टूटता भरोसा

Gambhir SamacharJune 16, 2020

टूटता भरोसा
आदमी अपने जीवन काल में किसी न किसी जानवर को पानी पिलाता ही है या किसी न किसी रूप में उसे खाना देता ही है. ऐसे में मनुष्य और इन जानवरों के बीच कम से कम एक भरोसे का रिश्ता तो रहा ही है. बेशक कोई व्यक्ति हाथी को अपने घर में नहीं पालता, लेकिन जब आदमी हाथी को छूता है तो दोनों के बीच एक भरोसा तो होता ही है कि दोनों में से कोई भी किसी को नुकसान नहीं पहुंचाएगा.
डॉ. सत्यवान सौरभ

देश में गजानन के स्वरूप की प्रतीक एक गर्भवती हथिनी को भोजन के रूप में पटाखे खिलाकर उसके पेट में पल रहे भ्रुण के साथ उसके जीवन को बेहद ही बेरहमी के साथ ध्वस्त करने की हयवदिारक घटना उसी देश में होती है, जहां पुण्य-प्रताप के लिए पक्षियों को दाना-पानी और चींटी को आटा खिलाया जाता है. गाय और कुत्तों को रसोई घर में बनी पहली रोटी खिलाई जाती है.

वर्तमान में केरल की ये घटना इंसान और जानवर के बीच के भरोसे के टूटने की घटना है. वर्तमान समय में एक तरफ पोस्ट ह्यूमन की बात की जा रही है तो वहीं दूसरी तरफ वैज्ञानिकों ने 29 अगस्त 2016 को इस बात की घोषणा कर दी कि हमारी धरती होलोसिन युग से निकलकर एक नए एन्थ्रोपोसिन युग में प्रवेश कर चुकी है. पोस्ट ह्यूमन की अवधारणा दरअसल प्रकृति से संबंधित हरेक चीज यहाँ तक कि पत्थर को भी इंसान के बराबर मूल्यवान मानता है वहीं एन्थ्रोपोसिन युग मानव-प्रकृति संघर्ष से उत्पन्न असंतुलन का परिणाम है.

पिछले एक दशक में हाथियों की संख्या देश में 10 लाख से घटकर 27 हजार हो गई है,केरल में ही हर तीन से चार दिनों में एक हाथी की मौत हो जाती है.कई हाथी सर्कस में बंधक हैं. पूरे भारत में करीब 2 हजार से 2500 हाथियों को बंधक बनाकर रखा गया है. और करीब 1800 हाथी मंदिरों में बंधक हैं. केवल केरल में ही ऐसे 500 हाथी कैद में हैं. विकास के प्रति इंसानी लालच और बढती आबादी का दवाब मनुष्यों और पशुओं के मध्य टकराव की स्थिति उत्पन्न कर रहा है.कई अहम् प्रजातियों का अस्तित्व आज संकट में है.आपकी जानकारी के लिए बता दें कि तकरीबन 60 के दशक में ही ग्रेट इंडियन बस्टर्ड को भारत का राष्ट्रीय पक्षी घोषित करने की बात हो रही थी लेकिन हमारी अनदेखी की वजह से आज इनकी संख्या मात्र 200 रह गई है.

articleRead

You can read up to 3 premium stories before you subscribe to Magzter GOLD

Log in, if you are already a subscriber

GoldLogo

Get unlimited access to thousands of curated premium stories, newspapers and 5,000+ magazines

READ THE ENTIRE ISSUE

June 16, 2020