जातिगत टकराव की ओर हाथरसः पीड़िता के घरवाले बोले: ठाकुर-ब्राह्मण के गांव में डरकर जी रहे हैं, पर इंसाफ लेकर रहेंगे
Rokthok Lekhani|October 05, 2020
जातिगत टकराव की ओर हाथरसः पीड़िता के घरवाले बोले: ठाकुर-ब्राह्मण के गांव में डरकर जी रहे हैं, पर इंसाफ लेकर रहेंगे
उत्तर प्रदेश के हाथरस से करीब 10 किलोमीटर दूर आगरा रोड पर मुख्य सड़क से दो किलोमीटर अंदर, बाजरे और धान के खेतों के बाद आता है वूलगढ़ी गांव। वही वूलगढ़ी गांव, जहां की दलित बेटी से दुष्कर्म के बाद पूरा देश गुस्से में है। यहां पहले दुष्कर्म जैसा संगीन अपराध हुआ और फिर इसका राजनीतिकरण शुरू हो गया।
articleRead

You can read up to 3 premium stories before you subscribe to Magzter GOLD

Log in, if you are already a subscriber

GoldLogo

Get unlimited access to thousands of curated premium stories, newspapers and 5,000+ magazines

READ THE ENTIRE ISSUE

October 05, 2020

MORE STORIES FROM ROKTHOK LEKHANIView All