Cock-A-Doodle Whisper
Highlights Champs|August 2019

Cock-a-doodle-doo!” shouted Ricky. “Cock-a-doodle-doo!

Geary Smith

“Please, not so loud, Ricky,” Farmer Vijay called out the window. “I don’t have to plow the fields this morning. I want to catch up on sleep.”

Ricky lowered his voice. “Cock-a-doodle-doo. Cock-a-doodle-doo.

“A little less noisy, please,” said anju. “I’m still on summer break, so don’t have to get up early for school.”

Cock-a-doodle-doo,” Ricky said more quietly. “Cock-a-doodle-doo.”

“Please keep it down,” said the chickens. “We want to sleep late today.”

Continue reading your story on the app

Continue reading your story in the magazine

RELATED STORIES

What Takes Our Breath Away

An undertaker reflects on the one thing death can’t steal: our stories.

7 mins read
The Atlantic
June 2020

Adult Bedtime Stories (But Not That Kind Of Adult)

We’re not big on podcasts this side of the world, but its thriving audio drama genre has more than meets the ear. We take a novice dive into the realm of narrative podcasts on the good, bad, and somewhat strange.

7 mins read
Esquire Singapore
February 2021

¿Cómo aprovechar *Instagram* para hacer crecer tu negocio?

Si eres emprendedora, es un must utilizar estas herramientas de tu cuenta para bril lar en dicha red social.

2 mins read
Cosmopolitan en Español - México
Febrero 2021

50 Greatest Stories For Older Children

The most remembered tales, by the best storytellers ever!

1 min read
Storizen
January 2021

Folk Tales of Asia

The stories that make us

10+ mins read
ASIAN Geographic
AG 03/2020 - 142

ममता से मातृत्व तक की यात्रा

यह कोई परंपरागत रूप में स्वालंबी बनने से जुड़ी पुस्तक नहीं है। यह माँ के रूप में मेरी यात्रा का ईमानदार व गंभीर वर्णन है

1 min read
Samay Patrika
June 2020

मुनमुन घोड़ा

पेडर चाचा बहुत सुंदर खिलौने बनाया करते थे। फिर गांव-गांव घूमकर आवाज लगाते, "आओ बच्चो, पेडर आया।"

1 min read
Nandan
May 2020

चंचल मछलियां

प्राचीन समय की बात है। छत्तीसगढ़ के महाराजा दिग्विजय सिंह ने अपने राज्य के राजनांद गांव में दो तालाबों का निर्माण करवाया। एक तालाब का नाम 'रानीसागर' और दूसरे तालाब का नाम 'बूढ़ासागर' था।

1 min read
Nandan
May 2020

खाली समय में सृजन करते बच्चे

कोरोना की वजह से हुई छुट्टियों में अपने बच्चों को शैतानियों से दूर रखने के लिए ये कर रहे हैं उनके माता-पिता

1 min read
India Today Hindi
April 08, 2020

मौन से मुखर तक

वक्त के साथ प्रेम के रूप बदलते गए हैं तो प्रेम कहानियों का कलेवर भी। एक समय उन्हीं कहानियों को प्रेम कहानियों की संज्ञा मिली जिनमें कुछ पाना नहीं होता था, खोना ही खोना होता था। समय के साथ यह प्रेम अब साहचर्य की मांग करने लगा और प्रेम कहानियां भी मुखर होती गईं

1 min read
Kadambini
February 2020