सिंधिया का दांव कमलनाथ का पेच
सिंधिया का दांव कमलनाथ का पेच
ज्योतिरादित्य सिंधिया के भाजपा प्रवेश और उनके खेमे के 22 विधायकों की पाला बदल की कोशिश से कमलनाथ सरकार संकट में

भोपाल में बस एक ही सवाल घुमड़ रहा है, कमलनाथ सरकार रहेगी या जाएगी? फिलहाल 26 मार्च तक विधानसभा का सत्र टल गया है। अब सबकी निगाहें सुप्रीम कोर्ट पर हैं। मध्य प्रदेश में होली और रंगपंचमी जबर्दस्त तरीके से मनाई जाती है। इन दो त्योहारों के बीच कांग्रेस और भाजपा ने रंग-गुलाल की जगह राजनैतिक दांव-पेंच की ऐसी पिचकारियां चलाईं कि राज्य में संवैधानिक संकट खड़ा हो गया और प्रमुख संस्थाओं में टकराव भी देखने को मिले। ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस से 18 साल का रिश्ता तोड़कर भाजपा का दामन थाम लिया तो 15 महीने की कमलनाथ सरकार लड़खड़ाने लगी। उनके खेमे के छह मंत्रियों समेत 22 विधायकों को बेंगलुरू पहुंचा दिया गया। वहीं से उन्होंने इस्तीफे भेजे। छह मंत्रियों को सरकार ने बर्खास्त कर दिया और विधानसभा अध्यक्ष नर्मदा प्रसाद प्रजापति ने उनका विधानसभा से इस्तीफा भी मंजूर कर लिया।

इस बीच राज्यपाल लालजी टंडन ने 16 मार्च को विधानसभा में शक्ति-परीक्षण का आदेश दिया। लेकिन राजनीति के अनुभवी खिलाड़ी 73 साल के कमलनाथ ने ऐसा दांव चला कि भाजपा के नेता लाठियां ही भांजते रह गए। विधानसभा अध्यक्ष ने राज्यपाल के अभिभाषण के बाद कोरोना वायरस के बहाने सदन की कार्यवाही 26 मार्च तक स्थगित कर दी। भाजपा के विधायक राजभवन में परेड करने के साथ सुप्रीम कोर्ट पहुंच गए। कांग्रेस भी पीछे नहीं रही, वह भी सुप्रीम कोर्ट चली गई। कहा यह भी जा रहा है कि सरकार के संपर्क में भाजपा के पांच विधायक हैं। ऐसे में लग रहा है खेल रोमांचक होने वाला है।

ठीक होली के दिन 10 मार्च को ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस से नाता तोड़ लिया। उस दिन ज्योतिरादित्य के पिता माधवराव सिंधिया की 75वीं जयंती भी थी। कहा जाता है कि ज्योतिरादित्य इस मौके पर ग्वालियर जाने वाले थे, लेकिन वे दिल्ली के लोधी होटल गए और भाजपा प्रवक्ता जफर इस्लाम से मिलकर चाय पर चर्चा की। इसके बाद दोनों नेता होटल से कौटिल्य मार्ग स्थित गुजरात भवन पहुंचे। वहां से केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की कार में बैठकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने 7, लोक कल्याण मार्ग पहुंचे। कुछ देर बाद ज्योतिरादित्य के कांग्रेस से इस्तीफे की खबर आई, फिर कांग्रेस ने उन्हें निष्कासित कर दिया।

articleRead

You can read upto 3 premium stories before you subscribe to Magzter GOLD

Log-in, if you are already a subscriber

GoldLogo

Get unlimited access to thousands of curated premium stories and 5,000+ magazines

READ THE ENTIRE ISSUE

April 06, 2020