स्वास्थ्य मंत्रालय की सटीक प्लानिंग

Uday India Hindi|February 16, 2020

स्वास्थ्य मंत्रालय की सटीक प्लानिंग
स्वास्थ्य मंत्रालय की सटीक प्लानिंग
नीलाभ कृष्ण

भारत में राजनीति के खेल ही निराले हैं। जिन मुद्दों पर पूरे देश को एक साथ खड़ा होना चाहिए, लोग उसमें भी राजनीति ढूंढ लेते हैं। अब मामला कोरोना वायरस का ही ले लें। चीन में कोरोना वायरस के कहर से मरने वालों की संख्या 2000 को पार कर गई है। अब तक 22 देशों में इसके संदिग्ध मामले सामाने आ चुके हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन पहले ही इसे इमर्जेंसी घोषित कर चुका है। भारत में भी अब तक इसके तीन मामले सामने आ चुके हैं। स्वास्थ्य अधिकारियों के लिए इसे फैलने से रोकना एक बड़ी चुनौती बन गई है। हालांकि, चीन इसे रोकने के लिए हर मुमकिन कोशिश कर रहा है। अब यहां यह भी जानना जरूरी है की कोरोना वायरस आखिर है क्या? कोरोना वायरस का संबंध वायरस के ऐसे परिवार से है, जिसके संक्रमण से जुकाम से लेकर सांस लेने में तकलीफ जैसी समस्या हो सकती है। इस वायरस को पहले कभी नहीं देखा गया है। इस वायरस का संक्रमण दिसंबर में चीन के वुहान में शुरू हुआ था। डब्लूएचओ के मुताबिक, बुखार, खांसी, सांस लेने में तकलीफ इसके लक्षण हैं। अब तक इस वायरस को फैलने से रोकने वाला कोई टीका नहीं बना है। इसके संक्रमण के फलस्वरूप बुखार, जुकाम, सांस लेने में तकलीफ, नाक बहना और गले में खराश जैसी समस्या उत्पन्न होती हैं। यह वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है। इसलिए इसे लेकर बहुत सावधानी बरती जा रही है। भारतीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना वायरस से बचने के लिए दिशानिर्देश जारी किए हैं। इनके मुताबिक, हाथों को साबुन से धोना चाहिए। अल्कोहल आधारित हैंड रब का इस्तेमाल भी किया जा सकता है। खांसते और छीकते समय नाक और मुंह रूमाल या टिश्यू पेपर से ढककर रखें। जिन व्यक्तियों में कोल्ड और फ्लू के लक्षण हों उनसे दूरी बनाकर रखें। अंडे और मांस के सेवन से बचें। जंगली जानवरों के संपर्क में आने से बचें।

जब इस महामारी से देश को जहां एकजुट हो के लड़ने की जरूरत हैं वहीं कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अपनी अपरिपक्वता का प्रदर्शन करते हुए एक ट्वीट किया जिसमें उन्होंने कहा कि देश के लोगों और अर्थव्यवस्था के लिए कोरोना वायरस एक बड़ा खतरा है। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि सरकार इस खतरे को गंभीरता से नहीं ले रही और वक्त पर कार्रवाई जरूरी है। जिसके जवाब में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने ट्वीट कर बताया कि सरकार ने कोरोना वायरस से निपटने और इसे लेकर देशभर में चल रही तैयारियों को मॉनिटर करने के लिए मंत्रियों के समूह का गठन किया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने मीडिया से बातचीत में बताया कि देशभर में कोरोना वायरस से निपटने के लिए किस तरह की तैयारियां चल रही हैं और अब तक देश में कितने मामले सामने आए हैं।

उन्होंने कहा, "भारत ने 17 जनवरी को ही कोरोना वायरस को संज्ञान में ले लिया था। विश्व स्वास्थ्य संगठन से पहले ही हमने यह घोषित कर दिया था कि आगे चलकर ये ग्लोबल इमरजेंसी बन सकती है। हमने सरकार में हर स्तर पर मंत्रालयों सचिवालयों और देश के मुख्य सचिवों के साथ मिलकर इसे मॉनिटर करना जारी रखा है। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हम राज्य सरकारों के स्वास्थ्य सचिवों के साथ संपर्क में हैं।"

articleRead

You can read up to 3 premium stories before you subscribe to Magzter GOLD

Log in, if you are already a subscriber

GoldLogo

Get unlimited access to thousands of curated premium stories and 5,000+ magazines

READ THE ENTIRE ISSUE

February 16, 2020