शौहर की साजिश

Manohar Kahaniyan|May 2020

शौहर की साजिश
सउदी अरब में बैठा रियाज अली अपनी पत्नी नसरीन की हत्या करवा कर दूसरी शादी करना चाहता था. उस ने अपने मांबाप, भाई से हत्या करा भी दी, लेकिन दूसरी बार घर में नई बहू लाने का इच्छुक यह परिवार...
सुरेशचंद्र मिश्र

उस दिन मार्च 2020 की 6 तारीख थी. सुबह के 9 बज चुके थे. अड़गोड़वां गांव का रहने वाला सुरेंद्र प्रताप सिंह ओलावृष्टि से फसल को हुए नुकसान का आकलन करने अपने खेत पर पहुंचा. पहले उस ने गेहूं की बरबाद हुई फसल को देख कर माथा पीटा फिर अरहर के खेत पर पहुंचा. जब वह अरहर के खेत में घुसा तो उस के मुंह से चीख निकल गई.

खेत के अंदर एक महिला की सिर कटी लाश पड़ी थी. सिर विहीन लाश देख कर सुरेंद्र प्रताप नुकसान का आंकलन करना भूल गया. वह बदहवास हालत में गांव की ओर भागा. गांव पहुंच कर उस ने लोगों को लाश के बारे में जानकारी दी. 8-10 लोग उस के साथ खेत पर पहुंचे.

लाश की हालत देख कर सब की आंखें फटी रह गईं. गांव के चौकीदार जिमींदार को सिर विहीन महिला की लाश पाए जाने की खबर लगी तो वह भी वहां पहुंच गया. उस ने वहां मौजूद खेत मालिक सुरेंद्र प्रताप सिंह तथा अन्य लोगों से जानकारी हासिल की. उस ने सिर विहीन महिला की लाश को गौर से देखा, फिर कर्तव्य का पालन करते हुए सूचना देने थाना रूपईडीहा जा पहुंचा. जिस समय जिमींदार थाने पहुंचा उस वक्त सुबह के 11बज रहे थे. जिला बहराइच के थाना रूपईडीहा के प्रभारी निरीक्षक मनीष कुमार पांडेय थाने में ही मौजूद थे. पहरे पर तैनात सिपाही ने उन के कक्ष में आ कर खबर दी, 'सर अड़गोड़वां गांव का चौकीदार आया है. आप से मिलना चाहता हैं.'

ठीक है, उसे भेज दो मनीष कुमार पांडेय ने कहा, वह चौकीदार से परिचित थे.

जिमींदार ने थाना प्रभारी के कक्ष में पहुंच कर सलाम किया. पांडेय ने उसे गौर से देखा फिर पूछा, चौकीदार कोई खास बात है क्या साफसाफ बताओ.

हां, साहब, खास बात है, तभी भाग कर थाने आया हूं. हमारे गांव अड़गोड़वा में सुरेंद्र प्रताप सिंह के अरहर के खेत में एक महिला की सिर विहीन लाश पड़ी हैं. महिला हमारे गांव या आसपास के गांवों की नहीं है. भीड़ जुटी है, लेकिन कोई उसे पहचान नही पा रहा है.

articleRead

You can read up to 3 premium stories before you subscribe to Magzter GOLD

Log in, if you are already a subscriber

GoldLogo

Get unlimited access to thousands of curated premium stories and 5,000+ magazines

READ THE ENTIRE ISSUE

May 2020