योगी के रूप में भाजपा को मिला नया'युवा-हिन्दू हृदय सम्राट'
DASTAKTIMES|August 2020
योगी के रूप में भाजपा को मिला नया'युवा-हिन्दू हृदय सम्राट'
मुख्यमंत्री बनने के बाद यह आशंका व्यक्त की जा रही थी कि राजधर्म का निर्वहन करते उनके हिन्दुत्व की धार में कुछ कमी दिखाई देगी, लेकिन मुख्यमंत्री बनते ही उन्होंने विधानसभा में यह कहकर लोगों को चौंका दिया कि वह ईद नहीं मनाते', लेकिन ईद मनाने वालों को पूरी सुरक्षा व सुविधा उपलब्ध करायी जाएगी। मुख्यमंत्री ने स्पष्ट कर दिया कि वह हिन्दुत्व के मुद्दे पर कोई समझौता नहीं करेंगे, लेकिन वह अपना राजधर्म भी निभाने में पीछे नहीं हटेंगे। श्री योगी ने आशानुसार मुख्यमंत्री बनने के बाद अपने हिन्दुत्व के एजेंडे को प्राथमिकता दी।
सुरेश बहादुर सिंह

लगभग तीन दशक बाद भाजपा को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के रूप में नया युवा हिन्दू हृदय सम्राट मिल गया है। प्रधानमंत्री की 'रामकाज कीन्हें बिना, मोहि कहा विश्राम की अवधारणा को नये युवा हृदय सम्राट ही अमली जामा पहनाएंगे। ऐसा नहीं है कि रातोंरात ही योगी आदित्यनाथ हिन्दू समुदाय में अपनी यह जगह बनाने में सफल हुए हैं । गोरक्ष पीठ के पीठाधीश्वर के रूप में भी उन्होंने हिन्दू समुदाय के उत्थान के लिए अथक प्रयास किया है, हालांकि उनका यह प्रयास उस समय पूर्वांचल व उसके आसपास के जिलों तक सीमित था, लेकिन मुख्यमंत्री बनने के बाद उन्होंने प्रदेश व देश में हिन्दू समुदाय को एकजुट करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई, जिसका लाभ भाजपा को 2019 के लोकसभा चुनाव में मिला था।

मुख्यमंत्री बनने के बाद यह आशंका व्यक्त की जा रही थी कि राजधर्म का निर्वहन करते उनके हिन्दुत्व कीधार में कुछ कमी दिखाई देगी, लेकिन मुख्यमंत्री बनते ही उन्होंने विधानसभा में यह कहकर लोगों को चौंका दिया कि वह ईद नहीं मनाते', लेकिन ईद मनाने वालों को पूरी सुरक्षा व सुविधा उपलब्ध करायी जाएगी। मुख्यमंत्री ने स्पष्ट कर दिया कि वह हिन्दुत्व के मुद्दे पर कोई समझौता नहीं करेंगे, लेकिन वह अपना राजधर्म भी निभाने में पीछे नहीं हटेंगे।

articleRead

You can read up to 3 premium stories before you subscribe to Magzter GOLD

Log in, if you are already a subscriber

GoldLogo

Get unlimited access to thousands of curated premium stories, newspapers and 5,000+ magazines

READ THE ENTIRE ISSUE

August 2020