लाइफस्टाइल का हिस्सा बना कोरोना वायरस
Grehlakshmi|September 2020
We're offering this story for free to read so that you can stay updated on the COVID-19 outbreak
लाइफस्टाइल का हिस्सा बना कोरोना वायरस
दुनिया के हर इंसान के लाइफस्टाइल को बदलने और उसका हिस्सा बन जाने वाले कोरोना वायरस से बचने और इसे मात देने के लिए इन चीजों का रखें ध्यान
ज्योति सोही

बेफिक्र बेखौफ जिंदगी को जीने वाला हमारा मन अचानक से सहम क्यों गया... जो कभी बाहर का चटपटा खाना खाने के लिए हमें उकसाता था, तो कभी घूमने फिरने के लिए सताता था, वो अचानक से अब डर क्यों गया। कारण है कोरोना वायरस महामारी। अब आलम ये है कि कई महीनों से हमारी जिंदगियां और हमारे मन घरों में कैद हो चुके हैं। घर से पांव बाहर निकालते वक्त सोचना पड़ता है। खैर, लंबे लॉकडाउन के बाद अब हम लोग घरों से बाहर निकल रहे हैं और ज़रूरत के मुताबिक काम भी कर रहे हैं। मगर अब हम पहले जैसे आजाद होकर घूमने से कतराते हैं। लिहाजा अब हमें बहुत सी सावधानियां बरतने की ज़रूरत है। क्योंकि कोरोना वायरस अब हमारी जिंदगी का हिस्सा बन चुका है और खुद-ब-खुद हमारे जीवन में शामिल हो गया है। इसके चलते अब मॉल में जाना, मेट्रो में घूमना, सिनेमाहॉल में मूवी देखना और जिम में एक्सरसाइज करना सब कुछ बदल गया है। यहां तक कि अब हम दूसरों से मिलने में भी कतराने लगे हैं। मगर हमें ये नहीं भूलना चाहिए कि कोरोना हमें डराने नहीं आया बल्कि हमारा लाइफस्टाइल बदलने आया है, जो अस्त-व्यस्त हो चुका था। तो आइए जानते हैं घर से बाहर निकलते वक्त कहां-कहां, किन-किन सावधानियों को बरतना है और कोरोना से कैसे बचना है।

अगर जाना हो पार्लर

अब जब पार्लर खुल गए हैं तो महिलाओं ने भी पार्लर जाना शुरू कर दिया है। लेकिन इसका अर्थ यह नहीं है कि कोरोना संक्रमण का खतरा पूरी तरह टल गया है। भले ही घर से बाहर निकलने और पार्लर जाने की अनुमति मिल गई है लेकिन फिर भी कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सतर्कता बरतनी जरूरी है। पार्लर जाने से पहले इन बातों का रखें ख्याल-

कैरी करें हैंड सेनिटाइजर

हो सकता है कि पार्लर में आपको बार-बार हाथ धोने का मौका ना मिले। इसलिए बेहतर होगा कि आप अपने बैग में हैंड सैनिटाइजर को रखें। पार्लर में ऐसी कई जगहें होती हैं, जहां हर कोई बैठता है या वहां से होकर गुजरता है, तो ऐसी जगहों को छूने के बाद हाथों को सैनिटाइज करना बेहद जरूरी है।

जरूर पहनें मास्क

कोरोना संक्रमण से बचाव का सबसे अच्छा तरीका है मास्क पहनना। सुनिश्चित करें कि आप सैलून के अंदर फेस मास्क पूरा समय पहनें। साथ ही इस बात का भी ध्यान रखें कि पार्लर स्टाफ ने भी मास्क पहना हो और मुंह और नाक को पूरी तरह कवर किया हो। अगर उन्होंने फेसशील्ड का प्रयोग किया है तो यह अतिरिक्त लाभ है। हमेशा ऐसा फेस मास्क पहनें जो आपको अच्छी तरह से फिट हो ताकि आपको अपने चेहरे पर बार-बार फेस मास्क को एडजस्ट करने के लिए छूना ना पड़े।

धोएं कपड़े

रोगाणु कपड़ों पर 2 दिन या उससे अधिक समय तक जीवित रह सकते हैं और हो सकता है कि अनजाने में आपके कपड़े किसी तरह के वायरस के संपर्क में आए हों। इसलिए बेहतर होगा कि आप सैलून से वापिस आने के बाद हाथों को अच्छी तरह साफ करने के बाद कपड़ों को किसी अच्छे डिटर्जेंट की मदद से धोएं। कपड़े धोने के लिए गर्म पानी का इस्तेमाल करें। गर्म पानी कीटाणुओं को काफी हद तक मार देता है।

जरूर लें अपॉइंटमेंट

हो सकता है कि आपने अपने रेग्युलर पार्लर में ही जाना शुरू कर दिया हो, लेकिन फिर भी यह जरूरी है कि आप पहले अपॉइंटमेंट लेकर ही पार्लर जाएं। अपॉइंटमेंट लेने का लाभ यह होगा कि आप पार्लर में उस समय जा पाएंगी, जब वहां अन्य महिलाओं की भीड़ नहीं होगी। साथ ही पार्लर को भी सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन करने और पार्लर को सैनिटाइज करने के लिए पर्याप्त वक्त मिल पाएगा।

जिम जाने से पहले रहें सतर्क

अगर आप एक्सरसाइज करने के लिए जिम जाते हैं, तो वहां बेहद सावधान रहने की ज़रूरत है। क्योंकि वहां पर मशीनों का हर कोई बारी-बारी से इस्तेमाल करता है। ऐसे में साफ-सफाई का ध्यान रखना ज़रूरी बात है। ऐसे में कोरोना वायरस जैसी महामारी से बचने के लिए इन उपायों को ज़रूर करें। एक्सरसाइज करते समय बरतें ये सावधानियां

समय का ध्यान रखें

कोरोना वायरस के पहले ये होता था कि हम किसी भी वक्त जिम जा सकते थे और अपनी सुविधा के हिसाब से एक्सरसाइज कर सकते थे लेकिन अब आपको जिम जाते वक्त ये ध्यान रखना होगा कि जो टाइम आपको निर्धारित किया गया है आप उसी समय जाएं। ऐसा इसलिए है ताकि किसी एक समय पर जिम में बहुत भीड़ न हो।

सोशल डिस्टेंसिंग

है बहुत जरूरी सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान जिम में रखना जरूरी है। आपको दोस्तों के साथ एक्सरसाइज करने से बचना है। ग्रुप एक्सरसाइज और कपल एक्सरसाइज से बचें। कम से कम 6 फीट का डिफरेंस रखना बहुत जरूरी है।

ग्लव्ज पहनें

अपने जिम ग्लव्ज और रिस्ट बैंड पहनें। ये बहुत जरूरी है कि आपकी स्किन का हिस्सा कम से कम पब्लिक मशीनों से टच न हो। इसके लिए आपका ग्लव्ज पहनना अच्छा ऑप्शन साबित होगा, रिस्ट बैंड भी आपको सुरक्षा दे सकते हैं।

अपनी चीजों का ध्यान रखें

अगर कोरोना से पहले की जिंदगी की बात करें तो इसके पहले ऐसा होता था कि जिम जाकर किसी वक्त वहां के वाटर कूलर से पानी पी सकते थे या फिर अपनी बॉटल को कैजुअली हम किसी भी सरफेस पर रख देते थे, लेकिन ये अब सुरक्षित नहीं होगा। अपना टॉवल, बॉटल, ग्लव्ज आदि सब कुछ अलग रखें और जिम के लॉकर का इस्तेमाल भी न करें।

बीमार हों तो कभी न जाएं

अगर आपको किसी भी तरह की परेशानी महसूस हो रही है तो बिल्कुल भी जिम न जाएं। बुखार, सदी, खांसी, सिरदर्द, सांस लेने में दिक्कत, स्वाद या खुशबू महसूस न होना, पैरों में अकड़न आदि कोई भी लक्षण दिख रहा है तो जिम न जाएं और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें।

अगर करना हो पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल

अब लोग पब्लिक ट्रांसपोर्ट का यूज करने लगे हैं तो ऐसे में यह बेहद आवश्यक है कि आप इन पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल करते हुए कुछ जरूरी एहतियात बरतें ताकि आप स्वयं को कोरोना संक्रमण से बचा पाएं। अगर आप पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल करते हुए कुछ जरूरी बातों का ध्यान नहीं रखती हैं तो इससे आपको कोरोना संक्रमण होने की संभावना काफी बढ़ जाती है। तो चलिए आज हम आपको ऐसी ही कुछ जरूरी बातों के बारे में बता रहे हैं, जिनका ख्याल आपको पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल करते हुए रखना चाहिए। पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल करते समय इन बातों का रखें ध्यान-

पहनें फेस मास्क

articleRead

You can read up to 3 premium stories before you subscribe to Magzter GOLD

Log in, if you are already a subscriber

GoldLogo

Get unlimited access to thousands of curated premium stories, newspapers and 5,000+ magazines

READ THE ENTIRE ISSUE

September 2020

MORE STORIES FROM GREHLAKSHMIView All