35 स्वास्थ्य संबंधी तथ्य
Grehlakshmi|August 2020
35 स्वास्थ्य संबंधी तथ्य
35 ऐसे तथ्य, जो आपके स्वास्थ्य से जुड़े हुए हैं। जानें अपने डॉक्टर से ये तथ्य सच हैं या झूठ।
मोनिका अग्रवाल

1. ठंडा मौसम आपको बीमार करता है

यह कथन बिल्कुल झूठ है, क्योंकि कीटाणु आपको बीमार करते हैं न कि मौसम। यदि आप गीले बालों के साथ भी कहीं ठंडी जगह पर जाते हैं और वहां कीटाणु नहीं है तो आप बिल्कुल भी बीमार नहीं पड़ेंगे। परंतु इन दोनों तथ्यों के बीच एक सम्बन्ध है। बीमार करने वाले कीटाणु कम तापमान में ही पनपते हैं।

2. ज्यादा मीठा खाने से आपको डायबिटीज हो सकती है।

यह झूठ है। कुछ भी मीठा खाना तुरन्त आपके ब्लड शुगर के लेवल को नहीं बढ़ाता है। पर यह मोटापा बढ़ा सकता है, जो डायबिटीज का एक कारण बन सकता है। इसलिए आप अपनी डाइट को हेल्दी ही रखें।

3. आप जले हुए पर बर्फ नहीं लगा सकते।

यह कथन एक दम सही है क्योंकि जले हुए पर बर्फ लगाने से बर्फ आपकी स्किन की सेल्स को नुकसान पहुंचा सकती है और हालत को और भी बिगाड़ सकती है। इसकी बजाय आप ठंडे पानी का प्रयोग कर सकते हैं। 5 मिनट तक ठंडे पानी में अपना जला हुआ अंग रखें और उसके बाद उसे साबुन से धोकर कोई एंटीबायोटिक क्रीम लगा लें।

4. एंटी परस्पिरएंट्स से कैंसर होता है।

यह एक झूठ है। एंटी परस्पिरएंट्स ज्यादा पसीने आने से रोकते हैं। कई एक्सपर्ट्स का मानना है कि इनकी वजह से ट्यूमर का खतरा हो सकता है पर एंटी परस्पिरएंट्स और कैंसर के बीच का कोई सम्बन्ध आज तक रिसर्च के द्वारा पता नहीं लगाया गया है।

5. सीपीआर में माउथ टू माउथ ब्रीदिंग की जरूरत नहीं होती।

यह कथन बिल्कुल सत्य है। 2017 में की गई रिसर्च के मुताबिक कार्डिएक अटैक में यदि किसी को माउथ टू माउथ ब्रीदिंग दी जाती है तो उसके बचने के चांस बहुत ही कम हो जाते हैं। इसकी बजाय हमें उसकी सांसों को बिना किसी रोक-टोक के जैसे चल रही है वैसे चलने देना चाहिए।

6. ज्यादा वजन आपके जीवन काल को कम करता है।

यह एक झूठ है। रिसर्चर इसको ओवरवेट पैराडॉक्स की बजाए ओबेसिटी पैराडॉक्स कहते हैं। ओबेसिटी यानी कि मोटापा आपके स्वास्थ्य से जुड़ी हुई समस्या है, उसमें आपका जीवन काल कम होने के चांस हैं परन्तु ओवरवेट और ओबेसिटी दो अलग-अलग चीजें हैं। एक रिसर्च के मुताबिक 1 लाख 90 हजार लोगों में से ओवरवेट लोगों का जीवन काल भी उतना ही है, जितना की नॉर्मल लोगों का।

7. किसी चोट लगे व्यक्ति को सीधे सोने न दें।

यह सत्य है कि यदि किसी को कोई चोट लग जाती है तो आपको उनको थोड़ी देर के बाद नींद से उठाकर उनकी चोट के लक्षणों को देखना चाहिए न कि सीधे उनको कई घंटों तक सोने देना चाहिए। इसके बाद वह रात में पूरी नींद ले सकते हैं।

8. नकसीर आने पर अपने सिर को थोड़ा पीछे की ओर टेढ़ा करें।

यह एक मिथ्या है। सिर टेढ़ा करने से आपको सूजन आ जाती है, जिसकी वजह से पेट में कुछ दिक्कत हो सकती है और आपको उल्टियां भी हो सकती हैं। इसकी बजाए नकसीर आने पर अपने सिर को सीधा रखें और नाक को 10 मिनट के लिए बंद रखें।

9. आपको एक बार ज्यादा खाना खाने की बजाए थोड़ा-थोड़ा खाना कई बार खाना चाहिए।

यह एक झूठ है। कुछ लोग थोड़ी मात्रा में ही खाना खाते हैं तो कुछ लोगों के लिए कम भोजन पर्याप्त नहीं रहता। यदि आपको ज्यादा भूख लगती है और आप थोड़ी मात्रा में खाना शुरू कर देंगे यह आपको उल्टा असर दिखा सकता है। आपको अपने खाने को विभाजित करने की बजाए उससे मिलने वाले पोषण पर ध्यान देना चाहिए।

10. दौरा पड़ने के दौरान जीभ सूजने का खतरा रहता है।

यह एक मिथ्या है। पुराने समय की तरह मुंह के अंदर चम्मच रखने से जीभ की सूजन को नहीं रोका जा सकता बल्कि इससे जीभ व दांतों को नुकसान पहुंच सकता है। इसकी बजाए आप उस इंसान को ऐसे लिटाएं जिससे उसको उल्टियां न आएं और उसके सिर के नीचे एक तकिया भी लगा दें।

11. गाजर से आपकी दृष्टि बढ़ती है।

articleRead

You can read up to 3 premium stories before you subscribe to Magzter GOLD

Log in, if you are already a subscriber

GoldLogo

Get unlimited access to thousands of curated premium stories, newspapers and 5,000+ magazines

READ THE ENTIRE ISSUE

August 2020

MORE STORIES FROM GREHLAKSHMIView All