तारामीरा शुष्क क्षेत्रों के लिए वरदान
Modern Kheti - Hindi|1st November 2020
तारामीरा की खेती के लिए बलूई, दोमट एवं दोमट मिट्टी अधिक उपयुक्त रहती है। साधारणतया वर्षा उपरांत नमी को संरक्षित करते हुए खेत को पाटा लगाकर समतल करते हुए खेत की तैयारी शुरू कर देनी चाहिए। नमी संरक्षण एवं खरपतवार नियंत्रण हेतु प्रत्येक हल्की जुताई के बाद पाटा अवश्य लगाएं।
डॉ. दीपक गुप्ता, डॉ. सुरेश मुरेलिया, डॉ. लोकेश कुमार जाट तथा डॉ. हरफूल सिंह

तारामीरा, राया सरसों समूह की एक तिलहनी फसल है। इसमें तेल की मात्रा 32 से 37 प्रतिशत तक पाई जाती है। राजस्थान में इसकी खेती रबी में सुखा प्रभावित क्षेत्रों जैसे नागौर, पाली, बीकानेर, बाड़मेर व जयपुर जिलों में मुख्य रूप से की जाती है। कम उपजाऊ भूमि व सूखा सहने की क्षमता के कारण संरक्षित नमी में इसकी फसल सफलतापूर्वक ली जा सकती है। जिन क्षेत्रों में वर्षा काल के पश्चात खेतों में बुवाई नहीं हो पाती है वहां इस फसल को मावठ के बाद भी देरी से बुवाई की जा सकती है। राजस्थान राज्य तारामीरा के उत्पादन में उन्नत किस्मों के विकास में अग्रणी राज्य है।

भूमि का चुनाव व खेत की तैयारी : तारामीरा की खेती के लिए बलूई, दोमट एवं दोमट मिट्टी अधिक उपयुक्त रहती है। साधारणतया वर्षा उपरांत नमी को संरक्षित करते हुए खेत को पाटा लगाकर समतल करते हुए खेत की तैयारी शुरू कर देनी चाहिए। नमी संरक्षण एवं खरपतवार नियंत्रण हेतु प्रत्येक हल्की जुताई के बाद पाटा अवश्य लगाएं।

बीज की दर व बीज उपचार : खेत में नमी के स्तर को ध्यान में रखते हुए बीज की मात्रा का निर्धारण करें। आमतौर पर 4 से 5 किलो बीज प्रति हैक्टेयर उपयुक्त रहता है। बीजों को 2 से 3 ग्राम मैनकोजेब प्रति किलो की दर से उपचारित कर बोये।

Continue reading your story on the app

Continue reading your story in the magazine

MORE STORIES FROM MODERN KHETI - HINDIView All

किसानी मसलों का शाश्वत समाधान कैसे हो?

आज के भारतीय किसान संघर्ष ने दुनिया के इतिहास में विलक्षण तारीख लिख दी है। सरकार जितनी जोर के साथ इस संघर्ष को कुचलने का प्रयत्न कर रही है, इस संघर्ष की पकड़ उससे भी ज्यादा मजबूत होती जा रही है।

1 min read
Modern Kheti - Hindi
15th January 2021

किसान आंदोलन निर्णय की प्रतीक्षा में...

भारत सरकार ने इस वर्ष किसानों के नाम पर तीन कानून लागू किये हैं। पहला किसान सुशक्तिकरण और संरक्षण कीमत असवाशन और खेती सेवा समझौता कानून, दूसरा किसान उत्पादन व्यापार और व्यापार प्रोत्साहन और सुविधा कानून और तीसरा जरूरी वस्तु (संशोधन) अध्यादेश ।

1 min read
Modern Kheti - Hindi
15th January 2021

गोभी वर्गीय फसलों में घातक काला सड़न (ब्लैक रोट) रोग व रोकथाम

पौधों की पत्तियों पर अंग्रेजी के अक्षर वी के आकार के हरितहीन, मुरझाए हुए धब्बे बनने शुरू होते हैं, जो बाद में पूरी पत्ती पर फैल जाते हैं। इस तरह से पत्ती एक और के किनारे से सूखना और मुड़ना आरंभ कर देती है और बाद में सूखकर मर जाती है। पत्तियों की नसें अंदर से काली पड़ जाती हैं। पौधों के तनों के अंदर भी काले रंग का द्रव्य दिखाई पड़ता है जो कि संक्रमण का कारण बनता है।

1 min read
Modern Kheti - Hindi
15th January 2021

आखिर क्यों है खेती कानूनों को लेकर किसानों का विरोध?

इन दिनों में किसान खेती कानूनों के विरूद्ध लड़ाई लड़ रहा है, जो उसके अस्तित्व के लिए खतरा बन रहे हैं और जिन्होंने उसको शारीरिक, आर्थिक और भावनात्मिक तौर पर प्रभावित किया है।

1 min read
Modern Kheti - Hindi
15th January 2021

पशुपालक की जागरूकता समय की आवश्यकता

पशुपालक गलती करके पीड़ित पशु के मुंह में हाथ डाल बैठते हैं, जिससे वो रेबीज से पीड़ित हो जाते हैं। कुछ पशुओं में पशु धरती पर पांव मार मार के गिरने लगते हैं तथा बेकाबू हो जाते हैं। कुछ पशुओं में अधरंग हो जाता है तथा पशु की मौत भी हो जाती है।

1 min read
Modern Kheti - Hindi
15th January 2021

डेयरी पशुओं को खरीदते समय प्रजनन जांच जरूरी क्यों?

कई बार तो ऐसी स्थिति हो जाती है कि पशुपालक मंडी में से पशु को गाभिन समझ कर खरीद कर ले आते हैं, घर में नए आए पशु के पोषण का उचित ध्यान भी रखा जाता है, प्रबंधन में कोई कमी नहीं रखी जाती, पर पशु ब्याहता नहीं है।

1 min read
Modern Kheti - Hindi
1st January 2021

कृषि में साइट-विशिष्ट पोषक तत्व प्रबंधन का महत्व

किसान अकसर उर्वरक को एक दर एवं एक समय पर फसलों में डालते हैं जो कि उनकी फसल की जरूरतों के अनुरूप नहीं होता है साइटविशिष्ट पोषक तत्व प्रबंधन उन सिद्धांतों और दिशानिर्देशों को प्रदान करता है

1 min read
Modern Kheti - Hindi
1st January 2021

संघर्ष 'अन्नदाता' के अधिकारों का...

संघर्ष 'अन्नदाता' के अधिकारों का...

1 min read
Modern Kheti - Hindi
1st January 2021

किसान संघर्ष एक नये युग का आगाज

कृषि कानूनों को रद्द करवाने के लिए शुरु हुआ किसान संघर्ष आज आंदोलन का एक रुप धार चुका है। युवक, बच्चे एवं बुजुर्ग काबिल-ए-तारीफ ढंग से दिल्ली में अपनी आवाज़ पहुंचाने में सफल हुए हैं।

1 min read
Modern Kheti - Hindi
15th December 2020

कृषि अध्यादेश बनाम किसान

अंकित यादव (शोध छात्र), देवेन्द्र सिंह (असि. प्रो.), अंशुल सिंह (शोध छात्र), सत्यवीर सिंह (शोध छात्र ), चंद्रशेखर आजाद

1 min read
Modern Kheti - Hindi
15th December 2020
RELATED STORIES

NUTRIENT STEWARDSHIP

New 4R Certification Program Launches With Help of Major Ag Figures

4 mins read
Central Florida Ag News
December 2019

What Christmas means to me...chaos

When it comes to presents, Green goddess Marama repurposes it with love from the op shop.

3 mins read
Australian Women’s Weekly NZ
Christmas 2020

श्री विधि से धान की खेती

यह धान की खेती की ऐसी तकनीक है, जिस में बीज, पानी, खाद और मानव श्रम का समुचित तरीके से इंतजाम करना शामिल है, जिस का मकसद प्रति इकाई क्षेत्रफल में ज्यादा से ज्यादा उत्पादकता बढ़ाना है.

1 min read
Farm and Food
July First 2020

Keeping Your Edibles Happy

Tend your crops for a great harvest this year, says Ruth

2 mins read
Amateur Gardening
June 13, 2020

सीड कम फर्टिलाइजर ड्रिल से करें बोआई

सीड कम फर्टिलाइजर कृषि यंत्र से एक ही बार में खाद व बीज खेत में डाला जाता है. इस यंत्र के इस्तेमाल से खाद व बीज का सही इस्तेमाल होता है और भरपूर फसल पैदावार भी मिलती है.

1 min read
Farm and Food
January Second 2020