एक पिछड़ी जाति की लड़की की प्रेम कहानी का दुखद अंत
एक पिछड़ी जाति की लड़की की प्रेम कहानी का दुखद अंत
एक पिछड़ी जाति की लड़की की प्रेम कहानी का दुखद अंत
शैलेन्द्र सिंह

उत्तर प्रदेश का उन्नाव जिला रेप के लिए बदनाम हो गया हैं. लखनऊ और कानपुर जैसे बड़े शहरों के बीच बसा यह जिला माली और सामाजिक रूप से बेहद पिछड़ा है, जिस की वजह से यहां की सोच भी बेहद दकियानूसी है. अपने हक को ले कर आवाज उठाने वालों को खामोश करने का चलन उन्नाव की खासीयत बनता जा रहा है.

उन्नाव में पिछड़ी जाति की लड़की का दुखद अंत गांव में लड़कियों की प्रेम कहानी के दर्द को बताता है, जहां लड़के किशोरावस्था में बिना जातबिरादरी को देखे प्यार कर लेते हैं, प्यार कर लेने के बाद दोनों के जिस्मानी संबंध भी बन जाते हैं. ऐसे में जब लडकी शादी के लिए कहती हैं, तो जाति और धर्म की दीवार खड़ी हो जाती है.

आज भी गांव की शादियों में जाति और धर्म सब से प्रमुख हो जाता है. सब से बड़ी बात तो यह है कि लड़कियां नोटरी शपथपत्र को ही कोर्ट मैरिज मानने की गलती कर लेती हैं, जिस को पुलिस कभी शादी का प्रमाणपत्र मान कर लड़की की मदद नहीं करती है.

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से 60 किलोमीटर दूर उन्नाव जिले के हिंदूपुर गांव की रहने वाली नंदिनी ( बदला नाम ) पढ़ाई में बहुत अच्छी थी. वह 5 बहनों और 2 भाइयों में सबसे छोटी थी. गांव के बाहरी हिस्से में उस का मकान था.

नंदिनी का घर गांव के गरीब परिवारों में पिछड़ी जाति की विश्वकर्मा बिरादरी में आता था. कच्ची दीवारें और धान के पुआल से बना छप्पर था. उत्तर प्रदेश की अखिलेश सरकार द्वारा नंदिनी को मेधावी छात्रा के रूप में 12वीं जमात पास करने के बाद लैपटौप उपहार में दिया गया था.

गरीब परिवार होने के चलते नंदिनी का गांव के प्रधान के घर आनाजाना था. उसे प्रधान के जरीए सरकारी योजना का फायदा मिल जाता था. गांव में नंदिनी के घर से कुछ ही दूरी पर शिवम द्विवेदी का परिवार रहता था. वह नंदिनी से उम्र में 2 साल बड़ा था.

प्रेम, छल और गुनाह

नंदिनी और शिवम के बीच प्रेम संबंध बन गए. कुछ समय बाद दोनों ने शादी करने की योजना बनाई. शिवम ने 19 जनवरी, 2018 में नंदिनी के साथ नोटरी शपथपत्र के जरीए शादी कर ली. नंदिनी अब घर से दूर रायबरेली जिले में रहने लगी.

कुछ समय बाद नंदिनी ने सार्वजनिक रूप से शादी करने का दबाव बनाना शुरू किया, तो शिवम ने खुद को बचाने का काम शुरू कर दिया. नंदिनी और शिवम के बीच संबंधों की जानकारी गांव में भी इन के परिवारों वालों को होने लगी, तो शिवम के घर वालों ने उस की अलग शादी का दबाव बनाना शरू किया.

शिवम नंदिनी से बचने के लिए उस लगा, तो नंदिनी ने उस को से दूर जाने घेरने के उपाय शुरू कर दिए.

जब नंदिनी को लगा कि शिवम उस से दूर जाने की कोशिश कर रहा है, तो उस का प्रेम बदला लेने पर उतर आया.

articleRead

You can read upto 3 premium stories before you subscribe to Magzter GOLD

Log-in, if you are already a subscriber

GoldLogo

Get unlimited access to thousands of curated premium stories and 5,000+ magazines

READ THE ENTIRE ISSUE

January First 2020