरी तरह से सरकार के नियंत्रण में है. ग्रुप एडिटोरियल डायरेक्टर राज चेंगप्पा बिजनेस टुडे के संपादक राजीव दुबे के साथ एक एक्सक्लूसिव बातचीत में वे अर्थव्यवस्था में नई जान डालने की योजना का खुलासा करती हैं. उसी बातचीत के अंशः

1 min read
India Today Hindi
June 16, 2021

देहात में छिपा दानव

ग्रामीण भारत में बेहद अपर्याप्त स्वास्थ्य ढांचे की बात सबको पता है, लेकिन आधिकारिक अनुमान संकट पर पर्दा डालते है जिससे महामारी के खिलाफ लड़ाई और मुश्किल हो जाती है।

1 min read
India Today Hindi
June 16, 2021

दंगल में भला कौन सुशील

हत्या के मामले में एक ओलंपिक पदक विजेता की गिरफ्तारी ने भारतीय कुश्ती की ग्लैमरस दुनिया की कठोर वास्तविकताओं पर से परदा उठाया

1 min read
India Today Hindi
June 16, 2021

तेजपाल बनाम राज्य अब हाइकोर्ट में

पत्रकारर-लेखक तरुण तेजपाल को कथित यौन उत्पीड़न के सनसनीखेज मामले में बरी करने के फैसले को गोवा सरकार ने चुनौती दी है. मील का पत्थर माने जाने वाले इस मामले में आखिर क्यों एक और ट्रायल होने जा रहा है

1 min read
India Today Hindi
June 16, 2021

कोविड प्रभावित गांव हैं चुनाव की समरभूमि

मई की 22 तारीख को, समाजवादी पार्टी (सपा) के संरक्षक मुलायम सिंह यादव के पैतृक गांव सैफई का पहली बार किसी गैर-सपाई मुख्यमंत्री ने दौरा किया. दरअसल, उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, इटावा जिले के सैफई में स्थित उत्तर प्रदेश आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय के कुलाधिपति हैं. सैफई विश्वविद्यालय के 200 बिस्तरों वाले एल-3 कोविड अस्पताल और सैफई ब्लॉक के गीजा गांव में कोविड को लेकर सरकारी तैयारियों का निरीक्षण करने के बहाने, योगी का गांव का यह दौरा एक सुविचारित कदम था.

1 min read
India Today Hindi
June 16, 2021

क्यों सुलग उठी रसोई?

पश्चिम दिल्ली के टैगोर गार्डन में रहने वाले 40 वर्षीय अजय कुमार को इन दिनों कोरोना वायरस के अलावा महंगाई भी डरा रही है. महीने के राशन का बिल बिना सामान बढ़ाए भी बढ़ा जा रहा है.

1 min read
India Today Hindi
June 16, 2021

आखिर कैसे रफ्तार पकड़े अर्थव्यवस्था

कोविड की दूसरी घातक लहर ने पहले से लहूलुहान अर्थव्यवस्था की चूलें हिला दी, उपभोक्ताओं का भरोसा, उद्योग-धंधों और रोजी-रोजगार की बहाली के लिए अब असाधारण नजरिए और कदमों की दरकार

1 min read
India Today Hindi
June 16, 2021

अर्थव्यवस्था बहाली का बेहतरीन नुस्खा

कोविड की दूसरी लहर ने देश की आर्थिक बहाली की नाजुक डोर पीछे खींच ली, बोर्ड ऑफ इंडिया टुडे इकोनॉमिस्ट्स का नजरिया कि कैसे लौटेगी गाड़ी पटरी पर

1 min read
India Today Hindi
June 16, 2021

अमरिंदर इस तूफान से पार पा जाएंगे?

यह पहली बार नहीं है जब पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को पार्टी के भीतर से उठे असंतोष का सामना करना पड़ रहा है. मुख्यमंत्री के रूप में अपने पहले कार्यकाल (2002-07) के दौरान, साल 2005 में उनकी डिप्टी राजिंदर कौर भट्टल ने विद्रोह का नेतृत्व किया था.

1 min read
India Today Hindi
June 16, 2021

मोदी-ममता की नई जंग

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री के रूप में ममता बनर्जी के लिए अपने तीसरे कार्यकाल का पहला महीना बड़ा तूफानी रहा. ऐसा प्रतीत होता है कि भाजपा के शीर्ष नेतृत्व ने चुनावी हार को दिल से लगा लिया है और वह ममता सरकार पर लगातार दबाव बनाए रखना चाहती है. कई केंद्रीय टीम राज्य में कानून और व्यवस्था की स्थिति की समीक्षा करने के लिए उतारी जा चुकी हैं और ऐसा लगता है कि वर्षों से चल रहे घोटालों की जांच के लिए जांच एजेंसियों की नींद अचानक खुल गई है.

1 min read
India Today Hindi
June 16, 2021
RELATED STORIES

An Art Essay Expressions - PART 2

In this delightful interview and art essay, BHAMINI SHREE shares her journey of expression through painting with MEGHANA ANAND. Through art, gradually she was able to manage her depression, expand her self expression, and also develop her art as a career. In part 2, Bhamini tells us more about Madhubani Folk Art.

6 mins read
Heartfulness eMagazine
June 2020

Expressions

In this delightful interview, BHAMINI SHREE shares her journey of expression through painting – both Madhubani folk art and abstract painting – with MEGHANA ANAND. Through art, gradually she was able to manage her depression, expand her self-expression, and also develop her art as a career.

6 mins read
Heartfulness eMagazine
April 2020

India Logs Highest Daily Spike Of 6,148 Deaths 94,052 New Cases Reported

Bihar covid death toll jumps by 72% after recount

2 mins read
Millennium Post Delhi
June 11, 2021

बिहार मेडिकल व इंजीनियरिंग की छात्राओं के लिए 33% सीटें आरक्षित

सीएम नीतीश का बड़ा फैसला

1 min read
Haribhoomi Delhi
June 03, 2021

A Tool for COVID-safety

GOOD NEWS for a Better Planet

3 mins read
Reader's Digest India
May 2021

गंगा में बहकर आए शव दफनाए

बक्सर और बलिया में गंगा में शवों के बह कर आने का सिलसिला मंगलवार को भी जारी रहा। बक्सर के चौसा श्मशान घाट के पास सोमवार से मंगलवार तक 71शव उपलाते मिले। वहीं, बलिया में बिहार की सीमा पर गंगा में 62 लाशें मिलीं। सभी शवों को प्रशासन की टीम को दफना दिया। एक साथ इतनी लाशें देख स्थानीय लोगों में तरह तरह की चर्चाएं और खौफ का माहौल है।

1 min read
Hindustan Times Hindi
May 12, 2021

Stop people from dumping bodies in Ganga, its tributaries: Centre

BODIES SEEN FLOATING IN UP’S BALLIA, GHAZIPUR; 71 BODIES FISHED OUT IN BIHAR SO FAR

2 mins read
Millennium Post Delhi
May 12, 2021

Bihar: Bodies of suspected Covid victims spotted in Ganga

Official says there were 40-45 bodies. However, some news channels and locals put the number between 100 & 150

2 mins read
Millennium Post Delhi
May 11, 2021

Munger auto driver converts vehicle into ambulance with O2

HELPING HAND

1 min read
The Morning Standard
May 08, 2021

कोविड-19 के मामलों में वृद्धि के चलते बिहार में 15 मई तक लॉकडाउन

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी के कारण राज्य में 15 मई तक लॉकडाउन लागू करने की मंगलवार को घोषणा की। नीतीश ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा, कल सहयोगी मंत्रीगण एवं पदाधिकारियों के साथ चर्चा के बाद बिहार में फिलहाल 15 मई तक लॉकडाउन लागू करने का निर्णय लिया गया। इसके विस्तृत मार्गनिर्देशिका एवं अन्य गतिविधियों के संबंध में आज ही आपदा प्रबंधन समूह को कार्रवाई के लिए निदेश दिया गया है।

1 min read
Samagya
May 05, 2021