मानव जाति के आदर्श श्रीराम
Sadhana Path|April 2021
आदर्श, करुणा, दया, त्याग, शौर्य और साहस इन सारे गुणों का प्रतिबिम्ब है एक नाम, श्री राम', जिनका सम्पूर्ण जीवन ही जनमानस के समक्ष एक आदर्श प्रस्तुत करता है तथा हमें प्रतिपल कुछ नई सीरव अवश्य देता है। कौन हैं श्री राम, क्यों कहलाए वह मर्यादा पुरुषोत्तम राम व जनता के आदर्श? जानते हैं इस लेव के माध्यम से।
सिद्धार्थ शंकर

श्रीराम नवमी पर्व हिंदुओं का एक मुख्य त्योहार है। इस दिन भगवान श्रीराम का जन्मदिवस मनाया जाता है। चैत्र मास की शुक्ल पक्ष की पहली तिथि को प्रति वर्ष नए विक्रम संवत्सर का प्रारंभ होता है और उसके आठ दिन बाद ही चैत्र शुक्ल पक्ष की नवमी को यह पर्व राम जन्मोत्सव 'रामनवमी' के नाम से मनाया जाता है। त्रेता युग में जन्म लेने वाले भगवान श्रीराम आज भी लोगों के मन-मस्तिष्क में उसी तरह श्रद्धा के पात्र हैं, जैसे शायद त्रेता युग में रहे होंगे। इसका कारण उनकी कथा-गाथा है, जो गोस्वामी तुलसीदास कृत 'श्री रामचरित मानस' में एवं महर्षि वाल्मीकि कृत 'रामायण' में लिखित है। आज भी लोग बड़े ही श्रद्धा भाव के साथ मनोकामना पूर्ति के लिए या किन्हीं विशेष अवसरों पर इसका पाठ अपने घरों में रखते हैं और रामायण पाठ का अनुष्ठान करते हैं। इस ग्रंथ में छिपा हुआ अध्यात्म व अद्भुत ऊर्जा से अब भी मानव समुदाय लाभान्वित हो रहा है। इससे मिलने वाली प्रेरणाएं अगर मनुष्य अपने जीवन में अपना सके तो अपने संपूर्ण जीवन का कायाकल्प कर सकता है। श्री रामनवमी पर्व के माध्यम से श्रीराम के जीवन चरित्र व प्रेरणाओं को अपने जीवन में उतारने व धारण करने की सीख मिलती है।

Continue reading your story on the app

Continue reading your story in the magazine

MORE STORIES FROM SADHANA PATHView All

सिरदर्द के घरेलू एवं आयुर्वेदिक नुस्खे

सिरदर्द कहने को तो बेहद ही सामान्य रोग लगता है लेकिन यह भी सच है कि जब भी व्यक्ति सिरदर्द से प्रभावित होता है तो न तो वह चैन से बैठ सकता है न अन्य कोई कार्य कर सकता है। ऐसे में वह सिरदर्द से छुटकारा पाने के लिए पेन किलर का सहारा लेता है, जो कि स्वास्थ्य के लिए अच्छे नहीं होते। ऐसे में आइए आपको बताते हैं कुछ ऐसी आयुर्वेदिक औषधियों व घरेलू नुसवों के बारे में जिससे आप सिरदर्द से फौरन मुक्ति पा सकते हैं।

1 min read
Sadhana Path
May 2021

मां एक संपूर्ण संसार का नाम है

पिछले कुछ वर्षों से जिस मदर्स डे को मनाने की परंपरा ने पश्चिम से प्रवेश कर भारत के युवा वर्ग पर अच्छा-खासा प्रभाव डाला है, माना जाता है कि इस मदर्स डे का प्रारंभ, एक अमेरिकन एक्टिविस्ट एना जारविस ने सन उन्नीस सौ आठ में 'सेकंड संडे' (मई माह का दूसरा रविवार) के रूप में किया।

1 min read
Sadhana Path
May 2021

महाराष्ट्र के शिर्डी में करें साईं बाबा के दर्शन

शिर्डी के साईं बाबा का मंदिर आज एक विश्व प्रसिद्ध तीर्थ स्थल बन चुका है, जहां प्रतिदिन भक्तों की भीड़ लगी रहती है। बाबा के भक्तों में सभी धर्म-जाती के लोग शामिल हैं। कोई बाबा के चरणों में शीश झुकता है तो कोई उनकी समाधि पर चादर चढ़ाता है।

1 min read
Sadhana Path
May 2021

वृक्ष जो हमे रखते है स्वस्थ

हमारे आस-पास कई वृक्ष ऐसे भी हैं जिनका अपना औषधीय महत्त्व भी है। जिसके प्रयोग से कई रोगों को ठीक किया जा सकता है। कौन से हैं वह वृक्ष आइए जानते हैं लेख से।

1 min read
Sadhana Path
May 2021

जीवन से जुड़े प्रमुख पेड़-पौधे

प्राचीन वैदिक काल से ही पशु-पक्षी, पेड़-पौधे मनुष्य के जीवन का अहम हिस्सा रहे हैं। मानव संस्कृति को विकसित करने व जीवित रखने में भी पेड़-पौधों ने प्रमुख भूमिका अदा की है। स्वर्ग में पाए जाने वाले कल्पतरू वृक्ष, रामायण में अशोक वाटिका तो दूसरी तरफ सिन्धु घाटी सभ्यता से प्राप्त पशुपतिनाथ के मोहरों में अंकित पेड़-पौधों, सांची स्तूप के तोरहणद्वार, अंजता एलोरा की गुफाओं में पाए जाने वाले पेड़-पौधों के चित्र इस बात को सिद्ध करते हैं कि चाहे वैदिककाल हो आदिकाल, प्राचीनकाल या फिर नवीनकाल सभी में प्रायः पेड़पौधों का योगदान व महत्त्व रहा है।

1 min read
Sadhana Path
May 2021

शुक्र ग्रह और ज्योतिष

शुक्र के निकट जाने वाला पहला अंतरिक्ष यान मैरीनर 2 था, जिसने 1962 में यात्रा की। अभी तक लगभग 20 यानों का उपयोग शुक्र के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए किया जा चुका है। रूसी यान 'वेनेरा' सबसे पहले शुक्र पर उतरा। हाल ही में अमेरिकी यान 'मैगेलन' ने रडार द्वारा शुक्र की सतह के विस्तृत चित्र उपलब्ध कराये हैं। शुक्र पर संभवतः किसी समय, पृथ्वी की तरह, अपार जल मौजूद था। मगर यह वाष्पन द्वारा समाप्त हो गया। अब शुक्र की सतह पूर्णतः शुष्क है।

1 min read
Sadhana Path
May 2021

कैसा हो गर्मियों में आहार?

गर्मी की चिलचिलाती धूप और पसीना न केवल हमें परेशान कर देता है बल्कि कई बार यह हमें बीमार भी बना देता है। ऐसे में आपको बताते हैं कि गर्मी में किस प्रकार का आहार ले कर आप इस समस्या से बच सकते हैं।

1 min read
Sadhana Path
May 2021

सुगठित राष्ट्र की नींव है मातृत्व

मातृत्व एक आद्वितीय अनुभूति है जिसका शब्दों में वर्णन नहीं किया जा सकता, यह तो सिर्फ महसूस किया जा सकता है। सृष्टि रचयिता ब्रह्मा एक पुरुष हैं, जब उन्होंने आत्ममंथन किया होगा तब जाकर सृजन का उत्तरदायित्व नारी पर सौंपा होगा। एक बालक सर्वप्रथम अपनी मां से ही सीखता है तभी तो एक मां अगर पुचकारती भी है तो भी शिशु उसी के पास रहना अधिक पसंद करता है और अगर मारती एवं डांटती भी है तो भी शिशु उसी के पास जाता है। मां अपने संतान की चिकित्सक,सर्जक एवं मार्गदर्शक होती है।

1 min read
Sadhana Path
May 2021

पूर्णिमा और बुद्ध

'चरथ भिक्खुवे चारिकं बहुजन हिताय बहुजन सुरवाए उत्थाए हिताए लोकानुकम्पाय' इन शब्दों में दिया था तथा इसी दिन उरूवेला में 3 कश्यप भाइयों को धम्म की दीक्षा देकर भिक्षु संघ में शामिल किया था।

1 min read
Sadhana Path
May 2021

आपके लिविंग रूम में उग सकते हैं फल देने वाले ये 7 पेड़

क्या आप जानते हैं कि आप कहीं भी इंडोर फलों के पेड़ उगा सकते हैं? अपने घर की सुंदरता को बढ़ाने के अलावा बौने फलों के पेड़ को उगाने से आपके परिवार के लिए ताजे फल भी मिलते हैं और घर के लिए स्वच्छ हवा फैलाने में मदद करते हैं।

1 min read
Sadhana Path
May 2021
RELATED STORIES

CUIDAR LOS RIÑONES CON PLANTAS MEDICINALES

El cuerpo humano es una sofisticada creación, en la que cada parte cumple una determinada función vital. Una de esas partes es el sistema urinario, cuya misión es la de eliminar las toxinas y el exceso de agua que se ha generado tras metabolizar los nutrientes que proporciona la alimentación.

10 mins read
INTEGRAL
Abril 2021

स्पूतनिक वी के लिए मैनकाइंड की रूसी कंपनी के साथ साझेदारी!

स्पूतनिक वी के आवेदन की मंजूरी की समीक्षा के लिए एसईसी आज करेगा बैठक

1 min read
Business Standard - Hindi
April 12, 2021

Rides and celebrations mark 90 years of JAWA

The year 1929 was when the Jawa journey started. To be precise, the date was October 23, 1929.

2 mins read
Motown India
November 2019

Reaching New Heights Of Success

The Ideal Group, which has presence in real estate, logistics, automotive dealership and alloys and minerals, keeps its chairman Srawan Kumar Himatsingka busy full-time. In between managing his ₹1,500+ crore business group, he lets MARWAR in on how he built it, starting in Kolkata more than three decades ago.

4 mins read
MARWAR India
September - October 2019

Regreso Triunfal

No hay mejor manera de celebrar los 60 años de la fundación de De Tomaso que traerla de vuelta a la vida con uno de los coches más hermosos de los últimos 40 años, el P72, que toma su inspiración de los prototipos de carreras de los años 60, y en especial del De Tomaso P70, un proyecto que la marca italiana desarrolló en conjunto con Carroll Shelby y su entonces diseñador, Peter Brock.

3 mins read
Automóvil Panamericano
Septiembre - 2019

Chivalry (As You Know It) Is Dead

As society has progressed far beyond the traditional values pegged to chivalry, the gentleman is long due for an overhaul.

3 mins read
T Singapore: The New York Times Style Magazine
February 2019

Amor de lejos

Las razones emocionales de las relaciones de pareja a distancia, descubre sus pros y contras.

5 mins read
Familia Saludable
Agosto 2017, 326

Emprender como profesión

A fin de lograr su independencia financiera, cada vez más universitarios crean proyectos innovadores. El reto es aprender a trabajar en equipo y con visión a largo plazo.

10 mins read
Entrepreneur en Español
Octubre 2016

Funda tu propia empresa hoy

Iniciar una empresa no es tan diferente a correr una carrera. Antes de arrancar, te presentamos ocho pasos para asegurar que estarás en forma y podrás alcanzar la meta.

10 mins read
Entrepreneur en Español
Mayo 2016