वाट्सऐप पर जिस्मों का रोल
Satyakatha|February 2020
एक मुखबिर ने बरेली के एएसपी अभिषेक वर्मा को उन के मोबाइल पर फोन कर के सूचना दी कि बबीता नाम की एक महिला सनसिटी विस्तार कालोनी के एक दोमंजिला मकान में बड़े स्तर पर जिस्मफरोशी का धंधा चला रही है.
नितिन कुमार शर्मा

मुखबिर ने उन्हें बबीता का फोन नंबर भी दे दिया. इतना ही नहीं, उस ने बबीता से बात करने के कुछ कोड नाम भी दे दिए, जिन का उपयोग वह अपने धंधे में करती थी.

खबर महत्त्वपूर्ण थी, इसलिए एएसपी ने खुफिया तौर पर पहले इस सूचना की जांच कराई, तो खबर सही निकली. इस के बाद उन्होंने इज्जतनगर के थानाप्रभारी और महिला थाने की थानाप्रभारी को अपने औफिस बुलाया.उन्होंने दोनों पुलिस अधिकारियों को इस सूचना से अवगत कराते हुए तुरंत रेड पार्टी तैयार करने को कहा.

आननफानन में रेड पार्टी तैयार कर ली गई. टीम में शामिल एक हैड- कांस्टेबल को डिकोय कस्टमर (फरजी ग्राहक) बनाया गया. डिकोय कस्टमर ने बबीता का फोन नंबर मिलाया. जैसे ही बबीता ने हैलो कहा तो वह बोला, "मैडम, मैं अमरीश बोल रहा हूं. मुझे आप का नंबर रहमान भाई ने दिया है."

रहमान का नाम सुनते ही बबीता समझ गई कि यह कस्टमर वास्तविक है. वह बोली, "हां, बताइए अमरीशजी, मैं आप की क्या सेवा कर सकती हूं."

"मैडम, रहमान भाई ने बताया था कि नईनई गाड़ियां हैं, जिन पर सवारी करने में बड़ा ही मजा आता है. ऐसी किसी अच्छी गाड़ी पर मैं भी सफर करना चाहता हूं." उस ने कहा.

"हांहां, क्यों नहीं, आप का स्वागत है. कल ही हमारे पास दिल्ली से 2 नई गाड़ियां आई हैं. आप आ जाइए. रहमान भाई ने हमारा पता तो बता ही दिया होगा." वह बोली.

"हांजी, उन्होंने बता दिया है." डिकोय कस्टमर ने कहा.

“ठीक है आप आ जाइए. और हां, जब आप मेरे यहां आएंगे तब गेट पर चौकीदार आप से कोड पूछेगा तो कोड ‘समंदर में तैरना है' बता देना. वह आप को मेरे पास ले आएगा."

“ठीक है, मैं अभी कुछ देर में आप के पास पहुंचता हूं."इस के बाद डिकोय कस्टमर बने हैडकांस्टेबल ने फोन डिसकनेक्ट कर दिया. यह बात 12 नवंबर, 2019 की है.

बबीता से बात पक्की हो जाने के बाद 12 नवंबर, 2019 की रात 10 बजे ही एएसपी अभिषेक वर्मा के नेतृत्व में पुलिस टीम सनसिटी विस्तार कालोनी पहुंच गई. टीम के सभी सदस्य बबीता के घर से कुछ दूर अलगअलग गाड़ियों में रहे. केवल हैडकांस्टेबल ही फरजी ग्राहक बना कर उस के घर पहुंचा. उसे बबीता के घर के बाहर चौकीदार खड़ा मिला. उस ने चौकीदार से कहा, "मुझे बबीता मैडम से मिलना है."

"क्या काम है?"चौकीदार ने पूछा.

"समंदर में तैरना है." डिकोय कस्टमर बने हैडकांस्टेबल ने कहा.

यह सुनते ही चौकीदार समझ गया कि वह ग्राहक है, इसलिए वह उसे ले कर घर के अंदर चला गया. वहां कमरे में एक महिला मौजूद थी. फरजी ग्राहक ने पूछा, "क्या आप ही बबीताजी हैं ?"

"जी हां, वैसे नाम में क्या रखा है. असल में तो काम ही मायने रखता है." बबीता मुसकराते हुए बोली, "बैठिए, मैं आप को अभी गाड़ियां दिखाती हूं. वैसे मैं आपको एक बात और बताना चाहती हूं कि कस्टमर की डिमांड पर हम विदेशी गाड़ियों की भी डील करते हैं."

"अरे वाह, यह तो बड़ी खुशी की बात है. फिलहाल तो आप हमें नई गाड़यां दिखाइए." वह बोला.

तभी बबीता ने आवाज लगाई तो 2 युवतियां कमरे में आ कर खड़ी हो गईं. उन्हें देखते ही डिकोय कस्टमर ने कहा, "क्या बात है मैडम, जैसा हम ने सुना था, यहां तो उस से ज्यादा देखने को मिला. वास्तव में आप बहुत पहुंची हुई हैं. इन्हें देख कर मन कर रहा है कि दोनों को ही पसंद कर लूं. लेकिन फिलहाल मैं इन के साथ जाना पसंद करूंगा." उस ने आसमानी रंग का टौप पहनी युवती की ओर इशारा करते हुए कहा.

“यह मोहिनी है. इस का 2 घंटे का चार्ज 3 हजार रुपए है."बबीता ने कहा.

"मैडम, आपपैसों की चिंता न करें." कहते हुए डिकोय कस्टमर ने 3 हजार रुपए बबीता के हाथ में दे दिए. इस के बाद उस ने अपनी जेब से फोन निकालते हुए कहा, "इसे बंद कर देते हैं वरना बीच में डिस्टर्ब करेगा."

उसी समय डिकोय कस्टमर ने एएसपी अभिषेक वर्मा को फोन पर मिस काल कर दी थी. यह मिस काल बाहर इंतजार कर रही पुलिस टीम के लिए एक इशारा थी. कुछ देर बाद कमरे का दरवाजा खटखटाने पर फरजी ग्राहक बने हैडकांस्टबल ने दरवाजा खोल दिया. पुलिस टीम धड़धड़ाती हुई उस कमरे में आ गई.

महिला पुलिस ने बबीता की तलाशी ले कर वे 3 हजार रुपए बरामद कर लिए जो हेड कांस्टेबल ने सौदा तय करते समय उसे दिए थे. उन नोटों के नंबर एएसपी ने पहले से ही अपने पास लिख लिए थे. ऊपर की मंजिल पर 2 युवतियां कमरों में मिलीं चौकीदार पुलिस को आया देख भाग चुका था.

Continue reading your story on the app

Continue reading your story in the magazine

MORE STORIES FROM SATYAKATHAView All

20 फीट लंबी छलांग लगाने वाली रंगबिरंगी गिलहरी

यहां आप जिस इंद्रधनुषी गिलहरी की फोटो देख रहे हैं, महाराष्ट्र में उसे जायट गिलहरी कहा जाता है, जिसे राजकीय जीव का दर्जा मिला हुआ है. मराठी में इस गिलहरी को शेकारु कहते हैं. खास बात यह है कि यह एक पेड़ से दूसरे पेड़ पर 20 फीट की छलांग लगा सकती है.

1 min read
Satyakatha
February 2021

शाहरुख खान की पठान

शाहरुख खान पिछले 2 सालों से फिल्मी परदे से दूर हैं. कह सकते हैं, एक हिट के लिए तरस रहे हैं, अब जल्दी ही वह सिद्धार्थ आनंद निर्देशित फिल्म ‘पठान' में नजर आएंगे. फिल्म की हीरोइन होंगी दीपिका पादुकोण, जिन्होंने 2007 में अपने फिल्मी कैरियर की शुरुआत उन के साथ 'ओम शांति ओम' जैसी सुपर हिट फिल्म से की थी.

1 min read
Satyakatha
February 2021

विश्वास का भयंकर अंजाम

पूनम ने अपनी पक्की सहेली अंजलि सिकरवार के प्यार पर डाका डाल कर उस के प्रेमी अर्जुन शर्मा को अपने वश में कर लिया. यह सच्चाई जब अंजलि को पता लगी तो वह घायल शेरनी की तरह इतनी खतरनाक हो गई कि...

1 min read
Satyakatha
February 2021

सोनू का आनंद लोक

सोनू जानती थी कि अमीन के पद पर कार्यरत आशीष शुक्ला शादीशुदा ही नहीं बल्कि 2 बच्चों का पिता है. इस के बावजूद लालची सोनू ने उसे अपने प्यार के जाल में फांस लिया. इसी दौरान महत्त्वाकांक्षी सोनू ने ऐसी चाल चली कि...

1 min read
Satyakatha
February 2021

बदले दिन भिखारी के

ब्राजील के साओ पाओलो में भिखारी अकसर कुछ लिखता रहता था. एक महिला की नजर उस पर पड़ी तो उस ने व्यस्त समय में से कुछ समय निकाल कर उस से बातचीत की.

1 min read
Satyakatha
February 2021

10 करोड़ की झोपड़ी

आजकल दुनिया भर में भव्य से भव्य, बड़े से बड़ा, ऊंचे से ऊंचा घर बनाने की होड़ सी लगी हुई है.

1 min read
Satyakatha
February 2021

हवाई जहाज से चलने वाली चोरनी

मुनमुन हुसैन उर्फ अर्चना बरुआ एक ऐसी हाईप्रोफाइल चोरनी थी जो 10-20 लाख रुपए की नकदी या ज्वैलरी पर ही हाथ साफ करती थी. वह बेंगलुरु से रोजाना हवाईजहाज से मुंबई या दूसरे बड़े शहरों को उड़ान भरती और चोरी कर के शाम को बेंगलुरु लौट आती. मुनमुन हुसैन आखिर कैसे बनी इतनी बड़ी चोरनी...

1 min read
Satyakatha
January 2021

शासन की टेढ़ी नजर पर कुख्यात डौन मुख्तार अंसारी

मुख्तार अंसारी का जन्म एक प्रतिष्ठित परिवार में हुआ था, लेकिन छात्र जीवन में बृजेश सिंह से हुई दुश्मनी की वजह से वह अपराध के गर्त में उतरता चला गया. परिवार का राजनीतिक संरक्षण मिलने पर वह एक ऐसा माफिया डौन बना कि...

1 min read
Satyakatha
January 2021

जहां कभी 12 नहीं बजते

दुनिया में एक ऐसा शहर भी है जहां कभी 12 नहीं बजते. स्विटजरलैंड के इस अजीबोगरीब शहर का नाम है सोलोथन.

1 min read
Satyakatha
January 2021

ताजमहल वाली तसवीर का रहस्य

तमाम नवदंपति आगरा का ताजमहल देखने जाते हैं और जीवन भर के लिए एक याद साथ ले आते हैं. पूनम भी लाई लेकिन कुछ ऐसी याद कि...

1 min read
Satyakatha
January 2021