India Today Hindi Magazine - June 19, 2024Add to Favorites

India Today Hindi Magazine - June 19, 2024Add to Favorites

Go Unlimited with Magzter GOLD

Read India Today Hindi along with 9,000+ other magazines & newspapers with just one subscription  View catalog

1 Month $9.99

1 Year$99.99 $49.99

$4/month

Save 50%
Hurry, Offer Ends in 13 Days
(OR)

Subscribe only to India Today Hindi

1 Year $35.99

Save 30%

1 Month $1.99

Buy this issue $0.99

Gift India Today Hindi

7-Day No Questions Asked Refund7-Day No Questions
Asked Refund Policy

 ⓘ

Digital Subscription.Instant Access.

Digital Subscription
Instant Access

Verified Secure Payment

Verified Secure
Payment

In this issue

Highlights of India Today Hindi 19th June 2024 issue:

Santulan Ka Sandesh
Indian voters grant Modi a historic third term, but without a majority and with the object lesson to rule by consensus

Mandate 2024: BJP
Jameeni Haqikat Samajhne ki Jarurat
Too much central control, voter and cadre apathy, arbitrary candidate selection, all conspired to give the party a humbling lesson at the hustings. The high command can ignore it at their own peril.

Mandate 2024: INDIA
Vipaksh Par Purn Viram Nahi
Bit by bit, the Opposition alliance has managed to slow down the BJP juggernaut, if not bring it to a halt. Now it plans to capitalise on those gains to attain its aim of edging Modi out entirely.

Mandate 2024: Uttar Pradesh
Milkar Nikali Bhagwa Ki Hawa
With the Opposition MVA stealing a march on the ruling Mahayuti in the Lok Sabha stakes, Maharashtra is all set for a take-no-prisoners contest in the assembly election a few months from now.

Mandate 2024: Odisha
Kaling Me Naya Raja
As the BJP prepares to assume Odisha’s reins, ending Naveen Patnaik’s 24-year reign, it needs to demonstrate how it plans to improve governance and accelerate development.

Mandate 2024: Andhra Pradesh
Thaske Ke Saath Thoki Taal
Back in the NDA fold, TDP supremo N. Chandrababu Naidu sweeps both the parliamentary and assembly elections. But with the state treasury running on empty, he will need the Centre to bail him out.

Mandate 2024: Bihar
Sau Baar Fana Hoke Sau Baar Khade Honge
Far from being written off, the canny JD (U) patriarch holds his ground in Bihar and wrests a key role for himself in determining the shape of national and state politics.


संतुलित सियासत का संदेश

देश के मतदाताओं ने नरेंद्र मोदी को ऐतिहासिक तीसरा कार्यकाल तो दिया मगर बिना बहुमत के और इस साफ सबक के साथ कि सबकी सहमति से राजकाज चलाएं

संतुलित सियासत का संदेश

10+ mins

केंद्रीय फंड के लिए अब तगड़ी सौदेबाजी

केंद्र सरकार की निर्भरता की वजह से भाजपा एन. चंद्रबाबू नायडू और नीतीश कुमार की अपने राज्यों के लिए विशेष दर्जे की मांग मान सकती है, इसके क्या हैं मायने

केंद्रीय फंड के लिए अब तगड़ी सौदेबाजी

3 mins

जमीनी हकीकत समझने की जरूरत

केंद्रीय स्तर पर कमान पूरी तरह अपने हाथ में रखना, मतदाताओं-कार्यकर्ताओं की उदासीनता और उम्मीदवारों के चयन मनमानी, इन सबने मिलकर भाजपा को तगड़ा सबक सिखाया

जमीनी हकीकत समझने की जरूरत

8 mins

विपक्ष पर पूर्ण विराम नहीं

विपक्षी गठबंधन भाजपा को सत्ता के करीब पहुंचने से भले रोक न पाया हो लेकिन धीरे-धीरे उसके रथ की गति धीमी करने में जरूर सफल रहा है. अब वह इस बढ़त का फायदा उठाने की योजना बना रहा और मोदी को मैदान से बाहर करने की उम्मीद कर रहा

विपक्ष पर पूर्ण विराम नहीं

9 mins

मिलकर निकाली भाजपा की हवा

लोकसभा चुनाव में अखिलेश यादव और राहुल गांधी के बीच aft मस्ट्री के चलते ही उत्तर प्रदेश में भाजपा गठबंधन पिछली बार की तुलना में करीब आधी सीटों पर सिमटा

मिलकर निकाली भाजपा की हवा

6 mins

सेमी-फाइनल में एमवीए की शान

महाराष्ट्र में अगले कुछ ही महीनों में विधानसभा चुनाव होने हैं. ऐसे में लोकसभा चुनावों में सत्तारूढ़ महायुति के खराब प्रदर्शन और विपक्षी एमवीए को मिली बढ़त के अर्थ सिर्फ आंकड़ों तक सीमित नहीं. इसमें बहुत कुछ छिपा हुआ

सेमी-फाइनल में एमवीए की शान

5 mins

कैसे रुका बंगाल में भाजपा का अभिषेक

कल्याणकारी योजनाओं, अभिषेक बनर्जी की चतुर रणनीति और ममता के करिश्मे ने तृणमूल को जीत दिलाई. बंगाल के लिए भाजपा की बहुचर्चित योजना हुई धराशायी

कैसे रुका बंगाल में भाजपा का अभिषेक

6 mins

सौ बार फना होके सौ बार खड़े होंगे

लोकसभा चुनाव से पहले नीतीश कुमार की सियासत के खत्म होने की पेशनगोई की जा रही थी लेकिन नतीजे आने के साथ ही वे किंगमेकर बन गए हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के तीसरे कार्यकाल में उनकी भूमिका खासी अहम होने जा रही

सौ बार फना होके सौ बार खड़े होंगे

6 mins

हाथ की बंधी मुट्ठी

कांग्रेस ने भाजपा के कब्जे वाली 10 में से न सिर्फ आधी सीटें जीतीं, बल्कि 2024 के आखिर में होने जा रहे विधानसभा चुनाव के लिए अपनी मजबूत चुनौती भी पेश की

हाथ की बंधी मुट्ठी

2 mins

जान फंसी यहां सांसत में

फिर से उभार पर आई कांग्रेस और कट्टरपंथियों की चुनौती के बीच आप का हाल हुआ बेहाल

जान फंसी यहां सांसत में

2 mins

मरु प्रदेश में पड़ी जनता की मार

जनता से जुड़े मुद्दों को दरकिनार करने और अपने कई अहम नेताओं को दरकिनार करने वाली भाजपा को राजस्थान ने दिया तगड़ा झटका. निकट भविष्य में पार्टी की प्रदेश इकाई के भीतर हालात और बिगड़ने के आसार

मरु प्रदेश में पड़ी जनता की मार

4 mins

ठसके के साथ ठोंकी ताल

फिर से एनडीए में आए टीडीपी सुप्रीमो एन. चंद्रबाबू नायडू ने लोकसभा और विधानसभा चुनाव में एकतरफा जीत हासिल की. पर खाली खजाने को देखते हुए राज्य को उबारने के लिए उन्हें केंद्र की मदद की सख्त दरकार

ठसके के साथ ठोंकी ताल

3 mins

ढह गया राव का किला

राज्य में सत्ता गंवाने के कुछ महीनों के बाद केसीआर की राष्ट्रीय स्तर पर उभरने की महत्वाकांक्षाएं भी पूरी तरह धराशायी हो गईं. बीआरएस प्रमुख और उनकी पार्टी के सामने अब 'अस्तित्व का संकट'

ढह गया राव का किला

2 mins

नहीं माने आदिवासी

क्या एसटी के लिए आरक्षित सभी पांच सीटों पर एनडीए की हार पूर्व सीएम के खिलाफ ईडी की कार्रवाई पर आदिवासियों की नाराजगी का संकेत है?

नहीं माने आदिवासी

2 mins

कलिंग में नया राजा

भाजपा नवीन पटनायक के 24 साल के राज पर विराम लगाकर ओडिशा की कमान संभालने जा रही है. लिहजा वक्त आ गया है यह देखने का कि शासन में सुधार और विकास की उसकी क्या योजना है

कलिंग में नया राजा

4 mins

फिर आया विरोधाभासी रुझान

कांग्रेस की कम सीटें, खास तौर पर वोक्कालिगा बहुल पुराने मैसूर क्षेत्र में शिवकुमार के लिए एक झटके की तरह आई हैं, जो सीएम पद के लिए मौके का इंतजार कर रहे हैं

फिर आया विरोधाभासी रुझान

4 mins

दक्षिण के किले में कोई दरार नहीं

द्रमुक के नेतृत्व वाले गठबंधन ने न तो भाजपा को घुसने दिया और न ही अन्नाद्रमुक के लिए जमीन छोड़ी. विधानसभा चुनाव में अभी दो साल बाकी ऐसे में केंद्र-राज्य टकराव और राजनैतिक ध्रुवीकरण की संभावना बढ़ी

दक्षिण के किले में कोई दरार नहीं

3 mins

जित देखो तित भगवा

2014 में दो सीटों से लेकर 2019 में एकमात्र छिंदवाड़ा और 2024 में पूरी तरह से हार, पार्टी में दलबदल और भाजपा के मोदी अभियान ने कांग्रेस के लिए विनाश का संकेत दिया

जित देखो तित भगवा

3 mins

पुराने किले में सब चकाचक

थोड़े से छिटकाव को छोड़ दें तो भाजपा ने गुजरात का अपना किला बरकरार रखा है. लेकिन मतदाताओं ने समर्थन का फासला घटाकर उन्हें चेतावनी जरूर दे दी

पुराने किले में सब चकाचक

2 mins

बाहरी हुए बाहर

कांग्रेस से कड़ी टक्कर की उम्मीद के बावजूद भाजपा को दबदबा बरकरार रखने में कैसे मदद मिली

बाहरी हुए बाहर

2 mins

फिर उभरी कांग्रेस

देश के पूर्वोत्तर इलाके का विकास करने के भाजपा के वादों के बावजूद लोकसभा चुनाव नतीजों से साफ है कि यह इलाका अब कांग्रेस को तरजीह देने लगा

फिर उभरी कांग्रेस

4 mins

केरल में खिला कमल

फिर से राहुल की लहर लेकिन केरल में आखिरकार भाजपा ने अपना झंडा गाड़ ही दिया

केरल में खिला कमल

2 mins

सड़कों के नए मेहमान

हाल के कुछेक सालों में हिंदुस्तान में अल्ट्रा-लग्जरी कारों का बाजार तेजी से बढ़ा है

सड़कों के नए मेहमान

2 mins

फीचर्स से भरपूर

महिंद्रा ने एक्सयूवी 300 कॉम्पैक्ट एसयूवी को नया रूप देकर एक्सयूवी 3एक्सओ के तौर पर लॉन्च किया

फीचर्स से भरपूर

3 mins

स्विफ्ट का नया अंदाज

नई मारुति सुजुकी स्विफ्ट नए लुक, अतिरिक्त फीचर्स और बिल्कुल नए पेट्रोल इंजन के साथ आई है

स्विफ्ट का नया अंदाज

2 mins

एक्सट्रीम राह पर

क्या हीरो के एक्सट्रीम परिवार के सबसे नए सदस्य में वह काबिलियत है जिससे उसे एक उपयुक्त सदस्य माना जा सके?

एक्सट्रीम राह पर

2 mins

Read all stories from India Today Hindi

India Today Hindi Magazine Description:

PublisherIndia Today Group

CategoryNews

LanguageHindi

FrequencyWeekly

India Today Hindi Magazine is a weekly Hindi-language magazine published by the India Today Group. The magazine covers a wide range of topics, including politics, business, economy, society, culture, and sports. It is known for its in-depth reporting, insightful analysis, and stunning photography.

India Today Hindi Magazine features a variety of content, including:

* Cover Story: The cover story of each issue of India Today Hindi Magazine is dedicated to a specific topic related to current affairs. The cover story is typically written by a leading expert in the field and provides readers with in-depth analysis and recommendations.
* Featured Articles: The featured articles in India Today Hindi Magazine cover a wide range of topics related to current affairs, including national and international news, government policies, economic trends, and social issues. The featured articles are written by experienced journalists and analysts and provide readers with valuable insights into current events.
* Editorials: The editorials in India Today Hindi Magazine provide readers with the magazine's perspective on important current events. The editorials are written by the magazine's editors and are known for their critical and independent analysis.
* Q&A: The Q&A section of India Today Hindi Magazine provides readers with the opportunity to ask questions about current affairs to the magazine's experts. The questions and answers are published in the magazine and provide readers with valuable insights into how to understand current events.

India Today Hindi Magazine is a valuable resource for anyone who wants to stay informed about the latest news and developments in India. It is also a great way to get in-depth analysis and commentary on current affairs.

  • cancel anytimeCancel Anytime [ No Commitments ]
  • digital onlyDigital Only
MAGZTER IN THE PRESS:View All