योग एक मार्ग अनेक
Sadhana Path|June 2021
परमात्मा हो या परमशांति या फिर गणित का कोई भी छोटा सा सवाल। इन तक पहुंचने के या सवाल को हल करने के भले कई मार्ग व माध्यम होते हैं परंतु इनका उत्तर एक ही होता है ऐसे ही योग की भी विभिन्न शारवाएं हैं, विभिन्न आसन और अवस्थाएं हैं परंतु सबकी मंजिल, सबकि उपलब्धि एक ही है।
शशिकांत 'सदैव'

योग शब्द सुनते ही अधिकतर लोगों के मन-मस्तिष्क में शारीरिक आसन, प्राणायाम आदि आ जाते हैं। लोग सोचते हैं योग यानी योगासन । योगासन योग का ही एक हिस्सा है पर यह योग को सही मायने में परिभाषित नहीं करता। योग का अर्थ है 'जोड़' किन्हीं दो चीजों का मिलन, सन्धि। शरीर के विभिन्न आसनों के माध्यम से जब हम प्रकृति से जुड़ते हैं या अपने भीतर के अस्तित्व को बाहर के अस्तित्व से जोड़ते हैं तो उसे तथाकथित 'योगासन' कहते हैं। पर जब योग परमात्मा को, परमशांति को, परम आनंद को, परम शक्ति, परम सत्य व सत्ता को पाने के लिए किया जाता है तो इसका अर्थ और गहरा और भिन्न हो जाता है।

हर मनुष्य एक दूसरे से भिन्न है। सबका स्वभाव व प्रकृति भी अलग-अलग है। यही कारण है कि सबके विचार, मार्ग, उद्देश्य, सिद्धांत व मान्यताएं आदि भी भिन्न हैं। कोई अंतर्मुखी है तो कोई बहिर्मुखी, कोई आस्तिक है तो कोई नास्तिक, कोई व्यावहारिक है तो कोई औपचारिक, किसी का दृष्टिकोण वैज्ञानिक है तो किसी का काल्पनिक, कोई आध्यात्मिक है, तो कोई सांसारिक, इतनी भिन्नता के कारण ही आज धरती पर अनेक धर्म, वाद, भाषाएं, मान्यताएं, संस्कृति व परमपराएं आदि हैं पर इतनी भिन्नता के बावजूद भी जो सब में एक चीज सामान्य है वह है सुख-शांति की खोज, सुकून और आनंद की तलाश। फर्क ये है कि आस्तिक आदमी के मार्ग भावनाओं एवं संवेदनाओं से होते हुए परमात्मा तक जाते हैं और नास्तिक आदमी के मार्ग तर्क एवं व्यावहारिकता से होते तथ्य तक पहुंचते हैं। पर दोनों ही परम तक पहुंचना चाहते हैं फिर वह परम आत्मा हो या परम शांति, परम शक्ति हो या परम अस्तित्व, परम चेतन्य हो या परम मुक्त। उस परम को पाना सभी चाहते हैं।

शायद यही कारण है कि मानव की विभिन्न प्रकृति को ध्यान में रखकर ही उस 'परम' तक पहुंचने के कई मार्ग निर्मित किए गए हैं, जिन्हें विभिन्न योगों से जाना जाता है। साधना के ये विभिन्न योग मानव को उस परम' तक पहुंचाने में पूरी तरह से मदद करते हैं। ऊपरी दृष्टि से योग के यह मार्ग परस्पर भले ही भिन्न हैं परंतु मंजिल सबकी एक ही है। प्रारंभ सबका अलग-अलग है परंतु अंत एक ही है। फिर उसे मंत्र योग कहो या हठ योग, राज योग कहो या ज्ञान योग, भक्ति योग कहो या कर्म योग या फिर ध्यान योग । नाम और मार्ग ही भिन्न हैं परिणाम सबका एक है। किस तरह व कितने भिन्न हैं आपस में यह योग, यह जानना जरूरी है, जो इस प्रकार है-

मंत्र योग

Continue reading your story on the app

Continue reading your story in the magazine

MORE STORIES FROM SADHANA PATHView All

महान दार्शनिक, शिक्षाविद् एवं कुशल प्रशासक डॉ.राधाकृष्णन

डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन उन विद्वानों में से एक थे जो बहुतायत मानवीय गुणों एवं अद्भुत प्रतिभा के जगह एक महान भारतीय दार्शनिक के रूप में चिरस्थायी हैं। यह कहना अतिशयोक्ति न होगा कि स्वामी विवेकानंद और महर्षि अरविंद के बाद यदि कोई भी भारतीय दार्शनिक ने पूर्व की दार्शनिक मान्यताओं को पश्चिम में यथोचित जगह दिलाने हेतु काम करके एक नवीन विचार धारा का निरुपण किया, तो वे डॉ. राधाकृष्णन ही थे।

1 min read
Sadhana Path
September 2021

संकट हरण है अनंत चतुर्दशी व्रत

भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्दशी को अनंत चतुर्दशी व्रत कहा जाता है। इस दिन भगवान अनंत की पूजा की जाती है । व्रत का संकल्प लेकर अनंत सूत्र बांधा जाता है। इस व्रत को करने से संकटों का नाश और सुख-सौभाग्य की प्राप्ति होती है।

1 min read
Sadhana Path
September 2021

श्राद्ध की महिमा और महत्त्व

शास्त्रों के मुताबिक, मनुष्य के लिए तीन ऋण बताये गए हैं पहला देव ऋण, दूसरा ऋषि व तीसरा पितृ ऋण। इनमें पितृ ऋण को श्राद्ध या पिंडदान करके उतारना आवश्यक है क्योंकि जिन माता-पिता ने हमारी आयु, आरोग्यता तथा सुख-सौभाग्य की अभिवृद्धि के लिए अनेक प्रयास किए, उनके ऋण से मुक्त न होने पर हमारा जन्म लेना निरर्थक होता है।

1 min read
Sadhana Path
September 2021

गणेश चतुर्थी का व्रत एवं पूजन विधि

पूजन से पूर्व की तैयारीगणेश चतुर्थी के दिन ब्रह्म मूहर्त में उठकर स्नान आदि से शुद्ध होकर शुद्ध कपड़े पहनें। आज के दिन लाल रंग के वस्त्र पहनना अति शुभ होता है। गणपति का पूजन शुद्ध आसन पर बैठकर अपना मुख पूर्व अथवा उत्तर दिशा की तरफ कर के करें।

1 min read
Sadhana Path
September 2021

घातक रोग है अल्जाइमर

अल्जाइमर वर्तमान समय की सबसे गंभीर बीमारियों में से एक है। यह एक मानसिक रोग है जिसके होने पर सोचने और याद रखने की क्षमता कमजोर होती है। आइए लेख में इस पर विस्तार से चर्चा करें।

1 min read
Sadhana Path
September 2021

तुलसी माला की महिमा

भारतीय संस्कृति विभिन्न मान्यताओं, परम्पराओं, विश्वासों और सामाजिक और धार्मिक रीति-रिवाजों से परिपूर्ण है। इस संस्कृति जैसी कोई अन्य मिसाल सम्पूर्ण विश्व में मिलना मुश्किल है। इसी संस्कृति के बहुत से मांगलिक प्रतीकों में एक अभिन्न अंग है 'तुलसी माला'।

1 min read
Sadhana Path
September 2021

एलोवेरा के अचूक औषधीय गुण

एलोवेरा का प्रयोग आज के समय में जेल, जूस एवं अन्य रूपों में भरपूर तरीके से किया जाता है, इसके भीतर व्याप्त गुण इसे एक गुणकारी, चमत्कारी औषधि बनाते हैं।

1 min read
Sadhana Path
September 2021

मद्यपान-दुखों की खान

दस रुपये से दस हजार रुपये तक रोज खर्च करने वाले करीब चालीस करोड़ से भी अधिक भारतीय शराब, सिगरेट, बीड़ी, तम्बाकू, गुटखा, गांजा, भांग, पान मसाला, ब्राउन शुगर, स्मैक, अफीम, चरस, हेरोइन जैसी चीजों के आदती हैं।

1 min read
Sadhana Path
September 2021

अष्टविनायक की आराधना

महाराष्ट्र में अष्टविनायक को कौन नहीं जानता, लेकिन विदर्भ के अष्टविनायक मंदिर के बारे में बहुत कम लोग ही बता पाएंगे। जानें विदर्भ के अष्टविनायक को विस्तार से।

1 min read
Sadhana Path
September 2021

हिन्दी का बढ़ता चलन

वर्षों से अपने ही देश मे उपेक्षित राष्ट्र भाषा हिन्दी अब सरहदों को तोड़ते हुए सात समुद्र पार भी अपनी धाक जमाने पहुंच रही है। बड़ी-बड़ी कंपनियों के बोर्डरूम से लेकर ऑस्कर के मंच तक हिन्दी का इस्तेमाल देवा-सुना जा सकता है।

1 min read
Sadhana Path
September 2021
RELATED STORIES

Yoga Asanas To Practice before Retiring to Bed

Sleep is so important for our health, especially for our immunity and nervous system.

3 mins read
Women Fitness
September 2021

At-Home Barre Workout For Better Sex

A Barre Workout generally fuses the principles of Pilates with ballet inspired movements and some elements of yoga and strength training.

3 mins read
Women Fitness
September 2021

Calm Amid The Storm

Physician and yoga therapist Ingrid Yang has been serving on the frontlines of the COVID-19 pandemic since it began. Her preferred prescription? Pranayama

9 mins read
Yoga Journal
September - October 2021

Estados alterados

Ya sea para meditar, practicar asanas en casa, o simplemente para relajarte un rato, un altar personal puede ser un modo bonito de ayudarte a reconectar con tus propósitos genuinos para tu práctica y tu vida en general. Inspírate en las historias detrás de estos tres hermosos altares domésticos, y diseña el tuyo propio.

7 mins read
YOGA JOURNAL SPAIN
Yoga 120 Julio - Agosto 2021

Yoga Asanas For Optimum Pelvic Health

Yoga poses can be very helpful for realigning the pelvis so that the pelvis muscles, fascia, and other contents Yare more balanced.

2 mins read
Women Fitness
July 2021

Lose Weight, Feel Great

Nutrition expert’s advise on how to lose weight with a healthy shake

3 mins read
Yoga Journal
July - August 2021

How Learning Bharatanatyam Classical Dance Helped Expand My Understanding of Yoga

Before last spring, I had a well-established yoga routine: my own daily practice, teaching three classes a week at a nearby community center, and a volunteer gig teaching inmates at the Ottawa-Carleton Detention Centre.

5 mins read
Yoga Journal
July - August 2021

I Measured My Brain Performance. Here's Why You Might Do the Same.

I'm sitting on a leather couch in an unassuming warehouse in Denver. There's a Ping-Pong table behind me, but I'm not at a party—I'm having my brain scanned.

4 mins read
Yoga Journal
July - August 2021

Avidya: The Absence of Right Knowledge

I was recently watching a TV sitcom where a character had been deeply offended by her friend. After a full day of nursing her resentment, the character realized the rude event never happened—she had only dreamed that it had

4 mins read
Yoga Journal
July - August 2021

Free Your Pelvis to Find Your Best Twist

One day when I was practicing Upavistha Konasana (Wide-Angle Seated Forward Bend), I stretched to one side. I firmly anchored my pelvis, keeping my sitting bones on the floor, then I twisted toward my left leg and reached for my left foot with both hands.

4 mins read
Yoga Journal
July - August 2021