महाराष्ट्र की पहली लेडी सुपरकोप मर्दानी आईपीएस
Manohar Kahaniyan|February 2021
मीरा बोरवंकर ने अपने कार्यकाल में बहादुरी भरे कारनामे किए, उन के लिए वह पुलिस में सुपरकोप के नाम से जानी जाती थीं. निस्संदेह मीरा जैसे पुलिस अफसर वरदी की गरिमा रखने के लिए...
सुनील वर्मा

मामला 26 साल पुराना जरूर है. लेकिन आज भी इस घिनौने अपराध को जानसुन कर रूह कांप जाती है. जलगांव का सैक्स स्कैंडल उस दौर का सब से बड़ा सैक्स स्कैंडल था, जिस ने राजनीति में भूचाल ला दिया था. और महिला आईपीएस अधिकारी मीरा बोरवंकर के नाम का डंका बज गया था.

1994 के उस दौर में महाराष्ट्र स्टेट सीआईडी के हैड अरविंद ईनामदार थे. मीरा बोरवंकर सीआईडी में क्राइम ब्रांच की इंचार्ज थीं. उन दिनों क्राइम ब्रांच का काम संगठित अपराध और गैंगस्टरों को खत्म करना था. मीरा बोरवंकर तब तक महाराष्ट्र के कई जिलों में चर्चित पुलिस अधीक्षक रह चुकी थी. उन्होंने कई कुख्यात अपराधियों की नाक में नकेल डाली थी.

आकर्षक और सौम्य व्यक्तित्व की मीरा इसलिए भी चर्चाओं में थीं, क्योंकि वह महाराष्ट्र की पहली और उन दिनों की एकलौती महिला आईपीएस अफसर थीं. आमतौर पर तब महिलाओं की छवि घर परिवार का पालनपोषण करने और घर की रसोई संभालने वाली नारी के रूप में होती थी. लेकिन मीरा ने आईपीएस बनने के बाद अपराधियों की कमर तोड़ कर इस छवि को बदलने का काम किया था.

दरअसल, सीआईडी को लगातार शिकायत मिल रही थी कि जलगांव में प्रभावशाली लोगों का एक ऐसा गिरोह सक्रिय है जो स्कूली लड़कियों व कामकाजी महिलाओं को अपने पोली जाल में फंसा कर उन का शारीरिक शोषण करता है.

इसी दौरान लड़कियों की वीडियो भी तैयार कर ली जाती है, जिस से लड़कियों को ब्लैकमेल कर के उन्हें बड़ेबड़े कारोबारियों, नौकरशाहों और राजनेताओं के बिस्तर की शोभा बनने को मजबूर किया जा सके.

लेकिन बदनामी के डर से कोई भी पीड़ित लड़की न तो पुलिस के सामने आ रही थी और न ही सीआईडी को किसी तरह का सबूत मिल रहा था.

अरविंद ईनामदार ने अपनी टीम के एसपी स्तर के 2 अफसरों दीपक जोग और मीरा बोरवंकर को इस सैक्स स्कैंडल के आरोपियों को पकड़ने का जिम्मा सौंपा.

दीपक जोग को इस मामले में बहुत ज्यादा सफलता नहीं मिल सकी. लेकिन मीरा ने महिला होने के नाते इस अपराध को बेहद गंभीरता से लिया और खुद इस केस की छानबीन में जुट गईं.

मीरा ने एक तेजतर्रार टीम का गठन किया और शहर में जिस्मफरोशी का धंधा करने वाले लोगों के बीच में टीम के लोगों की घुसपैठ करवा दी. अपराध ऐसा था जिस में न तो कोई शिकायत करने वाला था, न ही किसी अपराधी का चेहरा सामने था.

लेकिन मीरा ने हार नहीं मानी. उन्होंने अपनी टीम के लोगों को उस वक्त तक इस प्रयास में लगे रहने के लिए कहा, जब तक असल अपराधियों के चेहरे सामने नहीं आ जाते.

इसी प्रयास के दौरान उन की टीम ने एक लड़की को पेश किया जो देह व्यापार की दलदल में फंस चुकी थी. जब लड़की को मीरा के सामने लाया गया तो उन्होंने बड़े प्यार और चतुराई से उन लोगों के नाम उगलवा लिए जिन के कारण वह देह व्यापार के धंधे में आई थी.

नाम, पते सब हासिल हो गए थे. लेकिन लड़की के बयान के अलावा कोई ऐसा सबूत नहीं था कि उन प्रभावशाली लोगों पर हाथ डाल कर उन्हें कानून के कटघरे में खड़ा किया जा सके. मीरा ने सीआईडी के मुखिया अरविंद ईनामदार से मशविरा किया तो उन्होंने सलाह दी कि पहले ठोस सबूत इकट्ठा करो फिर उन लोगों पर हाथ डालना.

इस के बाद मीरा ने छद्मवेश में महिला पुलिसकर्मियों को उस गिरोह के भीतर शामिल करा दिया. धीरेधीरे गिरोह के खिलाफ सबूत एकत्र होने लगे. जल्दी ही गिरोह के चंगुल में फसी लड़कियों की लंबी फेहरिस्त तैयार हो गई. उन तमाम प्रभावशाली लोगों के चेहरे भी सामने आ गए जो सैक्स रैकेट के इस बड़े सिंडीकेट में शामिल थे.

फिर शुरू हुआ इन की धरपकड़ के बाद सफेदपोशों के चेहरों को बेनकाब करने का अभियान. मीरा बोरवंकर ने जैसे ही बड़ेबड़े कारोबारियों, सरकारी अफसरों, राजनीति से जुड़े लोगों के साथ जरायम की दुनिया से जुड़े लोगों पर हाथ डालना शुरू किया तो पूरे देश में हड़कंप मच गया.

Continue reading your story on the app

Continue reading your story in the magazine

MORE STORIES FROM MANOHAR KAHANIYANView All

सुरंग के रास्ते 540 किलो चांदी की चोरी

जिस तरह सुरंग खोद कर डा. सुनीत सोनी के तहखाने से 540 किलोग्राम चांदी की 18 सिल्लियां चुराई गईं, वह हैरतंगेज था. लेकिन इस से भी हैरतंगेज बात यह थी कि यह काम डा.सुनीत के उसी दोस्त शेखर ने कराया था, जिस ने इतनी चांदी खरीदवाई और बक्सों में भर कर डाक्टर के क्लीनिक के फर्श में दबवाई. कैसे हुआ यह सब...

1 min read
Manohar Kahaniyan
April 2021

एक ऐसा भी 'मासूम'

बंगलादेश में फांसी की सजा पाया मासूम भारत आ गया था. वह अपने दोस्त सरवर और उस के परिवार के साथ रहने लगा. इसी दौरान अचानक सरवर गायब हो गया तो मासूम उस की पत्नी का शौहर बन कर फरजी दस्तावेजों में सरवर बन कर रहने लगा. लेकिन दिल्ली पुलिस...

1 min read
Manohar Kahaniyan
April 2021

रवि-पुजारी एक बड़बोला डौन

करीब 20 सालों से फरार रंगदारी, हत्या समेत लगभग 200 मामलों में वांटेड फिल्मी हस्तियों, बिल्डरों, नेताओं और बिजनेसमैनों को धमकी दे कर पैसे की उगाही करने वाला कुख्यात गैंगस्टर रवि पुजारी आखिर पकड़ा ही गया. कर्नाटक पुलिस उसे पश्चिमी अफ्रीकी देश सेनेगल से भारत ले तो आई, पर क्या उस का अंजाम भी छोटा राजन जैसा ही...

1 min read
Manohar Kahaniyan
March 2021

रंगीन सपनों का संगीन जहर

गौरव हलधर डाक्टरी की पढ़ाई करतेकरते प्रीति मेहरा के जाल में ऐसा फंसा कि जान के लाले पड़ गए. डा. प्रीति को गौरव को रंगीन सपने दिखाने की जिम्मेदारी उस के ही साथी डा. अभिषेक ने सौंपी थी. भला हो नोएडा एसटीएफ का जिस ने समय रहते...

1 min read
Manohar Kahaniyan
March 2021

हम सभी कुछ न कुछ जुर्म जीवन में करते हैं -रोनित रॉय (अभिनेता)

धारावाहिक 'कसौटी जिंदगी की' में एक बिजनेस टाईकून ऋषभ बजाज की भूमिका निभाकर घर-घर चर्चित हुए अभिनेता रोनित रॉय से कोई अपरिचित नहीं. उन्हें टीवी का अमिताभ बच्चन कहा जाता है. वे टीवी पर सबसे अधिक फीस लेने वाले कलाकार के रूप में भी जाने जाते हैं. उन्होंने टीवी धारावाहिकों के अलावा कई फिल्मों, वेब सीरीज और टीवी शो में काम किया है.

1 min read
Manohar Kahaniyan
March 2021

सुपरकौप सौम्या सांबशिवन हिमाचल की शोरनी

शायराना मिजाज की सौम्या सांबशिवन किसी भी दबाव में काम नहीं करतीं. उन के लिए कानून व्यवस्था और देशहित पहले है, बाकी बाद में. लेकिन ऐसे ईमानदार अफसरों को सरकार और उच्च अधिकारी चैन से कहां रहने देते हैं. देखना है हिमाचल की इस शेरनी का अंजाम....

1 min read
Manohar Kahaniyan
February 2021

आईपीएस शिवदीप लांडे रियल हीरो

शिवदीप लांडे ईमानदार ही नहीं, रौबिनहुड की छवि वाले पुलिस अधिकारी हैं. उन्होंने अपनी ड्यूटी को दिलोजान से निभाया और कई बार जान भी दांव पर लगाई. ट्रांसफर कहीं भी हुआ, लांडे ने अपनी कार्यशैली नहीं बदली. दूसरे अधिकारियों से अलग हट कर काम करने से ही उन्हें...

1 min read
Manohar Kahaniyan
February 2021

जिंदगी का सफर

ख्वाब टूटे हैं मगर हौसले अभी जिंदा हैं, मैं वह नारी हूं जिस से मुश्किलें भी शर्मिंदा हैं

1 min read
Manohar Kahaniyan
February 2021

महाराष्ट्र की पहली लेडी सुपरकोप मर्दानी आईपीएस

मीरा बोरवंकर ने अपने कार्यकाल में बहादुरी भरे कारनामे किए, उन के लिए वह पुलिस में सुपरकोप के नाम से जानी जाती थीं. निस्संदेह मीरा जैसे पुलिस अफसर वरदी की गरिमा रखने के लिए...

1 min read
Manohar Kahaniyan
February 2021

सोनिया नारंग राजनीतिज्ञों को भी सिखाया सबक

सोनिया नारंग वह दबंग महिला आईपीएस हैं जो न मुख्यमंत्री के सामने झुकी, न लोकायुक्त के सामने. उन्होंने वही किया जो एक ईमानदार पुलिस अधिकारी को करना चाहिए. यही वजह है कि कर्नाटक के लोग सीबीआई से ज्यादा सोनिया की जांच पर...

1 min read
Manohar Kahaniyan
February 2021
RELATED STORIES

How Ipsy Is Reinventing The Cosmetics Industry

YouTube star and Ipsy founder Michelle Phan is at the forefront of the social reinvention of the $39 billion cosmetics industry.

6 mins read
Fast Company
February 2016

From Bedroom Blogger To Media Mogul

From bedroom blogger to media mogul, Michelle Phan is not only on fleek - girl is on fire. 

10+ mins read
NYLON
February 2016

Spirited performer

Choosing a traditional-looking boat doesn’t mean going low-tech, as Sam Fortescue discovered when he sailed the Spirit Yachts’ new 44E

7 mins read
Sailing Today
April 2021

LG Gram 17 (17Z90N-V)

The LG Gram 17 mobile office laptop comes with a huge 17-inch screen. Despite having large screen LG kept it light and thin, only 1.350 KG weight and 17.4mm thick. At the first look, it gives me impression of being a heavyweight laptop, but it feels featherlight when I pick it up. But what about durability and performance? Let’s check out

3 mins read
PCQuest
March 2021

BLUES' RECIPE TEMPTS COOK

PAUL Cook says he would rather be the manager of Ipswich Town in League One than take over a “joke” club in the Championship.

3 mins read
The Football League Paper
March 07, 2021

Being Frank

Retired driver Frank Fiddy shares with us his transport tales from back in the day

7 mins read
Truck & Driver
January 2021

HOT HOGS ON THE DARLING DOWNS

Dave spends a Sunday with the Gasoline Alley H-D HOGS and a Road King Special.

3 mins read
HEAVY DUTY Magazine
January - February 2021

विकास नहीं दीदी को चाहिये कटमनी : भारती घोष

जिले के धनियाखाली शिवाय चंडी बाजार इलाके में भाजपा के तरफ से आयोजित एक जनसभा मंच से मुख्य वक्ता के तौर पर भाषण देने पहुंची पूर्व आईपीएस व वर्तमान भाजपा नेता भारती घोष ने ममता बनर्जी को चौतरफा घेरा।

1 min read
Samagya
December 22, 2020

Sparks to Norwich

Loco-powered services between Liverpool Street and Norwich came to an end earlier this year, although unlike the cessation of HST workings on the East Coast Main Line at the end of 2019, coronavirus meant there was no big farewell. David Russell looks back at 35 years of electric traction on the route.

8 mins read
Rail Express
December 2020

पीएम नरेन्द्र मोदी की जनसभा को लेकर सुरक्षा चाक-चौबंद

चुनाव के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बिहार में चुनावी दौरे पर सुरक्षा इंतजामों को चाक-चौबंद रखने के लिए 7 आईपीएस अधिकारियों को विशेष शाखा में प्रतिनियुक्त किया गया है।

1 min read
Rokthok Lekhani
October 21, 2020