Opinion Post - July 16 2016Add to Favorites

Get Opinion Post along with 5,000+ other magazines & newspapers

Try FREE for 7 days

bookLatest and past issues of 5,000+ magazines & newspapersphoneDigital Access. Cancel Anytime.

1 Year$99.99 $49.99 Save 50%

bookLatest and past issues of 5,000+ magazines & newspapersphoneDigital Access. Cancel Anytime.
(Or)

Get Opinion Post

Buy this issue $0.99

bookJuly 16 2016 issue phoneDigital Access.

Subscription plans are currently unavailable for this magazine. If you are a Magzter GOLD user, you can read all the back issues with your subscription. If you are not a Magzter GOLD user, you can purchase the back issues and read them.

Gift Opinion Post

  • Magazine Details
  • In this issue

Magazine Description

In this issue

कवर स्टोरी उत्तर प्रदेश पर अबकी बारी अति पिछड़े भारी है। इसमें लखनऊ से वरिष्ठ पत्रकार वीरेंद्र नाथ भट्ट की मुख्य स्टोरी ..अति पिछड़ों के जरिए टूटेगा यादवी राजनीति का तिलिस्म, स्वामी प्रसाद मौर्या से बातचीत ..प्रियंका को कमान मिले तो कांग्रेस में जान आ सकती है, अपनों के वार कैसे झेलेगी बसपा। बुंदेलखंड से संध्या द्विवेदी की स्टोरी ..किसानों को ही लील जाता है किसान का कर्ज, बूथ मंथन से जीत का अमृत निकालने में लगे अमित शाह, हरियाणा से ..पुलिस भर्ती या मौत की दौड़, उत्तराखंड से राजीव थपलियाल की रिपोर्ट ..जातिवाद क्षेत्रवाद की नई उलझन में भाजपा, प्राकृतिक आपदाओं का जायजा लेती रिपोर्ट ...आपदा का दंश। काठमांडू के करीबी गांव से उदयचंद्र सिंह की स्पेशल रिपोर्ट ..कुंग फू नन। सुनील वर्मा की रिपोर्ट ..हैदराबाद का टेरर कनेक्शन और आईबी के पूर्व डायरेक्टर पीसी हलधर से बातचीत। इस्लाम और वहाबियत के बीच मुसलमान शीर्षक से अपनी राय रखते अखलाक अहमद उस्मानी। पटना से प्रियदर्शी रंजन की रिपोर्ट ..छोटी पार्टी बड़ा विवाद.. और सड़क की जमीन पर महादलितों को मकान बनाने का पर्चा। वरिष्ठ पत्रकार प्रमोद जोशी की टिप्पणी ..बंदूक के जोर पर कश्मीर और पंजाब से ..दिल्ली से पंजाब आफत में आप। मध्य प्रदेश से वरिष्ठ पत्रकार डा. संतोष मानव की रिपोर्ट ..हाथ चाहे गौर का साथ और छत्तीसगढ़ से कमलेश पांडेय की रिपोर्ट ..यौन शोषण में फंसे आईजी। नार्थ ईस्ट से गुलाम चिश्ती की रिपोर्ट ...वृहत्तर नगालैंड पर फिर बवाल और अंतरराष्ट्रीय कालम में वरिष्ठ पत्रकार बनवारी का आलेख ..चीन हमारी बाधा क्यों है।

  • cancel anytimeCancel Anytime [ No Commitments ]
  • digital onlyDigital Only