मुलायम परिवार में गहरी होती दरार
India Today Hindi|April 28, 2021
प्रदेश के सबसे बड़े सियासी कुनबे में आपसी कलह गहराती जा रही.भाजपा ने इसका फायदा उठाते हुए उसके प्रभाव वाले इलाकों में अपनी मोर्चेबंदी तेज की
आशीष मिश्र

कभी अपने राजनीतिक रंग के लिए देश भर में पहचानी जाने वाली सैफई की होली में इस बार 29 मार्च को दूसरे ही रंग दिखाई दे रहे थे. हर बार समाजवादी पार्टी (सपा) के संरक्षक मुलायम सिंह यादव इटावा में अपने गांव सैफई में परिवार समेत होली खेलते आ रहे थे. होली का त्योहार ही एक ऐसा मौका होता था जब सैफई में मुलायम का पूरा परिवार रंग खेलने जुटता था. इस बार सेहत ठीक न होने की वजह से मुलायम सिंह यादव ने सैफई में होली से दूरी बनाए रखी थी. वे लखनऊ स्थित अपने आवास पर ही मौजूद थे. मुलायम की गैर मौजूदगी में सैफई की होली दो खेमों में बंट गई थी. एक खेमे में जहां उनके छोटे भाई शिवपाल सिंह यादव थे तो दूसरी ओर सपा प्रमुख अखिलेश यादव, भाई रामगोपाल यादव और परिवार के तमाम छोटेबड़े राजनीतिक, गैर राजनीतिक सदस्य थे. सैफई में मुलायम की कोठी पर सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव अपने समर्थक परिवारिक सदस्यों और नेताओं के साथ होली का मंच सजाए हुए थे. तो यहां से कुछ ही दूरी पर, प्रगतिशील समाजवादी पार्टी-लोहिया का गठन कर चुके शिवपाल सिंह यादव पिता सुधर सिंह के नाम पर स्थापित किए एसएस मेमोरियल स्कूल में होली का जश्न मना रहे थे. मुलायम के आंगन में मन रहे होली के जश्न में अखिलेश यादव, रामगोपाल यादव, धर्मेंद्र यादव, तेजप्रताप यादव दिखाई दिए वहीं शिवपाल अपने बेटे आदित्य और समर्थकों के साथ एसएस मेमोरियल में ही रहे. इस तरह पहले जहां होली के मौके पर मुलायम कुनबा घर के आंगन में एक साथ जमा हुआ करता था, इस बार पूरी तरह से अलग-थलग नजर आया. होली के त्योहार ने यह संकेत कर दिया था कि चाचा और भतीजे के बीच दूरियां अब एक न मिटने वाली हकीकत बन गई हैं.

सैफई कुनबे के भीतर चल रही खींचतान उस वक्त और उजागर हुई जब मुलायम की भतीजी संध्या यादव को भारतीय जनता पार्टी ने मैनपुरी से जिला पंचायत सदस्य का प्रत्याशी घोषित कर दिया. संध्या मुलायम सिंह यादव के सबसे छोटे भाई अभय राम यादव की बेटी और बदायूं से पूर्व सांसद धर्मेंद्र यादव की बड़ी बहन हैं. संध्या ने 7 अप्रैल को भाजपा नेताओं के साथ मैनपुरी जिला पंचायत के वार्ड संख्या 18 के जिला पंचायत सदस्य के उम्मीदवार के रूप में अपना नामांकन किया.

Continue reading your story on the app

Continue reading your story in the magazine

MORE STORIES FROM INDIA TODAY HINDIView All

यानी बज गई घंटी!

विधानसभा चुनावों में निराशाजनक नतीजों ने ब्रांड मोदी पर भाजपा की निर्भरता को लेकर सवाल खड़े किए

1 min read
India Today Hindi
May 19, 2021

नाकामियों की त्रासदी

सामूहिक अत्येष्टियां, अस्पताल में बिस्तरों के लिए मारामारी चिकित्सा ऑक्सीजन के लिए हायतौबा, हर तरफ हाहाकार, पारिवारिक त्रासदियां-कोविड की दूसरी लहर के डरावने नजारों देश की राज्यसत्ता की धीर नाकामी को बेनकाब कर दिया

1 min read
India Today Hindi
May 19, 2021

दीदी से दुर्गा

ममता बनर्जी की जीत ने न केवल बंगाल बल्कि देशभर की विपक्षी ताकतों में उम्मीद पैदा कर दिया है जो भगवा ब्रिगेड की अनवरत चढ़ाई को रोकने की आस लगाए हुए हैं

1 min read
India Today Hindi
May 19, 2021

देहात में फीका पड़ा कमल

उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव

1 min read
India Today Hindi
May 19, 2021

डांवाडोल नाव

चुनावों में घटिया प्रदर्शन के बाद कांग्रेस के लिए फिर से करो या मरो की स्थिति बन गई है. अगर पार्टी खुद को सुधारने के लिए एक ईमानदार प्रयास कर सके तो यह अभी भी विपक्ष को एकजुट करने वाली ताकत बन सकती है

1 min read
India Today Hindi
May 19, 2021

अब यहां एकछत्र राज

केरल में बाम मोर्चे की लगातार दूसरी जीत से पिनाराई विजयन की राज्य में एक के बाद एक संकटों से निबटने की काबिलियत और राजनैतिक अफसाने पर मजबूत पकड़ साबित हुई

1 min read
India Today Hindi
May 19, 2021

चूकता ब्रह्मास्त्र

हाल में संपन्न हुए चार राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश के चुनावों में ध्रुवीकरण की लंबे समय से की जा रही कोशिशें अपेक्षित कामयाबी नहीं दे पाईं, तो, क्या ध्रुवीकरण का आकर्षण मतदाताओं में कम होने लगा?

1 min read
India Today Hindi
May 19, 2021

सुपुत्र के हाथ आई सत्ता

एम.के. स्टालिन के चुनावी वादे वोटरों को ठीक लगे अब सबकी निगाहें इस पर हैं कि नए मुख्यमंत्री उन पर कैसे अमल करते हैं

1 min read
India Today Hindi
May 19, 2021

भयावह आपदा

संक्रमण के बेतहाशा बढ़ते मामलों के बीच ग्रामीण इलाकों में खस्ताहाल स्वास्थ्य सेवा तंत्र और किसी तरह की तैयारी के अभाव कोविड के खिलाफ लड़ाई में गंभीर बाधाएं

1 min read
India Today Hindi
May 12, 2021

सवालों के घने दायरे

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबले ने कोरोना की दूसरी लहर से मचे हाहाकार के बीच 24 अप्रैल को बयान जारी किया, "समाज विघातक और भारत विरोधी शक्तियां इस गंभीर परिस्थिति का लाभ उठाकर देश में नाकारात्मक एवं अविश्वास का वातावरण खड़ा कर सकती हैं."

1 min read
India Today Hindi
May 12, 2021
RELATED STORIES

Asian Americans Are Ready for a Hero

After going from “model minority” to invisible minority to hunted minority, the community needs a new generation of cultural and political leaders

9 mins read
Bloomberg Businessweek
April 12, 2021

Are Power Tools Corrupting Us?

“Power tends to corrupt and absolute power corrupts absolutely.” —First Baron Acton, 1904

6 mins read
Small Craft Advisor
November - December 2020

The Collaborators

What causes people to abandon their principles in support of a corrupt regime? And how do they find their way back?

10+ mins read
The Atlantic
July - August 2020

Count Me Out

Letting states decide who gets representation is the new front in the Republican War on Voting Rights.

10+ mins read
Mother Jones
January/February 2020

India Election Body Struggles With Scale Of Fake Information

When India’s Election Commission announced last month that its code of conduct would have to be followed by social media companies as well as political parties, some analysts scoffed, saying it lacked the capacity and speed required to check the spread of fake news ahead of a multi-phase general election that begins April 11.

4 mins read
AppleMagazine
April 5, 2019

India At A Crossroads

India is known as the land of contradictions, and recent events do little to undermine that reputation.

6 mins read
Reason magazine
January 2019

Poll: Getting Facts Right Key to Americans' Trust in Media

Actor Omar Sharif (1932-2015) will always be remembered for his roles in Lawrence of Arabia and Doctor Zhivago.

4 mins read
Techlife News
April 24,2016

How The New Political Correctness Is Ruining Education

Todays college students can't seem to take a joke.

10+ mins read
The Atlantic
September 2015

शुभेदु अधिकारी चुने गए विधानसभा में विपक्ष के नेता, मनोज टिग्गा बने उपनेता

मुकुल रॉय ने शुभेंदु के नाम का प्रस्ताव दिया, 22 विधायकों ने किया समर्थन

1 min read
Samagya
May 11, 2021

हिमंत बिस्वा सरमा ने असम के 15वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली

भाजपा नेता और पूर्वोत्तर प्रजातांत्रिक गठबंधन के संयोजक हिमंत बिस्वा सरमा ने असम के 15वें मुख्यमंत्री के रूप में सोमवार को शपथ ली।

1 min read
Dakshin Bharat Rashtramat Chennai
May 11, 2021