जीवन से जुड़े प्रमुख पेड़-पौधे
Sadhana Path|May 2021
प्राचीन वैदिक काल से ही पशु-पक्षी, पेड़-पौधे मनुष्य के जीवन का अहम हिस्सा रहे हैं। मानव संस्कृति को विकसित करने व जीवित रखने में भी पेड़-पौधों ने प्रमुख भूमिका अदा की है। स्वर्ग में पाए जाने वाले कल्पतरू वृक्ष, रामायण में अशोक वाटिका तो दूसरी तरफ सिन्धु घाटी सभ्यता से प्राप्त पशुपतिनाथ के मोहरों में अंकित पेड़-पौधों, सांची स्तूप के तोरहणद्वार, अंजता एलोरा की गुफाओं में पाए जाने वाले पेड़-पौधों के चित्र इस बात को सिद्ध करते हैं कि चाहे वैदिककाल हो आदिकाल, प्राचीनकाल या फिर नवीनकाल सभी में प्रायः पेड़पौधों का योगदान व महत्त्व रहा है।
प्राची प्रवीन महेश्वरी

तुलसी- भारतीय समाज व हिन्दू जाति में तुलसी का पौधा बहुत पूजनीय माना जाता है। इसलिए ही तुलसी चौरा को आंगन के मध्य में प्रमुख स्थान दिया जाता है। तुलसी के पौधे पर प्रातः होते ही पूर्व दिशा में मुंह करके जल चढ़ाने की प्रथा रही है। वास्तुशास्त्र में भी इसको शुभ बताया गया है। हमारे ऋषि मुनि इस बात को जानते थे तभी तो उन्होंने इसे घर में लगाने की सलाह दी क्योंकि तुलसी का पौधा ऑक्सीजन छोड़ता है।

पीपल- पीपल के पौधे की सबसे बड़ी खूबी ये ही है पीपल का पेड़ ऑक्सीजन छोड़ता व कार्बन डाईऑक्साइड लेता है। साथ ही पीपल में जल चढ़ाने से धन समृद्धि बढ़ती है तो शनिवार को तेल का दीपक जलाने से शनि देव प्रसन्न होते हैं।

गरुण- मान्यता है कि नाग गरुण व हंस गरुण दोनों के फल व लकड़ी का उपयोग सांप को घरों से दूर रखने में होता है।

चंदन- 'चंदन विष व्यापै नहीं लिपटै रहत भुजंग' कहते हैं चंदन पर हजारों सांप लिपटे रहते हैं परन्तु फिर भी चंदन ना तो अपनी शीतलता छोड़ता है और ना ही अपनी खुशबू कम करता है। सुबह-सुबह माथे पर चंदन लगाने से ललाट को शीतलता मिलती है। पूजा अर्चना में भी चंदन तिलक का प्रयोग करने की वैदिक परंपरा रही है।

Continue reading your story on the app

Continue reading your story in the magazine

MORE STORIES FROM SADHANA PATHView All

योग एक मार्ग अनेक

परमात्मा हो या परमशांति या फिर गणित का कोई भी छोटा सा सवाल। इन तक पहुंचने के या सवाल को हल करने के भले कई मार्ग व माध्यम होते हैं परंतु इनका उत्तर एक ही होता है ऐसे ही योग की भी विभिन्न शारवाएं हैं, विभिन्न आसन और अवस्थाएं हैं परंतु सबकी मंजिल, सबकि उपलब्धि एक ही है।

1 min read
Sadhana Path
June 2021

मानसिक रोग दूर करे केसर

केसर को कुंकुम एवं जाफरान भी कहा जाता है। इसकी खेती कश्मीर मे व्यापक रूप से होती है।

1 min read
Sadhana Path
June 2021

योग से रहें निरोग

जब तक भारत में योग के द्धारा वास्तविक शक्ति की उपासना होती रही तब तक इस देश के बच्चे शक्तिशाली होते रहे। आज इस योग शक्ति के बिना देश मृतप्राय हो रहा है। देश के कलानिधि, मायानिधि इससे रूठे हुए हैं। योग सर्व विद्याओं, सब देवों के देवत्व परमतत्त्व का कारण होने से हमारी सारी उपासनायें योग द्धारा सर्वशक्तिसंपन्न कराया करती थी।

1 min read
Sadhana Path
June 2021

नींद और हमारी सेहत

हमारे जीवन में जितना जरूरी काम है उतनी ही जरूरी है नींद, परंतु आज हम अपनी व्यस्तताओं में रवो कर नींद को नजर-अंदाज करते जा रहे हैं। क्या हो सकता है इसका परिणाम तथा अच्छी नींद कैसे पाएं? जानें इस लेख से

1 min read
Sadhana Path
June 2021

गंगा से जुड़े पर्व, उत्सव, व्रत एवं त्योहार

भारत में गंगा नदी को, हिन्दू धर्म के साथ ही नहीं संस्कृति और सभ्यता के साथ भी जोड़कर देखा गया है। इसी कारण इस नदी के साथ हमारे कई व्रत-पर्व, त्योहार मेले आदि जुड़े हुए हैं। आइए लेव से जानें पर्वो का महात्म्य व इनसे जुड़ी कथाएं।

1 min read
Sadhana Path
June 2021

भारत की पहचान है गंगा

भारत और दुनिया में गंगा को सर्वोच्च महत्त्व दिया गया है। इतना महत्त्व विश्व में शायद किसी और नदी को नहीं मिला। गंगा नदी को भारत की पहचान कहा जाए तो गलत न होगा।

1 min read
Sadhana Path
June 2021

आयुर्वेद से करें पर्यावरण की रक्षा

यदि हमें प्रकृति को बचाना है तो पर्यावरण संरक्षण पर जोर देना होगा। औषधीय पेड़-पौधे लगाने होंगे। जिससे पर्यावरण दूषित होने से तो बचेगा ही, साथ ही आयुर्वेद का प्रसार भी होगा।

1 min read
Sadhana Path
June 2021

चौंसठ तीर्थों का महातीर्थ-तिरुपति

भारत के प्रमुख तीर्थ स्थलों में से एक है तिरुपति मंदिर। भक्तों की आस्था है कि यहां दर्शन करने से उनकी हर मनोकमना की पूर्ति हो जाती है। इसीलिए इस लेव के माध्यम से हम आपको ले जा रहे हैं तिरुपति मंदिर की यात्रा पर ।

1 min read
Sadhana Path
June 2021

आपके वस्त्र आपका व्यक्तित्व

आपके कपड़े आपके बारे में सब कुछ बताते हैं। आप किस तरह का पहनावा पसंद करते हैं, किस तरह के रंगों का चयन करते हैं, किस तरह आप उन्हें धारण करते हैं? आपके कपड़ों की दशा व स्थिति (नए-पुराने, धुले व मैले) आदि आपके व आपके सामने वाले को जानने एवं समझने में मदद करते हैं। क्या कहते हैं आपके कपड़े ? जानिए इस लेख से-

1 min read
Sadhana Path
June 2021

सेहत का रखवाला पानी

यह सच है सेहत और पानी का चोली-दामन का साथ है। भले ही आप संतुलित भोजन लें, नियमित व्यायाम करें पर यदि शरीर के लिए जरूरी पानी का सेवन उचित मात्रा में नहीं करेंगे तो कई बिमारियों से ग्रस्त हो सकते हैं।

1 min read
Sadhana Path
June 2021
RELATED STORIES

The Committee on Life and Death

As COVID-19 has overwhelmed hospitals, the lack of clear bioethical guidelines has meant that doctors have had to make wrenching life-and-death decisions on the fly. The result has been chaos and unnecessary suffering, among both patients and clinicians. As the country prepares to distribute vaccines, we’re at risk of reprising this chaos.

10+ mins read
The Atlantic
January - February 2021

WILL CITIES SURVIVE 2020?

COVID-19 IS REIGNITING OLD DEBATES ABOUT ZONING, PUBLIC HEALTH, URBAN PLANNING, AND SUBURBAN SPRAWL.

10+ mins read
Reason magazine
January 2021

Recruiting - TOP TECH TALENT AT LOW COST?

It’s possible. The crisis has created a great hiring opportunity for companies, so long as you approach it the right way, through the right channels.

6 mins read
Entrepreneur
Startups Fall - Winter 2020

Norton 360 Deluxe: Good protection with added features make it an excellent value

Norton 360 Deluxe offers excellent value with solid protection, and a good amount of extra features.

5 mins read
PCWorld
October 2020

Travel: Down, but not out

Travel has taken a big hit, and travel advisors will play a big part in tapping the industry’s resilience – and pent-up demand

7 mins read
Business Traveler
October/November 2020

CREATE THE RITUAL with Steve Schwartz

Tea has always been a beverage that we have enjoyed hot, iced, alone, with an array of sweetners and even mixed with the spirit of our choice.

10+ mins read
Athleisure Mag
August 2020

THE WAVE FILES

After the “soul-crushing” slog of Hemispheres, the planets seemed to align for Rush when it came time to record their next album, 1980’s Permanent Waves.

10+ mins read
Guitar World
October 2020

BIG-TIME RUSH FAN

Dream Theater maestro JOHN PETRUCCI geeks out on Permanent Waves, Alex Lifeson’s “How is that even possible?” solos and the undeniable majesty of Rush

10+ mins read
Guitar World
October 2020

Boss of the Beach

For 40 years, the city’s LIFEGUARD CORPS has been mired in controversy—falsified drowning reports, sexual-assault allegations, drugs, and alcohol—and for 40 years it’s been run by one man: PETER STEIN.

10+ mins read
New York magazine
June 22 - July 05, 2020

Berberine Benefits

Found in goldenseal and other plants, berberine has a long history of use as a natural antibiotic and anti-fungal treatment—and newer research shows that it may also help with healthy aging, blood sugar balance, and more

3 mins read
Better Nutrition
May 2020