चुनौतियों के लिए तैयार रहना जरूरी है
Samay Patrika|December 2020
बिज़नेस स्कूल उत्तीर्ण करने के बाद फ़िल नाइट ने अपने पिता से पचास डॉलर उधार लिए और एक साधारण उद्देश्य के साथ एक कंपनी की शुरुआत की. जापान से उच्च गुणवत्ता वाले, कम कीमत के रनिंग शूज़ आयात किये. नाइट ने अपने व्यापार के पहले वर्ष यानी 1963 में जूते बेचकर 8000 डॉलर कमाए. आज नाइकी की वार्षिक बिक्री 30 बिलियन डॉलर से अधिक है और उसकी पहचान उसके लोगो से कहीं बढ़कर है. लेकिन इस महान उपलब्धि से हटकर नाइट हमेशा एक रहस्य बने रहे.
डॉ. सुधीर दीक्षित

शूडोग' नाइकी के संस्थापक फिल नाइट के सफलता हासिल करने के दौरान आने वाली चुनौतियों से पार पाने की एक प्रेरणादायक कहानी है। यह किताब ख़ास इसलिए भी है क्योंकि इसमें एक व्यक्ति के उस दौर को दिखाया गया है जब वह एक कंपनी को खड़ा करने की कोशिश में जीजान से जुटता है, प्रतिस्पर्धा के जमाने में कठिन मुकाबला करता है और ऐसी कंपनी खड़ी करता है जो लोकप्रियता हासिल करती है।

Continue reading your story on the app

Continue reading your story in the magazine

MORE STORIES FROM SAMAY PATRIKAView All

यशस्वी भारत - राष्ट्रीयता हो संवाद का आधार

जिस समाज में संवाद नहीं है, वह आदि समाज कैसे आगे बढ़ेगा। संवाद उत्पन्न होने के लिए गंतव्य की स्पष्टता चाहिए। मैं कौन हूँ, इसकी स्पष्टता चाहिए, मुझे कहाँ जाना है और मैं कौन हूँ, उसके संदर्भ में परिस्थितियों का कैसे हमें विचार करना है, इसकी स्पष्टता चाहिए।

1 min read
Samay Patrika
March 21

प्यार, परिवार और मर्डर

आपको पता है, दुनिया में ऐसी कौन-सी इमोशन है, जिसको क़बूल करना सबसे मुश्किल होता है? वह है जलन। लेकिन मेरे लिए यह मुश्किल नहीं। ये सच है कि मुझे उससे जलन होती थी। बचपन से ही उसने जैसी जिंदगी जी, जैसा प्यार उसे फैमली और बाद में सौरभ से मिला, जितनी आसानी से उसके लिए सबकुछ हुआमुझे इससे जलन होती थी। उसके अंदर एक एनटाइटलमेंट था, जैसे कि यह सब उसी का हक़ था। मुझे इससे घिन आती थी। मैं भीतर ही भीतर घुटती रहती थी। लेकिन आज वो सब ख़त्म होने वाला था।

1 min read
Samay Patrika
March 21

आरएसएस के सफ़र का एक ईमानदार दस्तावेज़

उस वक़्त मैं दिल्ली के राजेन्द्र प्रसाद मार्ग पर सांसद वाले बंगले में सुन्दर सिंह भंडारी के साथ बैठा चाय पी रहा था। खबरिया चैनलों पर ब्रेकिंग न्यूज़ चल रही थी, “सुन्दर सिंह भंडारी को राज्यपाल नियुक्त किया गया।” मैंने उनसे पूछा, “अब तो राजभवन जाने की तैयारी करनी पड़ेगी?”

1 min read
Samay Patrika
March 21

ख़ानज़ादा मेवाती अस्मिता और शौर्य का दस्तावेजी प्रमाण

चौदहवीं सदी के मध्य में तुगलक, सादात, लोदी और मुगल राजवंशों द्वारा दिल्ली और उसके आसपास जो तबाही मचाई, मेवातियों ने उसका जिस शौर्य के साथ ऐसी ताकतों का मुकाबला किया और भारी संख्या में बलिदान दिए। उन्हें इतिहास में वह स्थान नहीं दिया गया, तो दिया जाना चाहिए था। बल्कि उसे भुलाने की कोशिश की गयी

1 min read
Samay Patrika
March 21

यादों का एक खूबसूरत बस्ता

यादों का बस्ता बहुत यादों से भरा होता है। हर याद संजो कर नहीं रखी जा सकती, लेकिन कुछ ऐसी यादें होती हैं, जिन्हें भुलाये भुला नहीं जा सकता। अंजनी कुमार पाण्डेय ने संस्मरण लिखा है जिसमें उन्होंने खुद को, खुद से जुड़े लोगों को, इलाहाबाद के नुक्कड़-गलियों को, अपने संघर्ष को याद किया है। 'इलाहाबाद ब्लूज' एक ऐसी किताब है जिसमें अंजनी ने ईमानदारी से प्रतापगढ़ से, इलाहाबाद से, यूपीएससी के सफर को दर्ज किया है।

1 min read
Samay Patrika
March 21

मोदी, भाजपा और जीत की रणनीति

23 मई 2019 को जब आम चुनावों के परिणाम घोषित किये गये तो नरेन्द्र मोदी और भाजपा के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय लोकतान्त्रिक गठबंधन ने प्रचण्ड बहुमत के साथ सत्ता में पुनर्वापसी की थी। कुछ लोगों के लिए ये आश्चर्यचकित करने वाले परिणाम थे, जबकि कुछ लोगों की दृष्टि में भाजपा की यह जीत सरकार और उनकी नीतियों पर आम जनता की आस्था की मुहर का प्रतीक थी।

1 min read
Samay Patrika
February 2021

कोई निंदौ कोई बिंदौ

मीरां के जीवन और समाज पर एकाग्र पुस्तक पचरंग चोला पहर सखी री 2015 में आयी और अब 2020 में इसका प्रदीप त्रिखा द्वारा अनूदित अंग्रेजी संस्करण मीरां वर्सेस मीरां प्रकाशित हुआ है।

1 min read
Samay Patrika
February 2021

बोसकीयाना और गुलज़ार

मशहूर शायर और फिल्मकार गुलज़ार का घर। बेटी बोसकी के नाम पर अपना पाए 'बोसकीयाना' का मतलब गुलज़ार के अनगिनत चाहनेवालों के लिए उस मरकज़ की तरह है जिसकी ऊष्मा से वे हर पल अपने-आपको और अमीर बनाते रहते हैं। ये सब जिस शख्स से है, उसका अपना फ़लसफ़ा क्या है? उनसे ये बातें यहीं हुई हैं और जो बातें अगर यहाँ-वहाँ हुई हैं तो उनकी तस्दीक भी यहीं-कहीं हुई है।

1 min read
Samay Patrika
February 2021

सफलता पाने के आसान तरीके

जब आप टॉप करनेवाले मार्ग पर चल पड़ते हैं तो हमेशा के लिए आप इसी रास्ते को पसंद करेंगे.यह आपके आदत में आ जाएगा, फिर आपको यही रास्ता सबसे सरल दिखाई पड़ेगा, हो सकता है दूसरों को यह रास्ता बड़ा मुश्किल जान पड़े.

1 min read
Samay Patrika
February 2021

चुनौतियों के लिए तैयार रहना जरूरी है

बिज़नेस स्कूल उत्तीर्ण करने के बाद फ़िल नाइट ने अपने पिता से पचास डॉलर उधार लिए और एक साधारण उद्देश्य के साथ एक कंपनी की शुरुआत की. जापान से उच्च गुणवत्ता वाले, कम कीमत के रनिंग शूज़ आयात किये. नाइट ने अपने व्यापार के पहले वर्ष यानी 1963 में जूते बेचकर 8000 डॉलर कमाए. आज नाइकी की वार्षिक बिक्री 30 बिलियन डॉलर से अधिक है और उसकी पहचान उसके लोगो से कहीं बढ़कर है. लेकिन इस महान उपलब्धि से हटकर नाइट हमेशा एक रहस्य बने रहे.

1 min read
Samay Patrika
December 2020
RELATED STORIES

The Culture Pages – The Queen of Fractured Fairy Tales

Hlen Oyeyemi writes magical, unsettling novels in which nothing remains fixed. She has lived her life that way, too.

10 mins read
New York magazine
March 29 - April 11, 2021

Enchanted New York

A tale of religion in Manhattan in the 19th and 20th centuries

6 mins read
Reason magazine
April 2021

A New Chapter for This Bookstore

Katrina and COVID haven’t deterred the owner of a used bookstore from catering to his clientele.

3 mins read
Kiplinger's Personal Finance
March 2021

Booker boosts backfield

The Raiders are running the ball better than they did a year ago, which is not too surprising considering Josh Jacobs has managed to stay healthy and continues to be the productive back he was as a rookie.

3 mins read
Silver & Black Illustrated
December 2020

Raiders' good, bad, ugly

Derek Carr has taken a lot of heat during his time with the Raiders and had to listen to a lot of criticisms from fans and the media following the team’s back-to-back losses.

3 mins read
Silver & Black Illustrated
November 2020

Raiders, Irving discuss deal

Credit Raiders general manager Mike Mayock for staying busy even as the regular season has moved along. With his team having trouble generating much of a pass rush through the first month of the season, Mayock wants to put Las Vegas in position for an upgrade.

3 mins read
Silver & Black Illustrated
November 2020

Yes, Fall It's Still Happening

THE CHANGE OF SEASONS during a pandemic can happen almost imperceptibly. Suddenly, summer has slipped through your fingers. Fall usually signals the start of a fresh cultural calendar, but this year, none of the clear markers are there. Broadway remains shut down; the pageantry of Oscar season isn’t quite the same when everything’s streaming; release dates are pitched further into the distance, pegged to the hope of some theoretical future. But amid uncertainty, great art can feel like a grounding force, and there’s plenty to challenge, entertain, and debate this fall. The final stretch of 2020 includes some of the most exceptional films, shows, and books of the year: weird clown comedy, the next Big Little Lies–style soap, and the kinds of novels that help you see the world more clearly. Mark your calendars—just maybe use a pencil.

10+ mins read
New York magazine
August 31–September 13, 2020

AMERICAN IDOLATRY MEETS WOKE ICONOCLASM

WHY DO PEOPLE PULL DOWN STATUES?

9 mins read
Reason magazine
October 2020

Cook's Activism at Philly Bookshop

The first time Jeannine A. Cook tried to open a bookstore, the building burned down just after she had signed the lease.

3 mins read
Poets & Writers Magazine
September - October 2020

The Art of the Author Photo

How to make a lasting image

10+ mins read
Poets & Writers Magazine
September - October 2020